धान खरीदी

धान खरीदी कार्य में शिथिलता न बरतें: संभागायुक्त

धान खरीदी कार्य में शिथिलता न बरतें: संभागायुक्त

संभागायुक्त ने आज संभाग के सभी जिलों में धान खरीदी कार्य की समीक्षा की। उन्होंने इस कार्य में शिथिलता न बरतने की हिदायत देते हुए कहा कि धान खरीदी में गड़बड़ी होने पर संबंधित के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

समर्थन मूल्य पर धान खरीदी

छत्तीसगढ़ शासन खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति उपभोक्ता संरक्षण विभाग महानदी भवन अटल नगर रायपुर की अधिसूचना 1 सितम्बर 2018 के अनुसार राज्य में 1 नवम्बर 2018 से 31 जनवरी 2019 तक राज्य के किसानों से समर्थन मूल्य पर धान खरीदी की जा रही हैं। अत: जिले के सभी किसानों से अनुरोध किया गया है कि वे निर्धारित समयावधि में उपार्जित धान विक्रय के लिए अपने क्षेत्र के संबंधित धान खरीदी केन्द्रों से अपना टोकन प्राप्त कर लेवें। साथ ही कोचियों और बिचैलियों की ओर से निकटतम राज्यों से अवैध धान परिवहन की सूचना मिलने पर इन मोबाइल नम्बर पर जानकारी दे सकते हैं। इनमें अनुविभागीय अधिकारी राजस्व केएल सोरी 9425590137 (सुकमा एवं

छत्तीसगढ़ में धान खरीदी 1 नवम्बर से,तैयारीे पूरी

छत्तीसगढ़ के खाद्य और नागरिक आपूर्ति विभाग ने सहकारिता विभाग के साथ मिलकर समर्थन मूल्य पर धान और मक्का खरीदी की सभी तैयारी पूरी कर ली हैं। खाद्य विभाग की प्रमुख सचिव ऋचा शर्मा की अध्यक्षता में आज शाम यहां मंत्रालय (महानदी भवन) में आयोजित बैठक में इन तैयारी की विस्तृत समीक्षा की गई।

1 से शुरू होगी धान खरीदी, तैयारी पूरी

खैरागढ़ ब्लॉक में एक नवंबर से किसानों की धान खरीदे जाने की तैयारी पूरी कर ली गई है। खैरागढ़ जिला सहकारी बैंक के तहत आने वाले सात खरीदी केन्द्रों में इस बार अब तक पंजीकृत 10 हजार 139 किसान अपना धान बेच पाएंगे। खरीदी केन्द्रों में बारदाने सहित अन्य व्यवस्था बनाने अधिकारियों ने केन्द्रों की व्यवस्था देख आवश्यक दिशा-निर्देश दिए हैं। सहकारी बैंक के शाखा प्रबंधक राजेन्द्र सिंह ने बताया कि खरीदी केन्द्रों में किसानों के आने के दौरान धान रखने की व्यवस्था सहित बिजली, पानी, तराजू सुरक्षा की व्यवस्था बनाई गई है। समिति प्रबंधकों और सहायकों के साथ ऑपरेटरों को भी दिशा निर्देश दिए गए हैं।

समर्थन मूल्य पर धान खरीदी 1 नवम्बर से

समर्थन मूल्य पर धान खरीदी 1 नवम्बर से

कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आयोजित समय-सीमा की बैठक में निर्वाचन कार्य और सभी विभाग के कार्यो की समीक्षा की गई। कलेक्टर की अध्यक्षता में हुई बैठक में धान खरीदी केन्द्रों में समर्थन मूल्य पर 1 नवम्बर से शुरू होने वाले धान खरीदी के लिए की जा रही तैयारियों के बारे में अधिकारियों से चर्चा की। उन्होंने कहा कि नियत समय पर धान और मक्का उत्पादक सभी किसानों का पंजीयन सुनिश्चित कराएं। उप सचंालक कृषि ने बताया कि धान खरीदी के लिए नया पंजीयन हो रहा है और पुराने पंजीयन के कैरी फारवर्ड की कार्रवाई की जा रही है। बैठक में अपर कलेक्टर केके बेहार, जिला पंचायत सीईओ आरके खुटे, उप जिला निर्वाचन अधिकारी जेआर चौरसिया, संय

धान खरीदी के लिए उडऩदस्ता गठित

जिले के पड़ोसी राज्यों से कोचियों, व्यापारियों की ओर से धान उपार्जन केन्द्रों में विक्रय, अवैध संग्रहण और परिवहन की आशंका बनी रहती है। इसकी रोकथाम के लिए कलेक्टर डॉ. सीआर प्रसन्ना ने तीनों अनुभाग में उडऩदस्ता गठित किया है। इस दल की ओर से धान खरीदी अवधि के दौरान धान की आवक पर नियमित निगाह रखी जाएगी। साथ ही अनियमितता पाए जाने पर जब्ती कर कार्रवाई भी करेगा। इसकी साप्ताहिक जानकारी संबंधित अनुविभागीय अधिकारी राजस्व की ओर से कलेक्टोरेट में पेश की जाएगी।

समर्थन मूल्य पर 1 नवम्बर से 31 जनवरी तक की जाएगी धान खरीदी

प्रदेश के साथ-साथ जिले में खरीफ विपणन वर्ष 2018-19 में समर्थन मूल्य पर धान और मक्का के उपार्जन की नीति निर्धारित की गई है। भारत सरकार की ओर से खरीफ विपणन वर्ष 2018-19 के लिए औसत अच्छी किस्म (एफ.ए.क्यू.) के धान और मक्का निर्धारित समर्थन मूल्य पर उपार्जन किया जाना है। धान काॅमन 1750 रुपए प्रति क्विंटल, धान ग्रेड ए 1770 रुपए प्रति क्विंटल, मक्का 1700 रुपए प्रति क्विंटल में खरीदी की जाएगी। खरीफ विपणन वर्ष 2018-19 के दौरान समर्थन मूल्य योजनांतर्गत राज्य के किसानों से धान की नगद व लिकिंग में खरीदी 1 नवम्बर 2018 से 31 जनवरी 2019 तक और मक्का की खरीदी 1 नवम्बर 2018 से 31 मई 2019 तक की जावेगी।

धान खरीदी निगरानी समितियों का हुआ गठन

छग किसान कांग्रेस के जिला इकाई की ओर से धान खरीदी बारदाने की गुणवत्ता और बारदानों के वजन सहित समर्थन मूल्य पर धान खरीदी केन्द्रों में सतत निगरानी रखने के लिए जिला और केन्द्रावार समिति का गठन किया गया है। यह समितियां धान खरीदी केन्द्रों में किसानों को फसल का उचित मूल्यांकन और उचित मूल्य प्राप्त करने में सहयोग करेगी।

15 से शुरु होगी धान खरीदी

जिले में खरीफ विपणन वर्ष 2017-18 में किसानों से समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी 15 नवम्बर 2017 से 31 जनवरी 2018 तक की जाएगी। इसके लिए जिले में 54 सहकारी समितियों के अंतर्गत 86 धान उपार्जन केन्द्र बनाए गए है। शासन की ओर से कॉमन धान प्रति क्ंिवटल 1550 रुपए और ए गे्रड धान की कीमत प्रति क्ंिवटल 1590 रुपए निर्धारित की गई है।

कोरबा के 41 केंद्रों में होगी धान खरीदी

सोमवार को खरीफ विपणन वर्ष 2017-18 में 15 नवंबर से शुरू होने जा रहे समर्थन मूल्य पर धान खरीदी के संबंध में कलेक्टर ने अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने धान उपार्जन केन्द्रों में की गई व्यवस्थाओं की जानकारी ली। जिलाधीश मो. कैसर अब्दुल हक ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि धान उपार्जन केंद्रों में किसानों को अपना धान बेचने में किसी भी तरह की दिक्कत नहीं आनी चाहिए। केंद्रों में पर्याप्त व्यवस्थाएं बनाकर रखें। पीने का साफ पानी, एप्रोच मार्ग, छाया सुनिश्चित कर लें । इसके अलावा किसानों को समय पर टोकन उपलब्ध हो।
00 खरीदी केंद्रों पर कैसी हो व्यवस्था :