Narayanpur

Narayanpur

संसदीय सचिव क्षत्री ने ध्वजारोहण कर ली परेड की सलामी

Narayanpur Indpendence Day

स्वतंत्रता दिवस की 70वीं वर्षगांठ पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। स्वतंत्रता दिवस का मुख्य समारोह स्थानीय बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय खेल मैदान में सुबह 9 बजे से शुरू हुआ। स्वतंत्रता दिवस समारोह के मुख्य अतिथि संसदीय सचिव राजू सिंह क्षत्री ने ध्वजारोहण कर परेड की सलामी ली। इसके साथ ही परेड में शामिल सशस्त्र बलों ने तीन बार हर्ष फायर कर राष्ट्रीय धुन के बाद राष्ट्रपति की जयघोष किया।

पुलिस टीम ने दिया स्वच्छता का संदेश

Swakchata

जिला पुलिस बल, नारायणपुर के अधिकारी और कर्मचारियों ने शनिवार को श्रमदान कर स्वच्छता का संदेश दिया। पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह के मार्ग-निर्देशन में नारायणपुर नगर को स्वच्छ रखने की दिशा में यह प्रयास किया गया।

शिक्षक और बच्चों को मिली यातायात के नियमों की जानकारी

Dsp

रामकृष्ण आश्रम नारायणपुर में आज यातायात पुलिस ने शिक्षकों, विद्यार्थियों और आश्रम के लोगों को जागरूक किया । सभी को यातायात के नियमों को पाठ पढ़ाया गया। सड़क दुर्घटनाओं को रोकने और नियमों का पालन करने लिए सभी से अपील की गई। हेलमेट अनिवार्य रूप से लगाने के लिए प्रेरित किया गया।

शिक्षक और बच्चों को मिली यातायात के नियमों की जानकारी

Dsp

रामकृष्ण आश्रम नारायणपुर में आज यातायात पुलिस ने शिक्षकों, विद्यार्थियों और आश्रम के लोगों को जागरूक किया । सभी को यातायात के नियमों को पाठ पढ़ाया गया। सड़क दुर्घटनाओं को रोकने और नियमों का पालन करने लिए सभी से अपील की गई। हेलमेट अनिवार्य रूप से लगाने के लिए प्रेरित किया गया।

कमिश्नर और आईजी ने स्वास्थ्य शिविर का लिया जायजा

thumb-01

कमिश्नर बस्तर संभाग दिलीप वासनीकर और आईजी विवेकानंद सिन्हा ने अबूझमाड़ ईलाके के प्रवास के दौरान ओरछा साप्ताहिक बाजार में स्वास्थ्य शिविर का जायजा लिया तथा दूरस्थ इलाके के ग्रामीणों के स्वास्थ्य जांच सहित उन्हें उपलब्ध करायी जाने वाली औषधियों इत्यादि के बारे में जानकारी ली।
इस दौरान कमिश्नर और आईजी ने दूरस्थ ईलाके के ग्रामीणों भीमा, मासा, हेमबती, कोसे, बत्ते, हिड़मा, चमली, सताय इत्यादि से रूबरू भेंटकर उनकी समस्या-शिकायतें सुनी। वहीं इन ग्रामीणों से सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत् खाद्यान्न, चना, नमक, केरोसीन सहित पेंशन उपलब्धता के बारे में पूछा।

अबूझमाड़ में फिर से महकेगी देशी किस्मों के धान की खुशबू

0101

छत्तीसगढ़ के अबूझमाड़ में अब एक बार फिर देशी किस्म के धान की खुशबू आएगी। नारायणपुर में जैविक खेती को बढ़ावा देने के उद्देश्य से खरीफ 2017-18 में दुबराज, लोकटीमाछी, बादशाह भोग, जवाफूल, विष्णुभोग के अलावा सफरी, लुचई इत्यादि किस्मों का पैदावार लिया जा रहा है।
कृषि विभाग क्षेत्र के अंदरुनी ईलाके के सोनपुर, खड़कागांव, खोडग़ांव, कुकड़ाझोर, आमासरा कलस्टर के 502 किसानों के जरिये करीब 200 हेक्टेयर रकबा में धान की पैदावार ले रहा है। कृषि विभाग की ओर से संबंधित किसानों को नि:शुल्क बीज सहित जैविक खाद एवं कल्चर उपलब्ध कराया गया है। वहीं इन किसानों को जैविक खेती करने के लिए प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है।

जिला पुलिस बल, छसबल व आईटीबीपी ने किया पौधरोपण

vns narayanpur.jpg

हरियर छत्तीसगढ वृक्षारोपण`` महाअभियान के तहत 20 जुलाई को जिला नारायणपुर के जिला पुलिस बल, छसबल एवं आईटीबीपी द्वारा वृक्षारोपण महोत्सव के रूप में मनाया गया। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक कार्यालय नारायणपुर परिसर में संतोष सिंह पुलिस अधीक्षक नारायणपुर द्वारा सपरिवार वृक्षारोपण किये उनके साथ अनिल सोनी अति.

Three-tier Panchayat Election-2015: Meeting of District Election Officers

State Election Commissioner along with Senior Officials of State Government discussed about the arrangements for Panchayat elections and finalized the strategy for conducting independent, unbiased and peaceful elections. State Election Commissioner PC Dalai, Chief Secretary Vivek Dhand, Director General of Police AN Upadhyay, Additional Chief Secretary of Home Department NK Aswal reviewed the district-wise arrangements and gave necessary guidance and instructions on important aspects like voting, counting and security arrangements.

Government to establish blood banks in 13 districts within a month

Blood Bank

State government will establish blood banks in thirteen districts of the state within a month. State Health Minister Amar Agrawal has directed the health department officials in a review meeting to make all the necessary arrangements in this regard. The minister informed that the blood banks will be started in Jashpur, Narainpur, Bijapur, Kondagaon, Sukma, Balrampur, Surajpur, Janjgir-Champa, Mungeli, Bemetara, Balod, Gariaband and Baloda Bazaar districts within a month. It may be mentioned that the state health department is presently running blood banks in sixteen districts.

Green Revolution in Abujhmad: Achievement of female farmers

Tulsi Patel- a role model for farmers of Abujhmad

Farmer-welfare policies of State Government have begun to yield positive results even in the geographically difficult areas like tribal populated Abujhmad area of Chhattisgarh. Earlier Abujhbmad was infamous for the incidents of naxal violence, but now with implementation of various schemes under the leadership of Chief Minister Dr Raman Singh, the image of Abujhmad has transformed into positive. Now the laborious farmers of Abujhmad have begun to counter naxal violence with peaceful green revolution.