Sukma

Sukma

शिविर 23 को

छिन्दगढ़ विकासखण्ड के ग्राम पंचायत कोडरीपाल में 23 नवम्बर को जिला स्तरीय जन समस्या निवारण शिविर होगा। यह जानकारी मंगलवार को कलेक्टोरेट के जानकार सूत्रों ने दी।

युवा उत्सव 23 से

जिले में 23 नवम्बर को विकासखण्ड स्तर पर और 25 नवम्बर को जिला स्तर और 3-5 दिसम्बर को राज्य स्तरीय युवा उत्सव होगा। इस युवा उत्सव में विकासखण्ड और जिला स्तर पर कुल 16 विधाओं लोकनृत्य, लोकगीत, एकांकी, नाटक, तात्कालिक भाषण, शास्त्रीय नृत्य, भरतनाट्य, कथकली, ओडीसी तथा शास्त्रीय संगीत में तबला, सितार, हारमोनियम, गिटार, बांसुरी प्रतियोगिता होगी।

मुठभेड़ में दो ईनामी नक्सली ढ़ेर

सुकमा जिले में पुलिस और नक्सलियों में हुई मुठभेड़ में दो नक्सलियों को मार गिराया गया है। आज शुक्रवार दोपहर जिले के दोरनापाल में कोंटा के जंगलों में यह मुठभेड़ हुई है। नक्सलियों की ओर से हुई फायरिंग का पुलिस ने मुंहतोड़ जवाब दिया। इसमें दो नक्सलियों की मौत हो गई। बताया जा रहा है दोनों पर सरकार की ओर से 8-8 लाख रुपए का ईनाम था। पुलिस की टीम मौके पर मौजूद है।

कौशल रथ ग्राम भ्रमण के लिए हुआ रवाना

सुकमा जिले की चयनित 24 ग्राम पंचायतों में मिशन अन्त्योदय अन्तर्गत ग्राम समृद्धि तथा स्वच्छता पखवाड़ा चलाया जाएगा। इसके तहत 13-14 अक्टूबर को कौशल मेला होगा। इस संबंध में कौशल रथ भ्रमण करने के लिए निकला जाएगा । जिला पंचायत सुकमा कार्यालय से कौशल रथ को हरी झंडी दिखाकर चयनित 24 ग्राम पंचायतों में प्रसार-प्रचार के लिए रवाना किया गया।
यह कौशल रथ मुरतोंडा, नीलावरम, रामपुरम, सोनाकुकानार, नागारास, गादीरास, जीरमपाल, कोंडरे, बोड़को,कोर्रा, डोडपाल, चिंगावरम, मारोकी, मानकापाल, गोंगला, झापरा, भेलवापाल, कोकरपाल, बुड़दी और रामाराम, केरलापाल, चिकपाल, कोयाबे कुरऔर फुलबगड़ी ग्राम का भ्रमण करेगा ।

सुकमा में किसानों को मिला बोनस

सुकमा में किसानों को मिला बोनस

सुकमा जिले की 12 समितियों के 3018 किसानों को 4 करोड़ 12 लाख 9 हजार रुपए बोनस दिया गया। जिला मुख्यालय स्थित मिनी स्टेडियम में गुरुवार को बोनस तिहार का कार्यक्रम हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि स्कूल शिक्षा मंत्री केदार कश्यप थे।

माओवादियों की खुफिया डायरी ने उगले कई राज, 90 माओवादियों की मौत का भी खुलासा

Maoist.jpg

यह साल नक्सलियों के लिए काफी नुकसानदायक रहा। नक्सली बैठक में हर साल नुकसान-फायदे का आंकड़ा रखते है। कुछ माह पूर्व गोलापल्ली इलाके में हुई मुठभेड़ के बाद साहित्य बरामद हुआ। जिसमें कही अहम जानकारी पुलिस के हाथ लगी। खासकर उसमें यह लिखा गया था कि इस साल जुलाई 16 से जुलाई 17 तक करीब 90 नक्सली मारे गए। साथ ही संगठन में भर्ती होने वालो में भी कमी आई। इधर खबर की पुष्टि करते हुए एसपी अभिषेक मीणा ने कहा कि नक्सलियों से बरामद साहित्य में यही जानकारी मिली है। उन्हे काफी नुकशान हुआ है। जिसका जिक्र साहित्य में है।

पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में 1 लाख रु का इनामी नक्सली ढेर, शव बरामद

पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में 1 लाख रु का इनामी नक्सली ढेर, शव बरामद

सुकमा के पोलमपल्ली में पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई है, जिसमें 1 लाख रुपए का इनामी नक्सली मारा गया. ये पुलिस की बड़ी सफलता मानी जा रही है.

पुलिस को बड़ी सफलता, 2 वर्दीधारी नक्सली ढेर

naxalite-arrested.jpg

पुलिस-नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में बड़ी सफलता मिली है. पुलिस ने यहां दो वर्दीधारी नक्सलियों को ढेर कर दिया है. बताया जा रहा है कि मुठभेड़ गोलापल्ली थाना इलाके के रसातोंग के जंगलों में हुई. डीआरजी की टीम के साथ नक्सलियों की मुठभेड़ हुई. नक्सलियों ने पुलिस पर फायरिंग की, लेकिन पुलिस ने 2 नक्सलियों को मार गिराया.
घटनास्थल से पुलिस को भरमार बंदूक, 12 बोर की बंदूक, पिट्ठू समेत भारी संख्या में नक्सली सामग्री बरामद हुई है. फिलहाल मारे गए दोनों नक्सलियों की शिनाख्त नहीं हुई है.

छात्रावास में एक और छात्र की मौत, बुखार से हुई मौत

IMG_6039.jpg

जिले में एक और छात्र की मौत हो गई। पोटाकेबिन में अध्ययनरत छात्र को दो दिन से बुखार आ रहा था। बेहतर इलाज के लिए जगदलपुर रिफर किया गया। रास्ते मे ही छात्र ने दम तोड़ दिया। पोटाकेबिन गादीरास में क्लास पहली का छात्र बंशी उम्र 5 साल पिता रामू सोनाकुकानार के राउत पारा निवासी है।

ये कैसी व्यवस्था, आदिवासी कन्या आश्रम है या फिर कोई गौशाला

wp-1503661325131.-300x168.jpeg

विगत दस वर्षो से संचालित हो रहा नवीन कन्या आश्रम में व्यवस्था ऐसी कि देखने वाले भी हैरान हो जाए। राज्य सरकार शिक्षा के नाम पर करोड़ो खर्च कर रहो, भले ही शिक्षामंत्री व्यवस्थाओं को लेकर बड़े-बड़े दावे कर रहे हो लेकिन हकीकत कुछ और ही है। इसी व्यवस्था ने एक बच्ची की जान ले ली। गुरूवार सुबह इस आश्रम में अध्यनरत कक्षा पांचवी की छात्रा वंजामी गंगी ने दम तोड़ दिया था। बताया जाता है कि उसे डायरिया हुआ था समय पर इलाज भी हुआ लेकिन ऐसा क्या हुआ कि एकाएक उस बच्ची की जान चली गई।