Sukma

Sukma

सुकमा कलेक्टर के वाहन चालक ने की आत्महत्या

छत्तीसगढ़ में विधानसभा मतगणना के दौरान सुकमा कलेक्टर के वाहन चालक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतक वाहन चालक का नाम कमल राम बघेल बताया जा रहा है। बघेल ने बुधवार की सुबह आत्महत्या की है।
मृतक की पत्नी ने पुलिस को बताया कि वह सुबह 6 बजे ड्यूटी पर जाने वाला था। उसने सुबह 4 बजे के करीब फांसी लगाया है। घर में उस वक्त उसकी पत्नी और बच्चे सो रहे थे।
घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच चुकी है और उन्होंने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। अभी आत्महत्या का कारण पता नहीं चल पाया है, लेकिन पुलिस अपनी जांच में जुट गई है।

गुरु घासीदास जयंती पर 18 दिसंबर को शराब दुकानें बंद रहेगी

कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी जिला सुकमा जय प्रकाश मौर्य ने छत्तीसगढ़ आबकारी अधिनियम के प्रावधनों के तहत् 18 दिसम्बर को गुरु घासीदास जयंती के अवसर पर संपूर्ण दिवस के लिए जिले की समस्त देशी विदेशी मदिरा दुकानें और एफ.एल. 7 अनुज्ञप्ति को मदिरा परोसना, विक्रय करना, धारण परिवहन पूर्णत: प्रतिबंधित करते हुए उक्त दिवस को शुष्क दिवस घोषित कर दिया गया हैं।

मतगणना दिवस पर 11 दिसंबर को बंद रहेगी शराब दुकानें

कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी जिला सुकमा जयप्रकाश मौर्य ने छत्तीसगढ़ आबकारी अधिनियम के प्रावधानों में प्रदत्त शक्तियों के तहत् विधानसभा आम चुनाव 2018 के लिए मतगणना 11 दिसंबर को जिले की सभी देशी विदेशी मदिरा दुकानें एवं एफएल 7 अनुज्ञप्ति को मदिरा परोसना, विक्रय करना, धारण परिवहन पूर्णत: प्रतिबंधित करते हुए उक्त दिवस को शुष्क दिवस घोषित कर दिया गया हैं।

8 नक्सली जनमिलिशिया सदस्य गिरफ्तार

8 नक्सली जनमिलिशिया सदस्य गिरफ्तार

सुकमा जिले के थाना किस्टाराम क्षेत्र के ग्राम पालोड़ी के जंगल से डीआरजी और एसटीएफ के संयुक्त बल ने 8 नक्सली जनमिलिशिया सदस्यों को गिरफ्तार किया है। बस्तर आईजी विवेकानंद सिन्हा ने बताया कि संयुक्त बल ने घेराबंदी कर सभी 8 नक्सलियों को गिरफ्तार किया है। आरोपी नक्सलियों को गिरफ्तार कर कल 5 दिसंबर को न्यायालय सुकमा के समक्ष पेश कर न्यायिक रिमांड पर जेल भेजा गया है।

खुद नक्सली प्रवक्ता बता रहे नक्सली उन्मूलन अभियान की सफलता, जानिए सालभर में मारे गए कितने नक्सली

खुद नक्सली प्रवक्ता बता रहे नक्सली उन्मूलन अभियान की सफलता, जानिए सालभर में मारे गए कितने नक्सली

प्रदेश में सक्रिय नक्सलियों के खिलाफ केंद्र और राज्य सरकार द्वारा चलाए जा रहे अभियान का असर सामने आ रहा है. एक वर्ष मे पुलिस नक्सली मुठभेड़ मे 65 नक्सली मारे गए हैं, वहीं नक्सलियो की केंद्रीय कमेटी के सदस्य अरविंद की बीमारी से मौत हुई. इसके अलावा दरभा डिविज़न मे हूए मुठभेड़ मे नक्सली कमांडर उद्धाम सिंह मारा गया. इनमें से अकेले कसानुर मुठभेड़ मे 40 नक्सली मारे गए थे.

राज्य स्तरीय बाल विज्ञान कांग्रेस के लिए छात्रों का चयन

राज्य स्तरीय बाल विज्ञान कांग्रेस के लिए छात्रों का चयन

छत्तीसगढ़ विज्ञान एवं प्रोद्यौगिकी परिषद् रायपुर के तत्वावधान में एवं कलेक्टर जय प्रकाश मौर्य के मार्गदर्शन एवं जिला शिक्षा अधिकारी राजेन्द्र सिंह राठौर के नेतृत्व में जिला बाल विज्ञान कांग्रेस सुकमा से छत्तीसगढ़ राज्य बाल विज्ञान कांग्रेस के लिए दो टीमों का चयन किया गया।

सुरक्षा बल-नक्सलियों के बीच मुठभेड़, 1 नक्सली ढेर

छत्तीसगढ़ के दन्तेवाड़ा-सुकमा सीमा पर डीआरजी, एसटीएफ और जिला बल की संयुक्त टुकड़ी की नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हो गई। इस मुठभेड़ में एक नक्सली के मारे जाने की खबर है। सुरक्षा बल के जवानों ने मारे गए नक्सली के शव को बरामद कर लिया है। इसके साथ ही 8 से 10 नक्सलियों को गोली लगने की खबर है। मारे गए नक्सली से सुरक्षा बल के जवानों ने एक एसएलआर राइफल, बरामद किया है।
सुकमा एसपी अभिषेक मीणा ने मुठभेड़ की पुष्टि की है। मीणा ने बताया कि मुठभेड़ अभी जारी है। जवान नक्सलियों के कई कैम्प को अब तक ध्वस्त कर चुके हैं और उनका पीछा करते हुए आगे बढ़ रहे हैं।

आईईडी के घेरे में डमी नक्सली, जवानों को उड़ाने का था षड्यंत्र, जवानों ने सूझबूझ से नक्सलियों के प्लान किया फेल …

आईईडी के घेरे में डमी नक्सली, जवानों को उड़ाने का था षड्यंत्र, जवानों ने सूझबूझ से नक्सलियों के प्लान किया फेल …

जवानों की सूझबूझ ने नक्सलियों के बड़े प्लान को फेल कर दिया है. नक्सली आज जवानों को फंसाने के लिए डमी नक्सली बनाकर झाड़ियों में छिपाकर रखे थे. और इसके आसपास आईईडी छिपाकर रख दिए थे. सीआरपीएफ के जवानों ने सतर्कता बरतते हुए नक्सलियों के प्लान को पहले ही भांप गई. मौके पर जवानों ने आईईडी डिफ्यूज कर डमी नक्सलियों को नष्ट कर दिया. इसकी पुष्टि सीआरपीएफ 150 वाहिनी के कमांडेंट धर्मेंद्र सिंह ने की है.

ऑपरेशन ‘प्रहार-4’ के बाद बौखलाए नक्सलियों ने किया आईईडी ब्लास्ट, डीआरजी का एक जवान घायल

ऑपरेशन ‘प्रहार-4’ के बाद बौखलाए नक्सलियों ने किया आईईडी ब्लास्ट, डीआरजी का एक जवान घायल

नक्सलियों के खिलाफ चलाए गए ऑपरेशन ‘प्रहार-4’ के तहत सुरक्षा बलों ने सोमवार को 9 नक्सिलयों को मार गिराया. जिसके बाद बौखलाए नक्सलियों ने मीनपा चिंतागुफा के जंगलों में आईईडी ब्लास्ट कर दिया, जिसमें डीआरजी का एक जवान घायल हो गया है. जिसे बेहतर इलाज के लिए जगदलपुर रेफर किया जा रहा है.

मिली जानकारी के मुताबिक यह घटना आज सुबह की है. चिंतागुफा थाना क्षेत्र के बुर्कापाल कैम्प से सर्चिंग पर निकले डीआरजी की टीम पर मीनपा चिंतागुफा के जंगलों में घात लगाए बैठे नक्सलियों ने आईईडी ब्लास्ट कर दिया. ब्लास्ट की चपेट में आने से एक डीआरजी का जवान माड़वी सुक्का घायल हो गया.

12 सौ जवानों ने चलाया ऑपरेशन प्रहार-4, जवानों ने 9 नक्सली को मुठभेड़ में मार गिराया, दो पर था 8 लाख का इनाम

12 सौ जवानों ने चलाया ऑपरेशन प्रहार-4, जवानों ने 9 नक्सली को मुठभेड़ में मार गिराया, दो पर था 8 लाख का इनाम

डीजी नक्सल ऑपरेशन डीएम अवस्थी ने प्रेस कान्फेंस कर आज नक्सली और जवानों के बीच हुई मुठभेड़ की जानकारी दी है. डीजी ने बताया कि 22 से 23 नवंबर को फोर्स रवाना हुई थी. बड़ा टारगेट के चलते इसे ऑपरेशन प्रहार चार का नाम दिया गया. ऑपरेशन प्रहार चार में डीआरजी, एसटीएफ समेत 1200 जवानों ने हिस्सा लिया.

संयुक्त फोर्स ने साकलेर के जंगलों में ऑपरेशन चलाया गया. जवानों और नक्सलियों के बीच डेढ़ घंटे तक मुठभेड़ चली. जवानों ने 9 माओवादियों के शव बरामद किए हैं. साथ ही बड़ी मात्रा में हथियार बरामद किए गए हैं, जिसमें कई माओवादियों के कमांडर भी शामिल है. दो डीआरजी के दो जवान शहीद हुए हैं.