Jagdalpur

CG-17, Jagdalpur

भाजपा सत्ता तो कांग्रेस सच के सामने झुकाती है सिर : राहुल

Rahul Gandhi

भारतीय जनता पार्टी के नेता और कार्यकर्ता सत्ता के सामने सिर झुकाते हैं जबकि कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता सच के सामने ही सर झुकाते हैं। भारतीय जनता पार्टी का चुनाव चिन्ह कमल है और वहीं खिलता है जहां कीचड़ होता है। कांग्रेस पार्टी का चुनाव चिन्ह हाथ का पंजा है जो कि सभी धर्मों में शामिल है। शुक्रवार को ये बातें कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गाँधी ने अपने बस्तर प्रवास के दौरान कही उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस का चुनाव चिन्ह सामाजिक एकता और समृद्ध राष्ट्र का प्रतीक है। हमारी सोच लोगों को जोडऩे वाली सोच है ना कि तोडऩे वाली। हमारी पार्टी प्रत्येक कार्यकर्ता का सम्मान करना जानती है इस समय आ

स्व.विजय साहू के अंतिम संस्कार में शामिल हुए मूणत

Rajnandgaon

छत्तीसगढ़ के लोक निर्माण मंत्री और जिले के प्रभारी मंत्री राजेश मूणत अम्बागढ़ चौकी में वरिष्ठ जनप्रतिनिधि स्व. विजय साहू के अंतिम संस्कार में शामिल हुए। उन्होंने मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह सहित पूरे मंत्रीमंडल और छत्तीसगढ़ की जनता की ओर से विजय साहू के निधन पर गहरी शोक संवदेना व्यक्त की। मूणत ने अम्बागढ़ चौकी स्व. साहू की अंतिम यात्रा में भी शामिल हुए और शिवनाथ नदी के तट पर स्थित मुक्तिधाम पहुंचकर शोकाकुल परिजनों को ढांढस बंधाया। प्रभारी मंत्री ने दिवंगत आत्मा की शांति तथा परिजनों को दुख सहने के लिए ईश्वर से प्रार्थना कीया। स्व.

बदलेगी ‘कोलेंग की तस्वीर, बहुत जल्द बनेगी सड़क : कलेक्टर

vns27.08.2017

बदलेगी ‘कोलेंग की तस्वीर, बहुत जल्द बनेगी सड़क । गुरुवार को ये बातें बस्तर कलेक्टर धनञ्जय देवांगन ने ग्राम कोलेंग में मौजूद लोगों से कही । उन्होंने बालक दियारो नाग द्वारा पढ़ने की इच्छा व्यक्त किये जाने पर दरभा आश्रम मे बालक को भर्ती कराए जाने के निर्देश दिए, अब दियारो 6वीं की पढ़ाई आश्रम मे करेगा।
इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक बस्तर आरिफ एच. शेख के अलावा सीईओ जिला पंचायत रितेश अग्रवाल, सहायक कलेक्टर राहुल देव, एसडीएम रावटे सीईओ दरभा कर एवं तहसीलदार शेखर मिश्र उपस्थित थे।

ऋषिकेश के गंगाजल से हुआ झाड़ेश्वर महादेव का जलाभिषेक

महादेव का जलाभिषेक

उत्तरांचल के ऋषिकेश के गंगाजल से सावन के दूसरे सोमवार को बस्तर और उड़ीसा के बार्डर पर देवड़ाधाम के नाम से मशहूर झाड़ेश्वर महादेव का जलाभिषेक हुआ। ऐसा डाक विभाग के विशेष सहयोग के माध्यम से ही संभव हो सका। ये जानकारी उप संभागीय निरीक्षक (डाक) विक्रम सिंह ने दी। उन्होंने बताया कि ग्राम देवड़ा में डाक विभाग ने एक शिविर लगाया था, जिसमें ऋषिकेश से संग्रहित पैक किया हुआ गंगाजल 35 रुपए प्रति बोतल की दर पर उपलब्ध कराया गया। इसको लेकर सभी भक्तों ने सोमवार को झाड़ेश्वर महादेव का जलाभिषेक किया। स्थानीय लोगों की अगर मानें तो झाड़ेश्वर महादेव स्वयंभू हैं, इनका आकार 4 फुट से ज्यादा है और ये हर साल 4 इंच बढ़

कृषक माहरू ने दलहन की जैविक खेती से बनाई अपनी पहचान

vns maharu

कृषि विभाग द्वारा संचालित एक्सटेंशन रिफॉर्म्स आत्मा योजना कृषकों के जीवन की दशा और दिशा परिवर्तन करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। इस योजना के सफल क्रियान्वयन से जिले के किसानों की मनोवृत्ति में परिवर्तन आया है। इससे अब क्षेत्र के कृषक कृषि के एक सीमित दायरे से निकलकर अन्य अपरम्परागत विशिष्ट किस्म के फसल लेने में भी उत्साह दिखा रहे हैं। ऐसे ही विकासखण्ड बास्तानार के ग्राम टंगियाझोड़ी के कृषक माहरू कश्यप ने दलहन की खेती कर अपनी पहचान बनाई है। उन्होंने वर्ष 2013-14 में कृषि विभाग की सहायता से शासकीय योजना से अनुदान प्राप्त कर डीजल पंप लेकर कृषि कार्य प्रारंभ किया, जिससे उसे अधिक आय प्राप्त हो

मतदाता सूची पुनरीक्षण कार्य का कमिश्नर ने किया निरीक्षण

vns Baster

कमिश्नर दिलीप वासनीकर ने मंगलवार को मतदाता सूची पुनरीक्षण के लिए चल रहे विशेष अभियान कार्य की समीक्षा की और कार्य को समय सीमा में पूर्ण करने के निर्देश दिए। बस्तर कमिश्नर एवं संभागीय प्रेक्षक श्री वासनीकर ने मतदाता सूची पुनरीक्षण कार्य के तहत चल रहे विशेष अभियान अंतर्गत जगदलपुर नगर निगम क्षेत्र में चल रहे कार्य की समीक्षा की। उन्होंने एक जुलाई से चल रहे मतदाता सूची पुनरीक्षण कार्य के तहत एक माह के विशेष अभियान के तहत भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशों का पालन करते हुए मतदाता सूची का पुनरीक्षण करने एवं कार्य को समय सीमा में पूर्ण करने के निर्देश दिए।

कलेक्टर धनंजय देवांगन ने किया शहर की स्कूलों का निरीक्षण

jagdalpur 22 1 edit.jpg

बस्तर कलेक्टर धनंजय देवांगन ने शनिवार को जगदलपुर स्थित बस्तर हाईस्कूल, महारानी लक्ष्मी बाई कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय और सदर प्राथमिक स्कूल का निरीक्षण किया। कलेक्टर ने यहां अलग-अलग कक्षाओं में पहुंचकर बच्चों से अंग्रेजी, संस्कृत, गणित, राजनीति शास्त्र, जीव विज्ञान से जुड़े सवाल पुछे। कलेक्टर ने यहां विद्यार्थियों के शैक्षणिक स्तर को निराशाजनक पाकर स्तर को दो माह के भीतर सुधारने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने शिक्षकों से स्पष्ट तौर पर कहा कि वे सिर्फ पढ़ाई की औपचारिकताएं पूरी न करें, बल्कि बच्चों को पढ़ाया जाए। उन्होंने कहा कि बच्चों को नियमित तौर पर गृहकार्य दें और बच्चों के स्तर का सुक्ष्मता

माँ सती के द्वार में सजा मेला

hareli news -1.jpg

अमावश्या हरियाली के मौके पर आज करकपाल स्थित रानमुंडा में जगत जननी माँ सती माता के मंदिर में विशेष पूजा अर्चना हुई।हजारों की भीड़ इस दौरान-माता के दर्शन को उमड़ पड़ी-मंदिर में हरियाली के शुभावसर पर मेले का भी आयोजन हुआ।प्रतिवर्ष यहाँ भव्य आराधना होती है।मंदिर के मुख्य पुजारी अखिलेश स्वर्णकार पर साक्षात् माँ सती सवार होती है, जिनके दर्शन के के लिए सैकड़ो भक्त उमड़ पड़ते हैं।मंदिर समिति द्वारा यहाँ भक्तों के लिये-भंडारे का आयोजन भी किया गया था।

मोंगरी मछली-बकरे की बलि से शुरु हुआ 75 दिवसीय बस्तर दशहरा

vns 23-07-2017

छत्तीसगढ़ के जगदलपुर में चलने वाला बस्तर का प्रसिद्ध दशहरा रविवार को मांगरी मछली व बकरे की बलि के साथ शुरु हुआ। यह बलि दंतेश्वरी मंदिर के समक्ष दी गई। ऐसी मान्यता है कि, पाटजात्रा पूजा की शुरुआत इस बलि के साथ होती है। इस पर्व की शुरुआत प्रतिवर्ष हरियाली अमावस्या के दिन पाटजात्रा पूजा विधान कर की जाती है।
बताया गया कि, इसमें 11 मोगरी मछली एवं एक बकरे की बलि दी गई। इसके साथ ही दशहरा में चलने वाले रथ का निर्माण शुरु किया गया। साथ ही पूजा के दौरान अण्डा, फल, फूल के साथ ही मिठाई आदि भी टूर्लू खोटला में चढ़ाया गया।

नेशनल लोक अदालत के सफल क्रियान्वयन के संबंध में तैयारियां शुरू

Tittel..

सितम्बर माह में प्रस्तावित नेशनल लोक अदालत के माध्यम से अधिक से अधिक प्रकरणों का निराकरण कर जनता तक त्वरित न्याय पहुंचाने के लिए तैयारियां प्रारंभ कर दी गई हैं। जिला न्यायाधीश एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण जगदलपुर के अध्यक्ष रामकुमार तिवारी के मार्गदर्शन में गत दिनों माह सितम्बर 2017 में होने वाले आगामी नेशनल लोक अदालत के सफल क्रियान्वयन के संबंध में अधिवक्ता संघ के लायब्रेरी कक्ष में न्यायाधीशगणों एवं विद्धान अधिवक्ताओं के मध्य बैठक आयोजित की गई। ज्ञात हो कि बस्तर जिला आदिवासी बहुल क्षेत्र है, जिसको देखते हुए न्यायाधीशों एवं अधिवक्ताओं द्वारा ऐसे गरीब एवं आदिवासी दूरस्थ क्षेत्र से आए हुए लोगो