Kanker

CG-19, Kanker

सुरक्षाबलों ने नक्सलियों की साजिश को किया नाकाम, मार्ग पर लगाए गए 3 प्रेशर कुकर बम को किया निष्क्रिय, बड़ा हादसा टला..

सुरक्षाबलों ने नक्सलियों की साजिश को किया नाकाम, मार्ग पर लगाए गए 3 प्रेशर कुकर बम को किया निष्क्रिय, बड़ा हादसा टला.

यहां सुरक्षाबलों को बड़ी सफलता हाथ लगी है. बताया जा रहा है कि बीएसएफ के जवानों ने तीन प्रेशर कुकर बम बरामद किया है, जो परतापुर से मोहला जाने वाले सड़क पर नक्सलियों द्वारा लगाया गया था.

सुरक्षाबलों ने इन तीनों कुकर बम को निष्क्रिय कर दिया है. जानकारी के मुताबिक जवान को ये जानकारी तब मिली जब पुलिस नक्सल विरोधी अभियान पर निकले हुए थे. इसी दौरान उन्हें ये जानकारी मिली की इस सड़क पर प्रेशर कुक बम लगाए हैं. जिसे उन्होंने मौका रहते ही डिफ्यूज कर दिया. बता दें कि जवान यदि इसे समय रहते निष्क्रय नहीं करते तो निश्चित ही बड़ा हादसा हो सकता था.

बस्तर में ‘नोटबंदी का जुल्म’ अब तक जारी है, यकीं नहीं तो ये खबर पढ़ लीजिये…

बस्तर में ‘नोटबंदी का जुल्म’ अब तक जारी है, यकीं नहीं तो ये खबर पढ़ लीजिये…

नोटबंदी के दिनों की लंबी-लंबी लाइनें तो ख़त्म हो गई है मगर बस्तर में ‘नोटबंदी का जुल्म’ अब तक जारी है. बीती रात नक्सलियों ने तीन ग्रामीणों को अगुवा कर जंगल ले गए. वहां नोटबंदी के दिनों में नक्सलियों के द्वारा ग्रामीणों को खपाने के लिए दिए पैसों का हिसाब माँगा.

हिसाब में एक ग्रामीण ने चूक की तो उसका गला रेतकर तड़पा-तड़पाकर मार डाला. मृतक ग्रामीण का नाम हीरालाल यादव बताया जा रहा है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक नक्सलियों ने दो ग्रामीणों को मार डाला है. किंतु पुलिस अधीक्षक कन्हैयालाल ध्रुव ने एक ग्रामीण की हत्या की पुष्टि की है.

किसान फसल बीमा के भुगतान से वंचित

जिले के कांकेर ग्राम पंचायत के 194 किसानों को प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत बीमे की राशि का भुगतान नहीं हुआ। उप संचालक कृषि विभाग ने इफ्को टोक्यो जनरल इंश्योरेन्स कंपनी लिमिटेड के प्रबंधक को पत्र के माध्यम से सूचित किया कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2017 के खरीफ में अधिसूचित ग्राम पंचायतवार जारी थ्रेसहोल्ड उपज मे चावल प्रति हेक्टेयर 153 रुपए किलोग्राम बागोडार में धान असिंचित है उसके अलावा खरीफ वर्ष 2017 मे उपज में हुई कमी के कारण फसल बीमा का दावा किया जिसका भुगतान उक्त किसानों को अभी तक नहीं मिल पाया है। उन्होंने प्रबंधक को बताया है कि किसानों को हुए नुकसान की पुनः गणना कर बीमा दावा

कैदियों को कराया जा रहा योगाभ्यास

  कैदियों को कराया जा रहा योगाभ्यास

आयुष विभाग की ओर से जेल के कैदियों का योगाभ्यास कराया गया। योगाभ्यास कार्यक्रम के दौरान जेल अधीक्षक एससी भार्गव, जिला चिकित्सक डॉ. वैभव भास्कर के साथ सभी जेल कर्मचारी मौजूद थे।

नोडल अधिकारी नियुक्त

कलेक्टर ने योजनाओं को गांव के पात्र हितग्राहियों तक पहुंचाने नोडल अधिकारी और सहायक नोडल अधिकारी नियुक्त कर दिए हैं । 14 अप्रैल से 5 मई के मध्य ग्राम स्वराज अभियान के संचालन किया गया था। जिसमें अभियान के अंतर्गत जिले के 1 हजार से अधिक जनसंख्या वाले 58 ग्रामों को 7 योजनाओं से लाभान्वित किये जाने जनपद पंचायत के सीईओ को सहायक नोडल अधिकारी बनाया गया है। प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, सौभाग्य प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना, उजाला योजना, प्रधानमंत्री जन-धन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, मिशन इन्द्रधनुष योजना अंतर्गत पूर्ण करने का लक्ष्य 15 अगस्त को रखा

जंगल में जवानों को मिली उडऩे वाली गिलहरी

जंगल में जवानों को मिली उडऩे वाली गिलहरी

छत्तीसगढ़ में कांकेर के कोसरोंडा जंगल में एसएसबी के जवानों को उडऩे वाली गिलहरी मिली है। 26 मई को गश्त पर निकले जवानों ने जंगल से इसे पकड़ा। कैंप लाकर इसकी जानकारी लेने के बाद उसे वापस जंगल में छोड़ दिया गया। इसकी कुल लंबाई 3 फीट थी। ग्रामीणों के अनुसार 50 साल पहले तक यह प्रजाति यहां बड़ी संख्या में पाई जाती थी, लेकिन अब इनकी संख्या तेजी से घट रही है। कांकेर में पाई जाने वाली उडऩ गिलहरी भारतीय विशाल उडऩ गिलहरी प्रजाति की है। इसे वैज्ञानिक भाषा में टेरोमायनी या पेटौरिस्टाइनी कहते हैं।

पत्थलगढ़ी आंदोलन के विरोध में युवा आदिवासी समाज, एसटी आयोग और पुलिस की भूमिका पर उठाए सवाल

पत्थलगढ़ी आंदोलन के विरोध में युवा आदिवासी समाज, एसटी आयोग और पुलिस की भूमिका पर उठाए सवाल

पत्थलगुड़ी के समर्थन में अब तक का सबसे बड़ा प्रदर्शन कांकेर ज़िले में 29 मई से शुरु हो रहा है. जिसकी जानकारी देते हुए छत्तीसगढ़ युवा आदिवासी समाज के संरक्षक योगेश कुमार ठाकुर ने कहा है कि पुलिस अब तक राजनैतिक अवसरवादिता से प्रेरित होकर ही अपने कर्त्तव्य से आंख चुरा रही है. हमारे द्वारा बार-बार यह ध्यान दिलाया गया था कि छग में पत्थलगड़ी की शुरुआत साल 2016 में कांकेर ज़िले से ही हुई थी. इस भड़काऊ आंदोलन के नए दौर की रहनुमाई करने वाले विचाराधीन बंदी विजय कुजुर के सम्मान में बड़ी रैलियां कांकेर ज़िले में की गई थीं.और कई शासकीय कर्मियों को धमकाने का काम युवा समूहों ने किया है.

दो मासूम बच्चों के सिर से उठा पिता का साया, माओवादी हमले में देश के लिए शहीद हुआ कांकेर का ये जवान

दो मासूम बच्चों के सिर से उठा पिता का साया, माओवादी हमले में देश के लिए शहीद हुआ कांकेर का ये जवान

दंतेवाड़ा में नक्सलियों द्वारा किए गए IED ब्लास्ट की चपेट में आने से कांकेर के रहने वाले प्रधान आरक्षक रामकुमार यादव भी शहीद हो गए। रामकुमार परिवार में अकेले कमाने वाले सदस्य थे। वहीं रामकुमार के शहीद होने से उनके दो मासूम बच्चों के सिर से पिता का साया उठ गया है।

कांकेर के झुनियापारा वार्ड में रहने वाले रामकुमार यादव साल 2005 में बतौर आरक्षक पुलिस में भर्ती हुए थे। जिसके बाद 2013 में प्रमोशन पाकर प्रधान आरक्षक बने थे। रामकुमार घर में कमाने वाले अकेले थे, उनके पिता शिवलाल यादव रिटायर्ड पीयून हैं। छोटा भाई भी है जो नौकरी की तलाश में है।

इस जवान का आज ही था जन्मदिन, पत्नी समेत 2 मासूम ‘हैप्पी बर्थडे’ कहने कर रहे थे इंतजार, शहादत के बाद आंसुओं से भीगा पूरा गांव…

इस जवान का आज ही था जन्मदिन, पत्नी समेत 2 मासूम ‘हैप्पी बर्थडे’ कहने कर रहे थे इंतजार, शहादत के बाद आंसुओं से भीगा पूरा गांव…

आज एक लाल फिर शहीद हो गया और छोड़ गया अपने दो प्यारे-प्यारे मासूम बच्चों को जो आज सुबह से बेहद खुश थे, कि पापा का आज जन्मदिन है. लेकिन किसे पता था कि आज ही लाल इन नक्सलियों की काली करतूत का शिकार हो जायगा.

भीषण गर्मी में पानी के लिए दबंग बरपा रहे लोगों पर कहर, शिकायत के बाद भी नहीं की जा रही कोई कार्रवाई…

भीषण गर्मी में पानी के लिए दबंग बरपा रहे लोगों पर कहर, शिकायत के बाद भी नहीं की जा रही कोई कार्रवाई…

इस भीषण गर्मी में पेय जल का संकट गहराता जा रहा है. ऐसे में कोयलीबेड़ा ब्लॉक के लोगों को इस जल संकट से जूझना पड़ रहा है. पूरे गांव में नल कनेक्शन के लिए पाइप लाइन बिछाया गया था. लेकिन इसका लाभ लोगों को नहीं मिल पा रहा है. वहीं शिकायत के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है.