Sukma

Sukma

समाज का खौफ ऐसा कि मां तक ने नहीं की बेटी की मदद, और फिर जो जंगल में हुआ वो बेहद शर्मनाक था

IMG-20170823-WA0004.jpg

यह किसी फिल्म की स्क्रिप्ट नहीं है, बल्कि सच्ची घटना है। समाजिक बहिष्कार की ऐसी सच्ची घटना जो दिल दहलाने वाली है। गांव के किनारे घने जंगल में चार घंटे तक गर्भवती महिला दर्द के मारे कहराती रही। उसे देखने के लिए गांव के लोग इक्ठठा हो गए। उन गांवो वालो के साथ उसकी मां भी शामिल थी। दर्द के मारे महिला पानी-पानी के लिए चिल्लाती रही लेकिन एक मां की ऐसी समाजिक मजबूरी की वो पानी नहीं पिला सकी। लेकिन गर्भवती महिला ने हिम्मत नहीं हारी और देखते ही देखते दो स्वस्थ्य बच्चों को जन्म दे दिया। हालांकि सूचना मिलते ही स्वास्थ्य विभाग की एम्बूलेंस चार घंटे बाद गांव पहुंची उसके बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया जहा

दिव्यांग बच्चों ने बांधा समा

Sanskritik Karykarm

सोमवार को कुम्हाररास के आकार भवन में दिव्यांग बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम कर देश भक्ति गीतों और सामूहिक नृत्य के माध्यम से समा बांधा। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि संसदीय सचिव लाभचन्द बाफना, कलेक्टर जय प्रकाश मौर्य, मुख्य कार्यपालन अधिकारी एस मनीवासगन, अति, पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र शुक्ल रहे। आकार संस्था जिला प्रशासन की ओर से संचालित दिव्यांग बच्चों के लिए आवासीय विद्यालय हैं।

सद्भावना फुटबॉल मैच में नागरिक इलेवन की जीत

Sukma

स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर जिला प्रशासन के मार्गदर्शन में जिला खेल एवं युवा कल्याण विभाग की ओर से सद्भावना मैच में दोनों टीम के 1-1 गोल की बराबरी होने पर पैनाल्टी शूटआउट के माध्यम से निर्णय लिया गया। इसमें नागरिक इलेवन ने 3-2 से अधिकारी इलेवन को हराकर विजयी रहे।
इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष हरीश कवासी, कलेक्टर जय प्रकाश मौर्य, जिला सत्र और व्यवहार न्यायाधीश सुकमा कमलेश कुमार जुर्री, आईपीएस जितेन्द्र शुक्ल, एसडीएम सुकमा जेआर चौरसिया की ओर से विजेता और उप विजेता टीम को शील्ड और ट्राफी प्रदान किया गया।

कमान आईडी ब्लास्ट से तीन जवान घायल

Kaman Id Blast

जिले के फुलपगड़ी चौकी के परिया गाव के पास कमान आईडी ब्लास्ट होने से तीन जवान घायल हो गए जिसमे एक जवान को ज्यादा चोटे लगी है। तीनो को हेलीकॉप्टर से रायपुर भेजा गया।
पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक फुलपगड़ी से कल डीआरजी और एसटीएफ की संयुक्त पार्टी ऑपरेशन के लिए निकाली गई थी। सर्चिग कर जब पार्टी दोहपर को वापस लौट रही थी। तब परिया गांव के पास नक्सलियों ने कमान आईडी लगा रखी थी। जिसके चपेट में आते ही तीन जवान घायल हो गए। तत्काल जवानों ने भी मोर्चा ले लिए। घायल जवान मड़कम कल्ला, करतम रामा,बोड़ी कन्ना तीनो को केरलापाल लाया गया। जिसमे करतम रामा को गंभीर बताया जा रहा है।

जहा जवानों की हुई थी शहादत वहां लहराया तिरंगा

army

नक्सल मोर्चे पर तैनात जवानों ने भेज्जी के उस इलाके में स्वतंत्रता दिवस पर तिरंगा फहराया जहां नक्सली हमले में जवान शहीद हुए थे. भेज्जी और कोत्ताचेरु के बीच नक्सल मुठभेड़ में 12 जवान शहिद हुए थे. वही बुर्कापाल के पास 25 जवान शाहिद हुए थे. इन दोनों जगहों पर पुलिस द्वारा तिरंगा फहराया गया.

सुकमा में लाभचन्द बाफना ने किया ध्वजारोहण

Mishal Raily

सुकमा के मिनी स्टेडियम में 71 वां स्वतंत्रता दिवस मनाया गया। मुख्य अतिथि संसदीय सचिव लाभचन्द बाफना ने सुबह 9 बजे ध्वजारोहण किया। उन्होंने परेड का निरीक्षण किया और मार्च पास्ट की सलामी ली। परेड में जिला पुलिस बल, एसएएफ महिला पुलिस बल, सीआरपीएफ वन आरक्षक, स्काउट-गाईड दल और स्कूली बच्चे शामिल थे।

मुठभेड़ में 2 नक्सली ढ़ेर

nxcali dher

कमा जिले किस्टाराम इलाके में रविवार सुबह हुई मुठभेड़ में दो नक्सली मारे गए हैं। बस्तर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक विवेकानंद सिन्हा ने पत्रकारवार्ता में बताया कि, रविवार तड़के किस्टाराम में नक्सली -पुलिस मुठभेड़ में मारे गए दो नक्सलियों के कब्जे से दो हथियार बरामद हुए हैं।

सुकमा में नक्सलियों ने फूंकी मिक्सर मशीन

thumb2253

जिले के कोंटा थाना क्षेत्र के मुरलीगुड़ा गांव में बुधवारको सड़क निर्माण में लगी मिक्सर मशीन को नक्सलियों ने जला दिया। वारदात को अंजाम देकर वापस जाते समय उन लोगों ने वहां पर्चे भी फेंके। ये जानकारी आईजी बस्तर विवेकानंद सिन्हा ने दी। उन्होंने बताया कि बस्तर संभाग में सड़कों का जाल फैलाने के लिए बड़े पैमाने में निर्माण कार्य कराया जा रहा है। इन्हीं सड़कों के माध्यम से विकास उन पहुंच विहीन गांवों तक जाएगा। तो वहीं माओवादी इसको बिल्कुल भी नहीं चाहते। दूसरी ओर अपने साथियों के लगातार आत्मसमर्पण और सुरक्षाबलों के दबाव में आए नक्सलियों को अब उनका अस्तित्व ही समाप्त होता दिखाई दे रहा है। ऐसे में वो हताश

सुकमा में 11 नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण

11 Naxshali Aatm samarpan

बुधवार को नक्सलियों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान में सुरक्षाबलों को बड़ी सफलता उस वक्त हासिल हुई जब सुकमा में 11 नक्सलियों ने आत्मसमर्पण कर दिया। इनमें 1 से लेकर 10 लाख तक के इनामी नक्सली शामिल बताए जा रहे हैं। ये जानकारी आईजी बस्तर विवेकानंद सिन्हा ने दी। उन्होंने बताया कि 11 माओवादियों ने हिंसा का रास्ता छोड़कर समाज की मुख्यधारा से जुडऩे की राह चुनी। इनमें 8 लाख का ईनामी कुंजाम हड़मा भी शामिल बताया जा रहा है।
किस-किसने किया आत्मसमर्पण :

सुकमा में भारी मात्रा में विस्फोटक सामग्री बरामद, नक्सली भागे

Naxsli visfotak samagi

छत्तीसगढ़ के सुकमा में सोमवार को दोपहर भारी मात्रा में विस्फोटक सामाग्री बरामद हुई है। क्षेत्र में फोर्स की मौजूदगी की सूचना पर नक्सली सामाग्री छोड़कर भाग गए। गश्त पर निकली सुकमा जिला पुलिस बल और एसटीएफ की संयुक्त पार्टी को ग्राम खुंदूसपारा के जंगल में चाइनीज बम, देशी बम, ऐरो बम सहित अन्य सामाग्री मिली है।