Education

Education

नवोदय में प्रवेश आवेदन 25 तक

जवाहर नवोदच विद्यालय चयन परीक्षा के लिए 5वीं की कक्षा में अध्ययनरत विद्यार्थियों से 25 नवम्बर तक आवेदन मंगाए गए है। विद्यार्थी ऑनलाईन और ऑफलाईन माध्यम से निर्धारित तिथि तक आवेदन कर सकते हैं। आवेदन लोक सेवा केन्द्र के माध्यम से भी किया जा सकता है। इसके लिए आवेदन करने वाले विद्यार्थी का जन्म 1 मई 2005 से 30 अप्रैल 2009 के बीच होनी चाहिए। अन्य विस्तृत जानकारी जवाहर नवोदय विद्यालय बोरई, फोन नंबर 0788-2621233 से संपर्क कर सकते हैं।

प्रतियोगिता में चयनित नि:शक्तों को मिलेगा प्रोत्साहन

समाज कल्याण विभाग की ओर से नि:शक्त व्यक्तियों को प्रतियोगिता परीक्षा, सिविल सेवा परीक्षा में चयन होने पर सिविल सेवा प्रोत्साहन राशि दिया जाता है। इस वर्ष विभिन्न प्रतियोगिता परीक्षा में 7 लोगों का चयन होने पर उनके लिए 2.90 लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि जारी की गई है। योजना के अंतर्गत 40 प्रतिशत या उससे अधिक नि:शक्त व्यक्ति को सिविल सेवा की प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण करने पर 20 हजार रुपए, मुख्य परीक्षा उत्तीर्ण करने पर 30 हजार रुपए और अंतिम रूप से चयन होने पर 50 हजार रुपए की प्रोत्साहन राशि दी जाती है।

केंद्रीय विद्यालय में बच्चों को मिली एनसीसी की जानकारी

केंद्रीय विद्यालय जांजगीर में बच्चों के सर्वांगीण विकास के साथ मन में समाजसेवा और देशसेवा का भाव जागृत करने के उद्देश्य से देश सेवा की जानकारी दी गई। एनसीसी आफिसर दिनेश चतुर्वेदी, विशिष्ट अतिथि पालक संघ के उपाध्यक्ष राजेंद्र राठौर उपस्थित थे।दिनेश चतुर्वेदी ने कहा एनसीसी, एनएसएस और स्कॉउट गाइड तीनों स्कूली बच्चों में देशभक्ति और समाज सेवा का भाव जगाते है।

क्षेत्रीय विज्ञान मेला-वैदिक गणित समारोह 4 से

सरस्वती शिशु मंदिर कन्या विद्यालय रोहिणीपुरम में 4 और 5 नवम्बर को विज्ञान मेला और वैदिक गणित प्रश्रमंच समारोह होगा। उद्घाटन मुख्य अतिथि मंत्री राजेश मूणत करेंगे। वहीं कार्यक्रम बद्रीनाथ केशरवानी और व्यवस्थापक महेश बैस के मार्गदर्शन में होगा। समारोह में हरसाल की तरह विद्या भारती की ओर से 11 विधाओं पर प्रतियोगिताएं भी होंगी। इसमें विज्ञान प्रादर्श, प्रयोग, पत्रवाचन, वैदिक गणित, प्रश्रमंच प्रतियोगिताएं विद्यालयीन स्तर से अखिल भारतीय स्तर तक होगी। अनेक प्रांतों के यथा-मालवा, मध्यभारत, महाकौशल, छत्तीसगढ़ से लगभग 368 विद्यार्थी, संरक्षक, आचार्य और शिक्षिकाएं इस कार्यक्रम का हिस्सा बनेंगे।

स्कूल में अनियमितता, जकांछ ने की सुधार की मांग

छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के तकनीकी विभाग की ओर से हाउसिंग बोर्ड स्थित स्वामी विवेकानंद शासकीय हायर सेकंडरी स्कूल में हो रही अनिमियतताओं को ले कर ज्ञापन दिया गया। तकनीकी विभाग के जिलाध्यक्ष शुभम कुमार सिंह के मार्गदर्शन में वैशाली नगर विधानसभा कार्यकारिणी अध्यक्ष एस बूज्जी राव और जिला उपाध्यक्ष ईशान के नेतृत्व में स्कूल में जा कर ज्ञापन दिया। ज्ञापन में कहा गया है कि, स्कूल की हालत बहुत ही ख़राब अवस्था में है ना वहां बाथरूम है ना ही क्लासरूम के अंदर लाइट जलती है और खिड़किया भी सब उखड गईं है। एस बूज्जी राव ने इस मुद्दे को लेकर शिक्षा अधिकारी को भी ज्ञापन दिया और उन्हें 15 दिन का समय देकर ये सारी

प्रधान पाठक कक्ष में लग रहा स्कूल

प्रधान पाठक कक्ष में लग रहा स्कूल

बच्चे अपना भविष्य बनाने के लिए प्राथमिक शाला में पढऩे के लिए पहुंचते हैं, लेकिन सुविधा के अभाव में उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ता है। यही नहीं प्रधानपाठक और अतिरिक्त कक्ष के एक छोटे से कमरे में सैकड़ों बच्चों को पढऩे के लिए बैठा दिया जाता है। यह नजारा पुसौर ब्लॉक के ग्राम कोतासुरा की है। समस्याओं के शिकायत के बाद भी शिक्षा विभाग के अधिकारियों का इस ओर ध्यान नहीं है ।

सरकारी स्कूलों में शिक्षण व्यवस्था चरमराई

 सरकारी स्कूलों में शिक्षण व्यवस्था चरमराई

शिक्षक पंचायत संवर्ग की ओर से प्रदेश व्यापी एक दिवसीय धरना के असर जिले के अधिकांश शासकीय विद्यालयों में देखने को मिला। स्कूलों की शिक्षण व्यवस्था पूरी तरह ठप रही। शिक्षकों के अवकाश पर चले जाने के चलते शिक्षण व्यवस्था बुरी तरह प्रभावित हुआ। कुछ स्कूलों में तो अघोषित अवकाश का वातावरण रहा। एक दिवसीय सांकेतिक धरना का आयोजन जिले के सभी विकासखण्ड मुख्यालय में देखा गया, जो शिक्षक पंचायत संवर्ग के प्रमुख मांग संविलियन सहित अन्य मांगों को लेकर आगे अनिश्चितकालीन धरने की रणनीति बना रहे है।

कहां झोंपड़ी में पढ़ने को मजबूर हैं बच्चे, जानिए आप भी छत्तीसगढ़ में शिक्षा का हाल

कहां झोंपड़ी में पढ़ने को मजबूर हैं बच्चे, जानिए आप भी छत्तीसगढ़ में शिक्षा का हाल

जिले के मैनपुर ब्लॉक के दूरस्थ अंचल में स्थित प्राथमिक शाला खोखमा में स्कूल के बच्चे शिक्षा की अलख जगा रहे हैं. इन बच्चों की शिक्षा के प्रति ललक इस बात से पता चलती है कि इनका स्कूल भवन धराशायी हो गया, बावजूद इसके इनका हौसला कम नहीं हुआ.

धराशायी हुआ स्कूल भवन

gbd school jarjar bhawan

दरअसल खोखमा प्राथमिक स्कूल का भवन बेहद जर्जर था. उसके बावजूद बच्चे जान की बाजी लगाकर यहां पढ़ रहे थे. लेकिन ये भवन धराशायी हो गया. उसके बाद गांववालों ने बच्चों के पढ़ने के लिए झोंपड़ी बनाई. इस झोंपड़ी में ही पिछले 15 दिनों से स्कूल संचालित हो रहा है.

एजूकेशनल कारवां ने किया स्कूलों का निरीक्षण

ऑल इण्डिया एजुकेशनल कारवां गुरूवार को रायपुर पहुंचा । इसके सदस्यों ने सभी प्रमुख मुस्लिम्स मदरसों का निरीक्षण किया। निरीक्षण करने के बाद उनका स्वागत करने ऑल इण्डिया मुस्लिम एजुकेशन सोसाइटी छ.ग. यूनिट रायपुर सहित संस्थाओ नूरानी एजुकेशन सोसाइटी,ज़कात फाउन्डेशन, के संयुक्त की ओर से दोपहर 2 बजे कार्यक्रम हुआ। इसमें ए.के.मेमोरियल स्कूल बैरन बाज़ार की बच्चियों ने हम्द - ओ सना पेश करते हुए अल्लाह का शुक्र अदा किया।

छात्राओं को मिली सुरक्षा संबंधी जानकारी

लायंस क्लब की ओर से प्रोजेक्ट एंगेजिंग यूथ कार्यक्रम किया गया। इसके तहत 202 लोगों के स्वास्थ्य की जांच की गई । साथ ही छात्राओं को सुरक्षा की ट्रेनिंग दी गई। छात्र-छात्राओं को साइबर क्राइम, सेल्फ डिफेंस, ब्यूटी पार्लर कोर्स, स्वास्थ्य कैंप का कार्यक्रम किया गया।