तेदमुंता बस्तर अभियान

नक्सलियों के चुनाव बहिष्कार को मुंहतोड़ जवाब, जवानों ने ग्रामीणों के साथ संयुक्त बैठक कर मतदान करने के लिए किया जागरुक

नक्सलियों के चुनाव बहिष्कार को मुंहतोड़ जवाब, जवानों ने ग्रामीणों के साथ संयुक्त बैठक कर मतदान करने के लिए किया जागरुक

नक्सल प्रभावित इलाकों में आए दिन माओवादी संगठन को खत्म करने के लिए जिला पुलिस ने तेदमुंता बस्तर अभियान चला रखा है. इसी अभियान के तहत शुक्रवार को जवानों ने ग्रामीणों के साथ संयुक्त बैठक किया. ग्राम आरगटा, बोदिगुड़ा, टेट्राई और आरगट्टा में बैठक कर ग्रामीणों के होने वाले चुनाव में मतदान करने की अपील किये. पुलिस महानिरीक्षक अभिषेक मीना, अतरिक्त पुलिस अधीक्षक शलभ सिन्हा के दिशा-निर्देशन में ग्रामीणों को बैठक के माध्यम से यह भी बताया जा रहा है कि, किसी भी प्रलोभन में आये बिना, अपने विवेक का प्रयोग करते हुए विकास के लिए मतदान करें.

तेदमुंता बस्तर अभियान, जवानों ने नक्सल इलाकों में बैठक कर शत प्रतिशत मतदान करने किया जागरुक

तेदमुंता बस्तर अभियान, जवानों ने नक्सल इलाकों में बैठक कर शत प्रतिशत मतदान करने किया जागरुक

सुकमा जिले में एसपी अभिषेक मीना, अतरिक्त पुलिस अधीक्षक शलभ सिन्हा के मार्गदर्शन में चलाये जा रहे नक्सल विरोधी तेदमुंता बस्तर अभियान के तहत आगामी विधानसभा चुनाव नक्सल हिंसा मुक्त एवं सुरक्षित रहे. इसके लिए ग्राम पेंटा में नक्सल प्रभावित ग्राम पेंटा, कोसागुड़ा एवं नागलगुण्डा के ग्रामीणों की संयुक्त बैठक ली. इन तीनो गांव से लगभग 600 से 700 ग्रामीण बैठक में शामिल हुए.