Bijapur

Bijapur

उत्कृष्ट कार्य के लिए बीजापुर को मिला अवार्ड

उत्कृष्ट कार्य के लिए बीजापुर को मिला अवार्ड

केन्द्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान में उच्च प्राथमिकता वाले जिलों में उत्कृष्ट कार्य के लिए बीजापुर को एवार्ड मिला है। यह एवार्ड राजधानी रायपुर में हुए समारोह के दौरान स्वास्थ्य मंत्री अजय चंद्राकर ने दिया। जिले की ओर से डीपीएम डॉ. पुष्पेन्द्र राम ने मंत्री से प्रशस्ति पत्र व स्मृति चिह्न प्राप्त किया। समारोह में स्वास्थ्य सचिव सुब्रत साहू व स्वास्थ्य आयुक्त आर. प्रसन्ना मौजूद रहे। जिले को पुरस्कार मिलने पर कलेक्टर डॉ. अय्याज तंबोली ने स्वास्थ्य विभाग की टीम को बधाई दी है।

बच्चों को बताया गया गुड टच व बेड टच में फर्क

बच्चों को बताया गया गुड टच व बेड टच में फर्क

जिला मुख्यालय में संचालित शासकीय विद्यालय में बच्चों की देखरेख और संरक्षण अधिनियम के तहत किशोर न्याय और लैंगिक अपराध के संबंध में जानकारी दी गई। इस कार्यक्रम में बच्चों को गुड टच और बैड टच के फर्क को बताते हुए किसी भी अप्रिय स्थिति से सचेत रहने की सलाह दी गई।

रैन बसेरा में यात्रियों को मिलेगी रहने की सुविधा

रैन बसेरा में यात्रियों को मिलेगी रहने की सुविधा

नगर पालिका बीजापुर में दीन दयाल अंत्योदय योजना अंतर्गत सर्वसुविधायुक्त रैन बसेरा की सुविधा नए बस स्टैण्ड में उपलब्ध कराई गई है। कलेक्टर डॉ. अय्याज तम्बोली के निर्देश पर सीएमओ मोबिन अली ने रैन बसेरा को सुविधाओं से लैस कर सामान्य यात्रियों के लिए तैयार किया है। इस रैन बसेरा में गरीब, दिव्यांग, विधवा व नक्सल प्रभावितों के लिए मुफ्त रात्रि विश्राम की सुविधा रखी गई है।

प्रधानमंत्री में है महिलाओं के उत्थान की सोच : गागड़ा

नैमेड़ में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत नि:शुल्क गैस बांटने का कार्यक्रम मंगलवार को हुआ। कार्यक्रम में प्रदेश के विधि और विधायी कार्य मंत्री ने कहा कि, महिलाओं के उत्थान और विकास की सोच हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी में है, जिसके चलते उज्ज्वला गैस कनेक्शन योजना शुरू की गई है। इस योजना के शुरू होने से जहां महिलाओं के स्वास्थ्य की रक्षा हो रही है। वहीं उन्हें अपने घर परिवार की देखरेख करने के लिए भी समय मिल रहा है।

उप जेल में बंदियों ने ली स्वच्छता की शपथ

bijapur 18 2 edit.jpg

स्वच्छता पखवाड़ा के तहत् उप जेल बीजापुर में जेल के स्टाफ आफिसरों व परिरुद्ध बंदियों की ओर से मानव श्रृंखला बनाकर स्वच्छता ही सेवा की शपथ ली। इस अवसर पर जे.एल. मेश्राम उप जेल अधीक्षक और जेल स्टाफ मौजूद रहे।

उप जेल में बंदियों ने ली स्वच्छता की शपथ

bijapur 18 2 edit.jpg

स्वच्छता पखवाड़ा के तहत् उप जेल बीजापुर में जेल के स्टाफ आफिसरों व परिरुद्ध बंदियों की ओर से मानव श्रृंखला बनाकर स्वच्छता ही सेवा की शपथ ली। इस अवसर पर जे.एल. मेश्राम उप जेल अधीक्षक और जेल स्टाफ मौजूद रहे।

वन मंत्री ने नाला बंधान बनाकर किया श्रमदान

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्म दिवस तथा स्वच्छता पखवाड़ा के अंतर्गत प्रदेश के मंत्री श्रमदान कर रहे हैं। इसी क्रम में वनमंत्री महेश गागड़ा ने भैरमगढ़ से लगे 6 किमी दूरी पर स्थित भटवाड़ा गांव के नाले में बंधान श्रम दान किया। स्वच्छता ही सेवा के मद्देनजर जनसहयोग तथा अधिकारियों की मदद से 15 मीटर चौड़ी व 2 मीटर ऊंचे नाला बंधाने के कार्य को पूरा किया।

मंत्री गागड़ा ने दिया 257 घरों को डस्टबिन

bijapur 18 1 edit.jpg

स्वच्छ भारत मिशन के तहत् नगर को स्वच्छ रखने के लिए 5000 घरों में दोनों प्रकार के डस्टबिन वितरण की शुरुआत की गई। डस्टबिन वितरण कार्यक्रम की शुरुआत नगर पालिका बीजापुर के वार्ड क्रमांक 2 से हुई। जहां 257 घरों में वनमंत्री महेश गागड़ा ने डस्टबिन का वितरण किया।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रहे वन मंत्री महेश गागड़ा ने कहा नगर पालिका का प्रयास बहुत सराहनीय है कि उसने कम समय में अपने नगर को खुले में शौचमुक्त बनाया है तथा नगर की साफ-सफाई के लिए गिले व सुखे कचरों के लिए हरे व नीले डस्टबिन की व्यवस्था सभी घरों के लिए की है। यह डस्टबिन नगरवासियों को स्वच्छ बनाने में सहयोग करेगी।

सीआरपीएफ की बस ने जीप को मारी टक्कर, 7 घायल-2 गंभीर

CRPF

बीजापुर थाना क्षेत्र के धनोरा में शुक्रवार को सीआरपीएफ की बस और जीप मेें जोरदार टक्कर हो जाने से 9 लोग घायल हो गए। इनमें से 2 की हालत गंभीर बताई जा रही है। 7 घायलों का इलाज बीजापुर के जिला अस्पताल में तो वहीं 2 गंभीर लोगों को जगदलपुर रेफर कर दिया गया है। ये जानकारी पुलिस अधीक्षक केएल ध्रुव ने दी। उन्होंने बताया कि ये बस 230वीं वाहिनी सीआरपीएफ की थी, जो प्रशिक्षण कर चुके 20 जवानों को लेकर वापस आ रही थी।

शिक्षक के ट्रांसफर से नाराज छात्र बैठे धरने पर

wp-1502959537900..jpeg

पढ़ाई को लेकर अक्सर ही शिक्षकों पर उंगलियां उठाई जाती है लेकिन ऐसा बहुत ही कम मामला देखने में मिलता है जब किसी शिक्षक के लिए छात्र पढ़ाई छोड़कर हड़ताल पर बैठ गए हों। मामला कांकेर जिले के ग्राम पंचायत बारदा हायर सेकेंडरी स्कूल का है। जहां शिक्षक के स्थानांतरण से नाराज हो कर छात्र-छात्राएं स्कूल छोड़कर हड़ताल पर बैठ गए।