छात्रावास

छात्रावास की दीवार फांदकर परिसर में घुसे, बच्चों को डंडे से धमकाया

खम्हरिया के प्री मैट्रिक आदिवासी बालक छात्राास के बच्चे इन दिनों गांव के दो युवकों के कारनामे से सहमे हुए हैं। इसकी जानकारी छात्रावास अधीक्षक को होने के बाद भी अब तक एफआईआर दर्ज नहीं कराया गया है। छात्रावास के चौकीदार गिरवर सिंह ठाकुर ने 10 नवंबर को सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग को लिखित सूचना देते हुए अवगत कराया कि 4 नवंबर की शाम रात 9 बजे गांव के दो युवक छात्रावास की दीवार फांदकर परिसर में घुस गए और बच्चों को डर-धमका कर खिड़की पर डंडे से वार कर बच्चों को नींद से उठाने का प्रयास किया। बाद दोनों छात्रावास के अंदर जाकर बच्चों को शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताडि़त भी किया। इधर, सहायक आयुक्त न

छात्रावास की बालिकाओं को दान किया कम्प्यूटर

 छात्रावास की बालिकाओं को दान किया कम्प्यूटर

बुधवार को करतला विकासखंड के रामपुर स्थित बालिका छात्रावास को एमएलसी कम्प्यूटर संस्थान की संचालिका साधना शर्मा और उनके पति बीके शर्मा ने कम्प्यूटर दान किया। संस्था की ओर से कलेक्टर कक्ष में कलेक्टर मो कैसर अब्दुल हक से मुलाकात भी की। कलेक्टर मो कैसर अब्दुल हक ने एमएलसी कम्प्यूटर की संचालिका साधना शर्मा की ओर से गरीब बालिकाओं के भविष्य और तकनीकी शिक्षा के लिए किए गए प्रयास की सराहना की। साधना शर्मा ने बताया कि वह कोरबा जिले में शुरू से ही तकनीकी शिक्षा को बढ़ावा देने प्रयासरत है। वर्तमान में डिजिटल उपकरणों को शिक्षा के लिए उपयोगी बताते हुए उन्होंने कहा कि वह गरीब विद्यार्थियों की सेवा कर उन्हें