Kanker

CG-19, Kanker

कलेक्टर ने संविधान की प्रस्तावना का कराया सामूहिक पठन

कलेक्टर ने संविधान की प्रस्तावना का कराया सामूहिक पठन

भारत के संविधान निर्माता डॉ. भीमराव अम्बेडकर के 125वीं जयंती पर कलेक्टर की ओर से अधिकारी कर्मचारियों को भारत के संविधान की प्रस्तावना का सामूहिक पठन कराया। देश का संविधान 26 नवम्बर 1949 को अधिकृत किया गया था, प्रस्तावना संविधान की आत्मा मानी जाती है। अधिकारी कर्मचारियों की ओर से हम भारत के लोग भारत को एक सम्पूर्ण प्रभुत्व संपन्न लोक तांत्रिक गणराज्य बनाने राष्ट्र की एकता अखंडता को बढ़ावा देने और भारत के सभी नागरिकों की प्रतिष्ठा, गरिमा बढ़ाने परस्पर कार्य करने आदि प्रस्तावना का पठन किया गया।

व्याख्याता पंचायत पदोन्नति होगी निरस्त

शिक्षक पंचायत संवर्ग के शिक्षकों की ओर से अनिश्चितकालीन हड़ताल में चले जाने से जिले की शैक्षणिक व्यवस्था में व्यवधान उत्पन्न हो रहा है। छात्र-छात्राओं के हित को ध्यान में रखते हुए कार्यालयीन आदेश के तहत व्याख्याता (पंचायत) के पदों पर पदोन्नति आदेश जारी किए गए हैं। यह जानकारी सोमवार को मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत ऋचा प्रकाश चौधरी ने दी। उन्होंने आगे कहा कि, पदोन्नत व्याख्याता (पंचायत) की ओर से अनिश्चितकालीन हड़ताल में सम्मिलित होने पर इनकी पदोन्नति आदेश निरस्त कर दी जाएगी। इन्हें आगामी पांच वर्षों तक कोई भी पदोन्नति का लाभ नहीं दिया जाएगा।

नि:शक्तजन वित्त, विकास निगम की अध्यक्ष ने किया निरीक्षण

छत्तीसगढ़ नि:शक्तजन वित्त और विकास निगम की अध्यक्ष और लेसमेंट अधिकारी ने कांकेर जिले के चारामा, बागोडार और अन्नपूर्णापारा के दिव्यांग विद्यालय का निरीक्षण किया। अध्यक्ष सरला जैन और प्लेसमेंट अधिकारी आर वाए तिवारी ने चारामा के चारामा के नि:शक्त विरेन्द्र तरार और भुनेश्वर साहू के ऋण के संबंध में जानकारी ली। उसके बाद कांकेर के दृष्टि और श्रवण बाधित विद्यालय में निरीक्षण कर बच्चों से मुलाकात की। इस दौरान विद्यार्थियों की ओर से संगीत के माध्यम से मनमोहक गीत प्रस्तुत किया गया। अध्यक्ष की ओर से बच्चों से भेंट कर उनका कुशलछेप जाना। उन्होंने शाला में दिए जाने वाले भोजन और शाला में शिक्षा संबंधी जानकारी

के पदोन्नति आदेश जारी

शिक्षक पंचायत से व्याख्याता पंचायत के पद पर वेतनमान रुपए 5300-150-8300 में पदोन्नति किया जाकर संस्थाओं में निर्धारित शर्तो के अधीन पदस्थापना आदेश जारी किया गया है। पदोन्नत पद पर उपस्थिति तिथि से व्याख्याता पंचायत का वेतनमान मिलेगा। शिक्षक पंचायत से व्याख्याता पंचायत के पद पर पदोन्नत कर्मियों के नाम और संस्था की जानकारी इस प्रकार है।
00 किसे कहाँ से किया गया किधर :

अस्पताल में सीसी टीवी कैमरे अनिवार्य रूप से लगाए : कलेक्टर

अस्पताल में सीसी टीवी कैमरे अनिवार्य रूप से लगाए : कलेक्टर

जिला कार्यालय के सभाकक्ष में मंगलवार को जीवन दीप समिति की बैठक कलेक्टर टामन सिंह सोनवानी की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। बैठक में कलेक्टर ने निर्देशित कर कहा कि जिला अस्पताल में सीसी टीव्ही कैमरा के विस्तार कार्य और इंटरकॉम टेलीफोन लगाए जाए। उन्होंने अस्पताल परिसर की साफ सफाई नियमित किए जाने के निर्देश दिए। अस्पताल की स्वच्छता पर विशेष ध्यान दिया जाए और सफाई कर्मियों की भर्ती किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अस्पताल की छत की मरम्मत और खिडखियों में जाली लगाए जाए।

सहायक शिक्षक पंचायत कांकेर से बालोद स्थानांतरित

मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत के आदेशानुसार सहायक शिक्षक पंचायत सरिता साहू का शासकीय प्राथमिक शाला कानापोड चारामा से जिला पंचायत बालोद स्थानांतरित किया गया है।
पहले में इनके की ओर से गंभीर बीमारी की वजह से स्थानांतरण के लिए आवेदन प्रस्तुत किया गया था, जिसमें जिला पंचायत की समान्य प्रशासन समिति की बैठक में अनुमोदन उपरांत जिला पंचायत से प्राप्त अनापत्ति प्रमाण पत्र के आधार पर भारमुक्त कर दिया गया है।

नक्सलियों ने की ग्रामीण की हत्या, फेंका पर्चा

नक्सलियों ने की ग्रामीण की हत्या, फेंका पर्चा

जिले में एक बार फिर नक्सलियों का काला चेहरा सामने आया है, मुखबिरी के शक में नक्सलियों ने एक ग्रामीण की हत्या कर दी. मृतक ग्रामीण का नाम अजीत पोद्दार है, घटना बीति रात की बताई जा रही है. बांदे थाना क्षेत्र के परलकोट विलेज 111 के रहने वाले अजीत के घर दो दर्जन से ज्यादा नक्सलियों ने हमला कर दिया और उन्हें घर से बाहर निकालकर बीच सड़क में गोली मारकर हत्या कर दी.

नक्सलियों ने की युवक की हत्या

कांकेर जिले के इरपानार में नक्सलियों ने युवक की गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस का मुखबिर होने का आरोप लगाकर नक्सलियों ने इस घटना को अंजाम दिया। बांदे थाना पुलिस मामले में कार्रवाई कर रही है।
बांदे थाना प्रभारी अमोल खलखो ने कहा कि, इरपानार में बुधवार देर रात नक्सलियों ने अजीत पोद्दार नामक युवक की गोली मारकर हत्या की है। युवक के सीने में गोली मारी गई है। घटना में कितने नक्सली शमिल थे इसका खुलासा नहीं हो सका है। नक्सली युवक पर पुलिस का मुखबिर होने का आरोप लगा रहे थे। फिलहाल युवक की लाश का पीएम कराया जा रहा है। थाना प्रभारी अमोल खलखो ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है।

नक्सली दहशत, गांव है पर रह नहीं सकते, खेत है पर बो नहीं सकते

नक्सली दहशत, गांव है पर रह नहीं सकते, खेत है पर बो नहीं सकते

गांव है, पर रह नहीं पाते, खेत है पर जोताई नहीं कर पाते, रिश्तेदार हैं पर उनके साथ रहकर दु:ख-सुख नहीं बांट पाते। यह हाल है अनिल, चंद्रूराम, रामप्रसाद, बंसीलाल जैसे सैकड़ों किसानों का जो नक्सली दहशत के चलते अपना गांव, घर-द्वार छोड़कर कई साल से दूसरे गांव में बसे हुए हैं। इनका इससे भी एक बड़ा दर्द यह है कि आज जब छत्तीसगढ़ सरकार धान बोनस बांट रही है, ऐसे में खेत होते हुए भी ये बोनस के लाभ से वंचित हैं। कारण, ये अपने खेत में फसल नहीं ले पा रहे हैं। अंतागढ़ विकासखंड के चिंगनार, कोसरोंडा जैसे अति संवेदनशील गांवों के कई किसानों को नक्सली दहशत के चलते अपना गांव और खेत छोडऩा पड़ा। 1997 के दशक में जब नक्

कांकेर पुलिस पहाड़ पर बसे गांवों तक बनाएगी सड़क

कांकेर पुलिस इन दिनों जिले के पिछड़े हुए गांवों में काम कर रही है। यह पहला प्रयोग है जिसके तहत कांकेर पुलिस ने एक गांव गोद लिया है। जो पहाड़ी के ऊपर स्थित है, जहां पर यदि कोई आपात स्थिति निर्मित हो जाए तो शहर तक आने में ही दिनभर लग जाते हैं। ऐसे हालात से बचने के लिए ही पुलिस ने मोर मितान कांकेर अभियान शुरु किया है। कांकेर पुलिस की ओर से किया जा रहा यह प्रयोग प्रदेश में अपनी तरह का अनूठा प्रयोग है।
00 10 नवम्बर से शुरू होगा काम :