Dantewada

CG-18, Dantewada

नक्सली नहीं बनने दे रहे हैं गरीबों के मकान

   नक्सली नहीं बनने दे रहे हैं गरीबों के मकान

दंतेवाड़ा के पास दर्जनों ऐसे गांव हैं, जहां सरकार ने तो काम करने के लिए बजट तक मंजूर कर दिया है, मगर काम इसलिए पूरा नहीं हो पा रहा, क्योंकि नक्सलियों ने उस काम के लिए स्वीकृति नहीं दी है। नक्सल प्रभावित इलाकों में प्रधानमंत्री आवास योजना का ऐसा ही हाल है। झोपडिय़ों में जिंदगी गुजार रहे ग्रामीणों के लिए पक्का मकान सपना है। इस योजना के तहत दंतेवाड़ा में 2600 मकान बनने हैं। इसमें अभी 437 का काम ही पूरा हुआ है। दंतेवाड़ा के 60 किमी के दायरे में दो संवेदनशील ब्लॉक के ऐसे पांच गांवों हैं इनमें से तीन गांवों में नक्सलियों ने स्वीकृत आवासों में आधे से कम को ही बनाने दिया है, प्रशासन चाहते हुए भी काम न

बस्तर के जंगलों में पाए जाने वाले कंद-मूल पर होगा शोध

 बस्तर के जंगलों में पाए जाने वाले कंद-मूल पर होगा शोध

बस्तर के जंगलों में पाए जाने वाले कंद-मूल और आदिवासियों ने अन्य जंगली भोज्य पदार्थों पर शोध होगा। इतना ही नहीं बस्तरिया बीयर सलफी पर भी कार्य किया जाएगा। प्राकृतिक रुप से पेड़ से निकलने वाले इस रस को अधिक समय तक प्रिजर्व करने पर कार्य होगा। इसके लिए वैज्ञानिकों ने रुचि दिखाई है। 14 नवंबर को दंतेवाड़ा में होने वाले आदिवासी उद्यमिता सम्मेलन के बाद जिला प्रशासन के साथ डिफेंस फूड रिसर्च लैब अनुबंध करेगा। जावंगा एजुकेशन सिटी में होने वाले वैश्विक उद्यमिता सम्मेलन में शामिल होने वाले देशी-विदेशी उद्यमियों के बीच बस्तर के आदिवासी उत्पाद का भी प्रदर्शन होगा। साथ ही यहां जैविक उत्पाद (धान, लघु धान्य),

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप की बेटी देखेगी आदिवासी उत्पाद

भारत में पहली बार हो रहे ग्लोबल इंटरप्रिन्योरशिप समिट में शामिल होने आ रही अमेरिकी राष्ट्रपति डोनॉल्ट ट्रंप की सलाहकार और बेटी इंवाका ट्रंप दंतेवाड़ा के आदिवासी उत्पादों को भी देखेगी। 14 नवंबर को दंतेवाड़ा में उद्यमियों का सम्मेलन होने वाला है। यूरोप से पहली बार उद्यमियों का सम्मलेन बाहर निकलकर आया है। भारत सरकार के आमंत्रण पर यह आठवां सम्मेलन देश के 22 स्थानों पर आयोजित हो रहा है। छत्तीसगढ़ में सम्मेलन 14 नवंबर को दंतेवाड़ा में होगा। इसमें देश-विदेश के उद्यमी शामिल होकर अपने उत्पाद का प्रदर्शन करेंगे। देश-विदेश के उत्पादों के बीच बस्तर के जैविक उत्पाद अपनी जगह सुनिश्चित करेंगे। पूरे कार्यक्रम

ढोलकल पहाड़ी पर गणेश प्रतिमा गिराने वाला नक्सली गिरफ्तार

जिले के फरसपाल स्थित ढोलकल पहाड़ी पर ऐतिहासिक गणेश प्रतिमा को गिराने वाले एक लाख के इनामी नक्सली लिंगूराम कुंजाम (40) को भांसी व फरसपाल पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। यह नक्सलियों के दंडकारण्य आदिवासी किसान मजदूर संगठन (डीएकेएमएस) का अध्यक्ष है। इस पर कामालूर आगजनी सहित आधा दर्जन बड़े नक्सली वारदातों में शामिल होने का आरोप है।

एक माह पहले गांव से ले गई फोर्स, नहीं लौटे दो ग्रामीण

सुकमा जिले के चिंतागुफा निवासी दो ग्रामीण एक माह से गायब हैं। उनकी तलाश में परिजन थाना-थाना भटक रहे हैं, लेकिन कहीं नहीं मिले तो अब कोर्ट के शरण में आए हैं। गुरूवार को दंतेवाड़ा न्यायालय में अपने अधिवक्ता और समाजसेवी सोनी सोढ़ी के साथ परिजन पहुंचे। गायब दोनों ग्रामीण के परिजन समाजसेवी सोनी के पास पहुंचे तो अधिवक्ता के माध्यम से न्यायालय में आवेदन दिया है।

बस्तर के गाँवों में बदल रहे मलेरिया के लक्षण

ठंड के साथ तेज बुखार हो तो मलेरिया का उपचार किया जाता है, लेकिन बस्तर में यह लक्षण बदल रहे हैं। शरीर में मलेरिया के पैरासाइट की मौजूदगी के बाद भी ठंड और बुखार जरुरी नहीं है। अब डायरिया और कुपोषण में भी मरीज मलेरिया पॉजीटिव होता है। शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. राजेश धुव ने वीएनएस से कहा कि, वातावरण और खानपान में हो रहे बदलाव से ऐसा संभव है। मलेरिया के लिए हाईरिस्क एरिया के रुप में पूरा बस्तर जाना जाता है। ग्रामीण क्षेत्र में बुखार पीडि़त 90 फीसदी मरीज मलेरिया पॉजीटिव होता हैं। मरीजों के रक्त में मच्छर प्लास्मोडियम पेल्सीफेरम और प्लास्मोडियम विवैक्स के पैरासाइट रहते हैं।

धर्म परिवर्तन के नाम पर दो समुदायों में विवाद

जिले के कुआकोंडा ब्लॉक के ग्राम मोखपाल-जरीपारा में रविवार शाम एक चर्च में आदिवासी और एक समुदाय विशेष के बीच विवाद हो गया। बताया जा रहा है कि, विवाद से आक्रोशित लोगों ने तोडफ़ोड़ और आगजनी की घटना को अंजाम दिया है। हालांकि दंतेवाड़ा पुलिस अधीक्षक कमलोचन कश्यप आगजनी और तोडफ़ोड़ जैसी घटना से इंकार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि, विवाद हुआ है। मामले की सूचना मिलते ही पुलिस बल मौके पर रवाना हुआ था। सोमवार सुबह एसडीओपी धीरेन्द्र पटेल और एसडीएम सुभाष राज घटना स्थल गए हैं। मामले की जांच की जा रही है।
00 तीन लोग घायल, स्थिति नियंत्रण में :

बिजली कर्मचारी को बचाने में गई सीआरपीएफ के जवान की जान

चिंगावरम इलाके में एक बिजली कर्मचारी को बचने के चक्कर में एक सीआरपीएफ जवान की मौत हो गई। बिजली का ये कर्मचारी काम के दौरान करेंट की चपेट में आ गया था। जवान ने फुर्ती से उसको वहां से हटाया मगर वो खुद को बचा नहीं सका, जिससे उसकी मौत हो गई।
00 कैसे हुआ हादसा :

धुर नक्सली इलाके में हुआ क्रिकेट टूर्नामेंट, सीआरपीएफ जवानों के साथ ग्रामीणों ने खेला टूर्नामेंट

धुर नक्सली इलाके में हुआ क्रिकेट टूर्नामेंट, सीआरपीएफ जवानों के साथ ग्रामीणों ने खेला टूर्नामेंट

वैसे तो दंतेवाड़ा अधिकतर नक्सली वारदातों के कारण लोगों के बीच चर्चा में रहता है, लेकिन यहां की कई विशेषताएं हैं, जो कम सुर्खियों में रहती है. जिले में प्रतिभाओं की कमी नहीं है. बस जरूरत है इन्हें निखारने और सामने लाने की. यहां के खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के लिए क्षेत्रीय क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन किया गया.

क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन

जिले के कटेकल्याण में सीआरपीएफ की 195वीं बटालियन के मिशन समावेश के तहत क्षेत्रीय क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन हुआ. इसमें खिलाड़ियों का उत्साह देखते ही बना. वहीं टूर्नामेंट को देखने के लिए कई गांवों से लोग आए.

सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़, आईईडी और भारी संख्या में नक्सली सामान जब्त

सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़, आईईडी और भारी संख्या में नक्सली सामान जब्त

नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा जिले में आज सुरक्षाबलों ने बड़ी कामयाबी हासिल की और नक्सलियों को भागने पर मजबूर कर दिया. दरअसल सीआरपीएफ, डीआरजी और एसटीएफ की संयुक्त टीम सर्चिंग अभियान पर निकली थी. जहां कटेकल्याण थाना इलाके के जियाकोरता और कोरमागोंदी के जंगलों में नक्सलियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ हुई.