Education

Education

राजनांदगांव में स्नातक और स्नातकोत्तर में नए विषयों को मिली मंजूरी

Abhishek ¥Îð.jpg

उच्च शिक्षा विभाग की ओर से राजनांदगांव लोकसभा क्षेत्र के महाविद्यालयों में सांसद अभिषेक सिंह की अनुशंसा पर स्नाकोत्तर और स्नातक कक्षाओं की स्वीकृति दी गई है, इसके साथ ही प्राध्यापकों के पद और छात्रों के लिए सीट भी निर्धारित कर दिए गए हैं।

दिल्ली दौरे से लौटे रमन, कहा- योजनाओं को मिली मोदी-शाह की सराहना

Raman-Singh-2-990x520.jpg

मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह दिल्ली दौरे से रायपुर लौट आए हैं. उन्होंने दिल्ली में हुई बैठक की जानकारी दी. रमन सिंह ने बैठक की जानकारी देते हुए बताया कि पीएम मोदी ने कहा है कि जिन योजनाओं से राज्यों की पहचान बने वैसी योजनाएं लाएं. शिक्षा के क्षेत्र में पीएम ने कहा कि प्रयास की तरह और कुछ नई चीजें हो सकती हैं.

मुख्यमंत्री के गृह जिले में जब शिक्षा का ये हाल तो…..

village Pattara , Kavadha

राज्य सरकार भले ही 5 हजार दिन के जश्न में डूबी हुई है लेकिन हकीकत ये भी है कि आज भी कई जगह ऐसी है जहां स्कूल भवन ही नहीं है। कहीं अगर है भी तो वहां शिक्षक ही नहीं है।

इसमें भी अगर मुख्यमंत्री के गृह जिले में जब ऐसा हाल हो तो आप समझ सकते हैं कि पूरे प्रदेश का हाल क्या होगा। हम बात कर रहे हैं पथर्रा की जहां मात्र दो शिक्षकों के भरोसे हाई स्कूल संचालित किया जा रहा है। यहां 9 वीं कक्षा में 68 और 10 वीं में 19 बच्चे हैं, स्कूल खुले 3 माह बीत चुका है।

जानिए उन पांच जजों के बारे में जिन्होंने तीन तलाक पर दिया ऐतिहासिक फैसला

A63333FD9978C20BEC498B07E0C792C5.jpg

छत्तीसगढ़ राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित प्रारंभिक परीक्षा वर्ष 2016 में सफल प्रदेश के अनूसूचित जाति एवं जनजाति वर्ग के अभ्यर्थियों को सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना के तहत प्रोत्साहन राशि देने 27 जुलाई तक आवेदन पत्र आमंत्रित किए गए हैं।

बोर्ड परीक्षा में उत्कृष्ट प्रदर्शन, बच्चों को दिए पुरस्कार

20 F-1.jpg

नवागढ़ ब्लाक के शास. उ.मा.शाला धुरकोट में शिक्षा सत्र 2016-17 में कक्षा 10 वीं व 12 वीं बोर्ड में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले विद्यार्थियों को मुख्य अतिथि ने प्रमाण पत्र दिया। इसके पूर्व 14 अगस्त को सभी छात्र-छात्राओं के मध्य स्लोगन लेखन, निबंध लेखन, भाषण, चित्रकला व रंगोली प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले बच्चों को भी सम्मानित किया गया।

हमर छत्तीसगढ़ योजना : महिला एवं बाल विकास मंत्री से मिले दुर्ग जिले के पंच-सरपंच

6D28028601245B5908520DAA3F243EA3.jpg

हमर छत्तीसगढ़ योजना में अध्ययन-भ्रमण यात्रा पर आए दुर्ग जिले के पंचायत प्रतिनिधियों को महिला एवं बाल विकास, समाज कल्याण विभाग मंत्री श्रीमती रमशीला साहू ने अपने निवास पर आमंत्रित किया। उनके आमन्त्रण पर मंत्री निवास पहुंचे प्रतिनिधियों ने उनसे मुलाकात की.
मंत्री श्रीमती साहू ने सभी प्रतिनिधियों से हमर छत्तीसगढ़ योजना का अनुभव पूछा तथा भ्रमण यात्रा के संबंध में चर्चा की. मंत्री श्रीमती साहू ने कहा कि अध्ययन-भ्रमण के दौरान मिली जानकारियों को अपने पंचायतों, गांवों में ग्रामवासियों के साथ साझा करें, जिससे प्रदेश के विकास के बारे में उन्हें भी जानकारी मिल सके।

धमतरी में शिक्षक की दरिंदगी, फोड़ डाला 8 साल के छात्र का सिर

Govt.middile School Dhamtari

छत्तीसगढ़ में एक शिक्षक का अमानवीय चेहरा सामने आया है. शिक्षक ने तीसरी में पढ़ने वाले एक छात्र का सिर केवल इसलिए फोड़ दिया क्योंकि उसने होमवर्क पूरा नहीं किया था. मामला धमतरी नगर निगम के स्कूल क्रमांक 3 का है. छात्र को लहुलुहान हालत मे ईलाज के लिये जिला अस्पताल मे भर्ती करवाया गया है.

राजधानी रायपुर में सखी वन स्टाप सेंटरों के सेवा प्रदाताओं के लिए दो दिवसीय प्रशिक्षण शुरू

Mahila Avam Bal Vikash Adhikari

राज्य के 27 जिलों में संचालित सखी वन स्टाप सेंटरों के सेवा प्रदाताओं के लिए दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आज यहां शुभारंभ हुआ। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा यह प्रशिक्षण कार्यक्रम इंदिरा गंाधी कृषि विश्वविद्यालय के सभाकक्ष में आयोजित किया गया है। इसमें सखी वन स्टाप सेंटरों को सेवाएं देने वाले परामर्श दाताओं, केन्द्र प्रशासकों तथा अन्य संबंधित कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

दिव्यांग बच्चों ने बांधा समा

Sanskritik Karykarm

सोमवार को कुम्हाररास के आकार भवन में दिव्यांग बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम कर देश भक्ति गीतों और सामूहिक नृत्य के माध्यम से समा बांधा। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि संसदीय सचिव लाभचन्द बाफना, कलेक्टर जय प्रकाश मौर्य, मुख्य कार्यपालन अधिकारी एस मनीवासगन, अति, पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र शुक्ल रहे। आकार संस्था जिला प्रशासन की ओर से संचालित दिव्यांग बच्चों के लिए आवासीय विद्यालय हैं।

लिखित आश्वासन के बाद छात्र आंदोलन खत्म

16 B-b.jpg

शास.महाविद्यालय डभरा के छात्रसंघ की ओर से सात सूत्रीय मांगों को लेकर पिछले आठ दिन से किए जा रहे आमरण अनशन लिखित आश्वासन मिलने के बाद समाप्त हुआ। आंदोलन के समर्थन में चक्काजाम किया जा रहा था प्रशासन की ओर से तहसीलदार नीलम टोप्पो और एसडीओपी सीडी तिर्की ने छात्रों और नगरवासियों को समझाकर आंदोलन को समाप्त कराया गया। शासकीय महाविद्यालय डभरा के छात्रसंघ की ओर से सात सूत्रीय मांगों को लेकर पिछले 9 अगस्त से आमरण अनशन कर रहे थे । अनशन के आठवें दिन आंदोलन के समर्थन में नागरिकों की ओर से चक्काजाम तय कार्यक्रम के अनुसार 16 अगस्त को सुबह 10 बजे से चक्काजाम लगभग दो घंटे तक रहा जिस कारण वाहनों की आवाजाही बंद