छत्तीसगढ़ में 7 दिन का राजकीय शोक, सादगी से मनाया जाएगा स्वतंत्रता दिवस, नहीं होंगे सांस्कृतिक आयोजन

छत्तीसगढ़ में 7 दिन का राजकीय शोक, सादगी से मनाया जाएगा स्वतंत्रता दिवस, नहीं होंगे सांस्कृतिक आयोजन

राज्यपाल बलरामजी दास टंडन के निधन के बाद छत्तीसगढ़ में 7 दिन का राजकीय शोक घोषित कर दिया गया है. राज्यपाल के निधन से राज्यभर में शोक की लहर है. अब प्रदेश भर में स्वतंत्रता दिवस का पर्व पूर्ण सादगी के साथ मनाया जाएगा. राज्य सरकार ने प्रदेश में 7 दिनों का राजकीय शोक घोषित कर दिया है.

तमाम रंगारंग कार्यक्रमों और अन्य आयोजन को तत्काल प्रभाव से रद्द कर दिया गया है. स्कूलों और दफ्तरों के अलावे पूरे प्रदेश में होने वाले स्वतंत्रता दिवस पर सारे सांस्कृतिक आयोजन अब रद्द कर दिये गये हैं.

राज्यपाल के निधन पर राजनेताओं में गहरा शोक, पीएम मोदी, बघेल, कौशिक, सिंहदेव, जोगी, महंत सहित सियासी दिग्गजों ने दी श्रद्धांजलि, राजभवन में अंतिम दर्शन के लिए जुटी भीड़

राज्यपाल के निधन पर राजनेताओं में गहरा शोक, पीएम मोदी, बघेल, कौशिक, सिंहदेव, जोगी, महंत सहित सियासी दिग्गजों ने दी श्रद्धांजलि

छत्तीसगढ़ राज्यपाल बलरामजी दास टंडन के निधन पर राजनेताओं ने गहरा शोक प्रकट किया है. भाजपा, कांग्रेस, जनता कांग्रेस, आप, बसपा सहित सभी सियासी दल के नेताओं राज्यपाल टंडन को श्रद्धांजलि दी है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल, नेता-प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक, पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी, पूर्व केन्द्रीय मंत्री चरण दास महंत, बसपा प्रदेश अध्यक्ष ओम प्रकाश वाजपेयी, आप राज्य संयोजक डॉ. संकेत ठाकुर, सीपीएम नेता धर्मराज महापात्रा, सीपीआई नेता सीआर बख्शी सहित सियासी दिग्गजों ने राज्यपाल के निधन पर गहरा दुःख प्रकट किया है.

एक निजी चैनल के सर्वे के मुताबिक छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश और राजस्थान में हो रही है कांग्रेस की वापसी ! CG में CM पद के लिए रमन ही पहली पसंद

एक निजी चैनल के सर्वे के मुताबिक छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश और राजस्थान में हो रही है कांग्रेस की वापसी ! CG  में CM पद के लिए रमन ही

आने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर एक निजी चैनल ने चुनावी सर्वे जारी किया है. इस सर्वे के मुताबिक छत्तीसगढ़ , मध्यप्रदेश और राजस्थान भाजपा की झोली से फिसलने वाले हैं, इन राज्यों में कांग्रेस की वापसी हो रही है. वहीं लोकसभा चुनावों में भाजपा को नुकसान होता नजर आ रहा है, लेकिन फिर भी भाजपा इन राज्यों में सबसे ज्यादा लोकसभा सीट जीतने में कामयाब रहेगी.

छत्तीसगढ़ में नजदीकी मुकाबला- सर्वे
किसे कितने वोट ?

बीजेपी- 39%
कांग्रेस- 40%
अन्य- 21 %

जंगल में इस तरह की खतरनाक ट्रेनिंग लेते हैं नक्सली, वीडियो हो रहा है वायरल…

naxali

दुश्मनों के दांत कैसे खट्टे करें या उन्हें मुहं तोड़ जवाब कैसे दें इसकी ट्रेनिंग लेते आपने सुरक्षाबलों को देखा होगा. आपने ये भी देखा होगा की कै कैसे जवानों को जंगलों में रहना सिखाया जाता है. जवान लंबे समय तक दुश्मनों से लोहा ले सकें इसकी भी कठिन ट्रेनिंग दी जाती है.

लेकिन इन दिनो जो वीडियो वायरल हुआ है,वो आपको हैरान तो नहीं करेगा,लेकिन ये सोचने में जरूर मजबूर कर देगा कि कैसे नक्सली अपने आप को सुरक्षाबलों को नुकसान पहुंचाने के लिए तैयार करते हैं. हालांकि लल्लूराम डॉट कॉम इस वीडियो की आधिकारिक पुष्टि नहीं करता है.

राज्यपाल बलरामजी दास टंडन की स्थिति नाजुक, अम्बेडकर अस्पताल में कराया गया भर्ती

राज्यपाल बलरामजी दास टंडन की स्थिति नाजुक, अम्बेडकर अस्पताल में कराया गया भर्ती

छत्तीसगढ़ के राज्यपाल बलरामजी दास टंडन की अचानक तबीयत बिगड़ गई है. उन्हें राजभवन के एम्बुलेंस से इलाज के लिए अम्बेडकर अस्पताल में भर्ती कराया गया है. जहां उनकी स्थिति नाजुक बताई जा रही है, लेकिन अस्पताल में उनके इलाज किए जाने का दावा किया जा रहा है. वहीं इस दौरान अस्पताल में करीब 50 से भी अधिक सुरक्षाकर्मी उनकी सुरक्षा में तैनात है.

स्वतंत्रता दिवस 2018 पुलिस पदक की घोषणा, 6 शहीद जवानों सहित 29 पुलिसकर्मी होंगे सम्मानित, रंगारग कार्यक्रम में बच्चे देंगें भव्य प्रस्तुती…

स्वतंत्रता दिवस 2018 पुलिस पदक की घोषणा, 6 शहीद जवानों सहित 29 पुलिसकर्मी होंगे सम्मानित, रंगारग कार्यक्रम में बच्चे देंगें भव्य

स्वतंत्रता दिवस की तैयारी शुरू हो गई है. इस बार भी 15 अगस्त को राज्य स्तरीय समारोह राजधानी के पुलिस परेड मैदान में ध्वजारोहण होगा. यहां मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ध्वजारोहण कर परेड की सलामी लेंगे. वे प्रदेश की जनता के नाम अपना संदेश भी पढ़ेंगे. इस दौरान प्रदेश भर के अलग-अलग स्थानों से आये छात्र-छात्राएं मनमोहक प्रस्तुती देंगे. बता दें कि ये सांस्कृतिक कार्यक्रम स्कूल शिक्षा विभाग के तत्वाधान में आयोजित की गई है.

अचानक जल स्तर बढ़ने से मचा हड़कंप, खेत में फंसे 60-70 मजदूर, उसके बाद ग्रामीणों ने उठाया यह कदम…

अचानक जल स्तर बढ़ने से मचा हड़कंप, खेत में फंसे 60-70 मजदूर, उसके बाद ग्रामीणों ने उठाया यह कदम…

महानदी में अचानक जलस्तर बढ़ जाने नदी के आस पास का क्षेत्र पानी में डूब गया है. इसी बीच जिले के चिंगरौद के बंजारी नाला में उफान आ गया. जिस समय नाला उफान पर था, उस समय खेत में काम कर रहे करीब 60-70 मजदूर खेत में फंस गये.

इन मजदूरों के खेत में फंसते ही हड़कंप मच गया. फिर आनन फानन में आस के मौजूद ग्रामीणों ने नाव और रस्सी की व्यवस्था की और उसकी मदद से खेत में फंसे सभी 60-70 मजदूरों को सकुशल बचा लिया. और फिर उन्हें सुरक्षित जगह भेज दिया. बढ़े जलस्तर के कारण पानी में फंसे इन मजदूरों ने सुरक्षित जगह पहुंचने के बाद राहत की सांस ली है.

युवती ने भाजपा नेता पर लगाया रेप का आरोप, फरार आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस…

युवती ने भाजपा नेता पर लगाया रेप का आरोप, फरार आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस…

जिले के कांसाबेल से रेप का सनसनीखेज मामला सामने आया है. जहां भाजपा समर्थित जनपद अध्यक्ष मोती लाल भगत के खिलाफ पुलिस थाने में रेप का मामला दर्ज किया गया है. यह रिपोर्ट एक युवती ने जनपद अध्यक्ष के खिलाफ दर्ज कराई है. शिकायत के बाद आरोपी फरार चल रहा है.

जानकारी के मुताबिक मामला कांसाबेल थाने का बताया जा रहा है. 48 वर्षीय मोती लाल भगत पहले से ही शादी-शुदा है. उसके बावजूद 19 वर्षीय युवती के साथ 2016 से उसका अवैध संबंध था. उस वक्त पीड़िता नाबालिग थी. उस दौरान आरोपी नाबालिग के साथ जबरन ओड़िशा के एक मंदिर में शादी कर ली थी. जिसके वह उसे अपनी पहली पत्नी के साथ अपने घर में रखता था.

छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस ने जारी किया पोस्टर, राहुल गांधी ने कांग्रेसी नेताओं को पढ़ाई “पप्पू की पाठशाला”!

छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस ने जारी किया पोस्टर, राहुल गांधी ने कांग्रेसी नेताओं को पढ़ाई “पप्पू की पाठशाला”!

छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आ रहें हैं, वैसे-वैसे सियासी पारा भी तेज होता जा रहा है. राजनीतिक पार्टियां एक दूसरे पर पोस्टर वार कर रहीं है. इसी बीच छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस ने एक पोस्टर जारी कर कांग्रेस के बयानों पर मजाक उड़ाया है. दरअसल हाल ही में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी छत्तीसगढ़ में कांग्रेस भवन का उद्घाटन करने रायपुर पहुंचे हुए थे.

राजधानी में ही सरकार के आदेश की निजी अस्पताल ने उड़ाई धज्जियां, बिल के लिए डेंगू पीड़िता का शव को देने से किया इंकार

राजधानी में ही सरकार के आदेश की निजी अस्पताल ने उड़ाई धज्जियां, बिल के लिए डेंगू पीड़िता का शव को देने से किया इंकार

प्रदेश में डेंगू से दर्जन भर से ज्यादा मौत हो चुकी है. मौतों के साथ ही डेंगू पीड़ित मरीजों की बढ़ती संख्या के बाद प्रदेश सरकार ने सभी अस्पतालों में निशुल्क ईलाज किए जाने का आदेश जारी किया गया था लेकिन सरकार के इस आदेश की धज्जियां राजधानी में ही उड़ाई जा रही है. भिलाई की एक युवती रजनी सुनानी की इलाज के दौरान रामकृष्ण केयर अस्पताल में मौत हो गई लेकिन अस्पताल प्रबंधन ने बिल का पूरा पैसा पटाए बगैर युवती का शव देने से इंकार कर दिया.