प्राकृतिक आपदा

प्राकृतिक आपदा से बचने के लिए सर्तकता जरूरी

प्राकृतिक आपदा से बचने के लिए सर्तकता जरूरी

कबीरधाम में प्राकृतिक आपदा से बचाव और राहत व्यवस्था के तहत आपदा नियंत्रण कक्ष स्थापना की गई है। बाढ़ नियंत्रण कक्ष का दूरभाष क्रमांक 07741-232609 है। बाढ़ नियंत्रण कक्ष 6 से 30 जून तक 24 घंटे कार्य करेगी। जिला प्रशासन की ओर से आगामी मानसून को ध्यान में रखते हुए बाढ़ से बचाव के लिए पूरी सतर्कता बरतने के सुझाव भी है। साथ ही वर्षा ऋमें जल से होने वाली जनजनित बीमारियों और संक्रामक रोगों से बचने और उनके रोकथाम के लिए अपील भी जारी किय गया है।

प्राकृतिक आपदा के प्रकरण में सहायता राशि मंजूर

प्राकृतिक आपदा के 1 प्रकरण में मृतक के वारिस के लिए राजस्व पुस्तक परिपत्र 6-4 के तहत 4 लाख रुपए की आर्थिक मदद कलेक्टर ने स्वीकृत की है। कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन के कार्यालय से जारी आदेश के अनुसार नवागढ़ तहसील के ग्राम कुरियारी की अमरिका बाई की तालाब में डूबने से मृत्यु के प्रकरण में यह सहायता राशि स्वीकृत की गई है।

प्राकृतिक आपदा के प्रकरण में सहायता राशि मंजूर

प्राकृतिक आपदा के 1 प्रकरण में मृतक के वारिस के लिए राजस्व पुस्तक परिपत्र 6-4 के तहत 4 लाख रुपए की आर्थिक मदद कलेक्टर ने स्वीकृत की है। कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन के कार्यालय से जारी आदेश के अनुसार नवागढ़ तहसील के ग्राम कुरियारी की अमरिका बाई की तालाब में डूबने से मृत्यु के प्रकरण में यह सहायता राशि स्वीकृत की गई है।

प्राकृतिक आपदा के प्रकरणों में सहायता स्वीकृति

कलेक्टर ने प्राकृतिक आपदा के दो प्रकरणों में मृतकों के परिजनों के लिए 8 लाख रूपए स्वीकृत किए है। ग्राम पोता की जलबाई की आकाशीय बिजली गिरने से और जांजगीर तहसील के ग्राम पिसौद के अनुज राम साहू की सर्पदंश से मृत्यु के प्रकरण में मृतकों के परिजनों के लिए चार-चार लाख रूपए की स्वीकृति मिली है।