Sukma

Sukma

कमान आईडी ब्लास्ट से तीन जवान घायल

Kaman Id Blast

जिले के फुलपगड़ी चौकी के परिया गाव के पास कमान आईडी ब्लास्ट होने से तीन जवान घायल हो गए जिसमे एक जवान को ज्यादा चोटे लगी है। तीनो को हेलीकॉप्टर से रायपुर भेजा गया।
पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक फुलपगड़ी से कल डीआरजी और एसटीएफ की संयुक्त पार्टी ऑपरेशन के लिए निकाली गई थी। सर्चिग कर जब पार्टी दोहपर को वापस लौट रही थी। तब परिया गांव के पास नक्सलियों ने कमान आईडी लगा रखी थी। जिसके चपेट में आते ही तीन जवान घायल हो गए। तत्काल जवानों ने भी मोर्चा ले लिए। घायल जवान मड़कम कल्ला, करतम रामा,बोड़ी कन्ना तीनो को केरलापाल लाया गया। जिसमे करतम रामा को गंभीर बताया जा रहा है।

जहा जवानों की हुई थी शहादत वहां लहराया तिरंगा

army

नक्सल मोर्चे पर तैनात जवानों ने भेज्जी के उस इलाके में स्वतंत्रता दिवस पर तिरंगा फहराया जहां नक्सली हमले में जवान शहीद हुए थे. भेज्जी और कोत्ताचेरु के बीच नक्सल मुठभेड़ में 12 जवान शहिद हुए थे. वही बुर्कापाल के पास 25 जवान शाहिद हुए थे. इन दोनों जगहों पर पुलिस द्वारा तिरंगा फहराया गया.

सुकमा में लाभचन्द बाफना ने किया ध्वजारोहण

Mishal Raily

सुकमा के मिनी स्टेडियम में 71 वां स्वतंत्रता दिवस मनाया गया। मुख्य अतिथि संसदीय सचिव लाभचन्द बाफना ने सुबह 9 बजे ध्वजारोहण किया। उन्होंने परेड का निरीक्षण किया और मार्च पास्ट की सलामी ली। परेड में जिला पुलिस बल, एसएएफ महिला पुलिस बल, सीआरपीएफ वन आरक्षक, स्काउट-गाईड दल और स्कूली बच्चे शामिल थे।

मुठभेड़ में 2 नक्सली ढ़ेर

nxcali dher

कमा जिले किस्टाराम इलाके में रविवार सुबह हुई मुठभेड़ में दो नक्सली मारे गए हैं। बस्तर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक विवेकानंद सिन्हा ने पत्रकारवार्ता में बताया कि, रविवार तड़के किस्टाराम में नक्सली -पुलिस मुठभेड़ में मारे गए दो नक्सलियों के कब्जे से दो हथियार बरामद हुए हैं।

सुकमा में नक्सलियों ने फूंकी मिक्सर मशीन

thumb2253

जिले के कोंटा थाना क्षेत्र के मुरलीगुड़ा गांव में बुधवारको सड़क निर्माण में लगी मिक्सर मशीन को नक्सलियों ने जला दिया। वारदात को अंजाम देकर वापस जाते समय उन लोगों ने वहां पर्चे भी फेंके। ये जानकारी आईजी बस्तर विवेकानंद सिन्हा ने दी। उन्होंने बताया कि बस्तर संभाग में सड़कों का जाल फैलाने के लिए बड़े पैमाने में निर्माण कार्य कराया जा रहा है। इन्हीं सड़कों के माध्यम से विकास उन पहुंच विहीन गांवों तक जाएगा। तो वहीं माओवादी इसको बिल्कुल भी नहीं चाहते। दूसरी ओर अपने साथियों के लगातार आत्मसमर्पण और सुरक्षाबलों के दबाव में आए नक्सलियों को अब उनका अस्तित्व ही समाप्त होता दिखाई दे रहा है। ऐसे में वो हताश

सुकमा में 11 नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण

11 Naxshali Aatm samarpan

बुधवार को नक्सलियों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान में सुरक्षाबलों को बड़ी सफलता उस वक्त हासिल हुई जब सुकमा में 11 नक्सलियों ने आत्मसमर्पण कर दिया। इनमें 1 से लेकर 10 लाख तक के इनामी नक्सली शामिल बताए जा रहे हैं। ये जानकारी आईजी बस्तर विवेकानंद सिन्हा ने दी। उन्होंने बताया कि 11 माओवादियों ने हिंसा का रास्ता छोड़कर समाज की मुख्यधारा से जुडऩे की राह चुनी। इनमें 8 लाख का ईनामी कुंजाम हड़मा भी शामिल बताया जा रहा है।
किस-किसने किया आत्मसमर्पण :

सुकमा में भारी मात्रा में विस्फोटक सामग्री बरामद, नक्सली भागे

Naxsli visfotak samagi

छत्तीसगढ़ के सुकमा में सोमवार को दोपहर भारी मात्रा में विस्फोटक सामाग्री बरामद हुई है। क्षेत्र में फोर्स की मौजूदगी की सूचना पर नक्सली सामाग्री छोड़कर भाग गए। गश्त पर निकली सुकमा जिला पुलिस बल और एसटीएफ की संयुक्त पार्टी को ग्राम खुंदूसपारा के जंगल में चाइनीज बम, देशी बम, ऐरो बम सहित अन्य सामाग्री मिली है।

प्राथमिक शाला के बच्चों को पढ़ाता है तीसरी कक्षा का छात्र

शिक्षा की गुणवत्ता को लेकर धत्ता बता रहे शिक्षा विभाग की असलियत ये है कि जिले के बडे गुरबे की प्राथमिक शाला में तीसरी का छात्र बसंत बच्चों को पढ़ाता है। इस शाला में कुल दस बच्चे पढ़ते हैं। यहां कोई भी अध्यापक पदस्थ नहीं है। यही हाल बोदारस पंचायत की माध्यमिक शाला बूटापारा का भी है। यहां भी कोई शिक्षक पदस्थ नहीं है। जब कि यहां वर्तमान में 8 बच्चे अध्ययनरत बताए जा रहे हैं। जिले में शिक्षा का हाल ये है कि कहीं चपरासी तो कहीं रसोइये के भरोसे पाठशालाएं चल रही हैं। तो अब वहीं बस्तर के संभाग आयुक्त दिलीप वासनीकर कलेक्टर से बात करके इसको सुधारने का आश्वासन दे रहे हैं। सवाल तो ये है कि एक ओर जहां राज्य

Agrawal stresses for proper implementation of welfare schemes in Naxal hit areas

Agriculture Minister Brijmohan Agrawal convened a review meeting at the Sukma Collectorate where he said that Sukma is an terms of Naxalism as thus the need to properly implement welfare schemes is all the more crucial.
There is need to empower people financially so that they can prosper while remaining in the mainstream of the society. He sought detailed feedback of the drinking water and hand pumps in the district and directed the officials to implement the agriculture schemes on ground.

CM to launch 'Amrut Yojana' at Sukma on 29 April,'Mahatari Jatan Yojana' at Ambikapur on 2 May

Mr. Sonmani Bora addressing the video-conference

Chief Minister Dr. Raman Singh will launch 'Mukhyamantri Amrut Yojana' on 29 April at Sukma and Mahatari Jatan Yojana on 2 May at Ambikapur. The schemes are to provide nutritious diet to infants and pregnant women at the Anganwadi centres. Sweetened and flavoured milk (100 ml) will be provided to the children in the age-group of 3-6 years on every Mondays at the Anganwadis. Hot nutritious diet will be provided to pregnant women in the scheme' Mahatari Jatan Yojana' to be launched on 2 May at Ambikapur. Women and Child Development Secretary Mr.