पत्थलगढ़ी आंदोलन

पत्थलगढ़ी आंदोलन के विरोध में युवा आदिवासी समाज, एसटी आयोग और पुलिस की भूमिका पर उठाए सवाल

पत्थलगढ़ी आंदोलन के विरोध में युवा आदिवासी समाज, एसटी आयोग और पुलिस की भूमिका पर उठाए सवाल

पत्थलगुड़ी के समर्थन में अब तक का सबसे बड़ा प्रदर्शन कांकेर ज़िले में 29 मई से शुरु हो रहा है. जिसकी जानकारी देते हुए छत्तीसगढ़ युवा आदिवासी समाज के संरक्षक योगेश कुमार ठाकुर ने कहा है कि पुलिस अब तक राजनैतिक अवसरवादिता से प्रेरित होकर ही अपने कर्त्तव्य से आंख चुरा रही है. हमारे द्वारा बार-बार यह ध्यान दिलाया गया था कि छग में पत्थलगड़ी की शुरुआत साल 2016 में कांकेर ज़िले से ही हुई थी. इस भड़काऊ आंदोलन के नए दौर की रहनुमाई करने वाले विचाराधीन बंदी विजय कुजुर के सम्मान में बड़ी रैलियां कांकेर ज़िले में की गई थीं.और कई शासकीय कर्मियों को धमकाने का काम युवा समूहों ने किया है.