Bijapur

Bijapur

बीजापुर में 6 नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण

Naxsali sena

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में पुलिस विभाग की समन्वय बैठक के बाद गुरूवार को 6 नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया है। आत्मसमर्पित नक्सलियों ने नक्सली जीवन शैली से त्रस्त होकर और खोखली विचारधारा से क्षुब्ध होकर नक्सलवाद छोडऩे का फैसला किया है। उन्होंने छत्तीसगढ़ शासन के पुनर्वास नीति से प्रभावित होकर समाज के मुख्य धारा में जुडऩे के उद्देश्य से जिला कलेक्टर डॉ.अय्याज तंबोली, पुलिस अधीक्षक बीजापुर के.एल.ध्रुव, केन्द्रीय रिजर्व बल के कमांडेंट के समक्ष आत्मसमर्पण किया।

8 लाख की आर्थिक सहायता मंजूर

कलेक्टर डॉ. अय्याज तम्बोली ने मृतक स्व. सोनधर भास्कर पिता रामा भास्कर ग्राम बांगोली तहसील भैरमगढ़ जिसकी मृत्यु 31 अक्टूबर 2015 को नदी में डूबने से हुई मृत्यु पर उनके निकटतम वारिस पिता रामा भास्कर को 4 लाख रुपए व मृतक स्व. बोमलू पिता कुम्मा निवासी ग्राम टुण्डेर भैरमगढ़ जिसकी मृत्यु 16 सितम्बर 2016 को तालाब में डूबने से हुई मृत्यु पर उनके निकटतम वारिस रानू पिता स्व. बोमलू को 4 लाख रुपए की आर्थिक सहायता राशि जारी की गई है।

एकता स्व सहायता समूह से लोगों का बढ़ा आय

ekata samooh Bastar.jpg

एकता स्व सहायता समूह का गठन पुजारी पारा बीजापुर में 02 सितम्बर 2014 से संचालित किया गया जिसमें सदस्यों की संख्या 13 है। इनकी मासिक बचत राशि प्रति सदस्य 100 रूपये है। एकता समूह के सारे सदस्य सामान्य आर्थिक स्थिति के हैं। एकता समूह का पंजीयन राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन बीजापुर की ओर से किया गया है। एकता समूह की बचत राशि आज तक कुल 1 लाख 2 हजार रूपये है, जिसमें से 42 हजार रूपये सदस्यों के द्वारा मासिक जमा व दस हजार बीजापुर द्वारा आवर्ती निधी प्रदान की गई राशि तथा व्यवसाय से अर्जित आय 50 हजार रूपये है। यह सभी समूह के सदस्यों ने समूह में जुड़कर समूह बैठक में निर्णय लेते हुये अपने बचत राशि से कोई छोट

समूह के काम से चल रही इनकी गृहस्थी

Ekta Samoh Baster

एकता स्व सहायता समूह का गठन पुजारी पारा, बीजापुर में 02 सितम्बर 2014 से संचालित किया गया था, जिसमें सदस्यों की संख्या 13 है। इनकी मासिक बचत प्रति सदस्य 100 रुपए है। एकता समूह के सारे सदस्य सामान्य आर्थिक स्थिति के हैं। एकता समूह का पंजीयन राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन बीजापुर ने एकता के नाम से किया था । एकता समूह की बचत आज तक कुल 1 लाख 2 हजार रुपए है, जिसमें से 42 हजार रुपए सदस्यों के मासिक जमा व दस हजार रुपए बीजापुर द्वारा आवर्ती निधि प्रदान की गई है। तो वहीं व्यवसाय से अर्जित आय 50 हजार रुपए है। यह सभी समूह के सदस्यों ने समूह में जुड़कर समूह बैठक में निर्णय लेते हुये अपनी बचत राशि से कोई छोटे-

सर्प काटने से मृत्यु : आर्थिक सहायता राशि जारी

कलेक्टर डाॅ. अय्याज तंबोली ने सर्प के काटने से हुई मृत्यु प्रकरण पर आर्थिक सहायता राशि स्वीकृत की है। उन्होंने मृतक स्व. आत्रम रमेश पिता किष्टैया आत्रम निवासी ग्राम नलमपल्ली थाना तहसील भोपालपटनम जिला बीजापुर को 13 मई 2017 को सर्प काटने से हुई मृत्यु पर उनके निकटतम परिजन पिता श्री किष्टैया को 4 लाख की आर्थिक सहायता राशि स्वीकृत की है।

स्थानांतरण के लिए ऑनलाईन आवेदन 31 तक

छत्तीसगढ़ शासन सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा जारी स्थानांतरण नीति 2017 तहत् 11 जुलाई से 31 जुलाई तक स्थानांतरण पर लगे प्रतिबंध को शिथिल किया गया है। संचालक स्वास्थ्य सेवाओं के अधीन स्वास्थ्य विभाग में कार्यरत् समस्त नियमित अधिकारियों व कर्मचारियों के लिए ऑनलाईन स्थानांतरण के लिए प्रक्रिया निर्धारित की गई है। आवेदक विभागीय वेबसाईड में अपने एचआरएमआईएस आईडी से लॉगिन कर अपना प्रोफाईल अपडेट करने के पश्चात स्थानांतरण के लिए बनाये गये लिंक पर क्लिक करके ऑनलाईन आवेदन 18 जुलाई से 24 जुलाई के मध्य रात्रि तक ऑनलाईन आवेदन कर सकते है। यदि आवेदक को ऑनलाईन आवेदन करने में कोई समस्या या परेशानी आ रही हो तो वह

हरियर बीजापुर मे रोपे गये 5 हजार से ज्यादा पौधे

जिले में हरियर बीजापुर के अंतर्गत महावृक्षारोपण कार्यक्रम में 20 स्थानों पर 5 हजार 280 पौधे एक साथ रोपित किये गये। जिला मुख्यालय में व्यवहार न्यायालय के पं्रागण में वनमहोत्सव कार्यक्रम के तहत् 300 पौधों को रोपित किया गया जबकि मुरकिनार रेशम केन्द्र में 2 हजार अर्जुन के पौधे लगाये गये। कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष जमुना सकनी, नगर पालिका अध्यक्ष भगवती पुजारी, कलेक्टर डॉ अयाज तंबोली, एसपी के एल धु्रव, व्यवहार न्यायाधीश आर के सोम, डीएफओ गुरूनाथन एन, पूर्व नगरपलिका अध्यक्ष सुखलाल पुजारी सहित सभी विभाग के अधिकारी व कर्मचारी, मीडिया कर्मी व स्कूली बच्चे शामिल हुये।