Durg

CG-07, Durg

काम न करने पर पर्यावरण, पीएचई अधिकारियों से कलेक्टर नाराज

कलेक्टर अपने मातहत अफ सरों से अच्छे खासे नाराज चल रहे हैं। वहीं टीएल की बैठक में दो विभाग प्रमुखों पर जमकर बरस पड़े थे। उनका कहना है कि हर विभाग के अधिकारी अपने विभागीय कामकाज में गंभीरता व तेजी लाए। केन्द्र व राज्य सरकार की सभी योजनाओं का लाभ जनता को मिले इसका भरपूर ध्यान रखें। कलेक्टर उमेश अग्रवाल पर्यावरण विभाग के अधिकारी मालू से भी नाराज हैं। सचिव अमनसिंह की चाही गई जानकारी को सही समय उपलब्ध नहीं कराया गया। वहीं पीएचई के 9 इंजीनियर दुर्ग जिले में होने के बाद भी पीएचई के कामकाज से संतुष्ट नहीं है। उन्होंने शहरी सहित ग्रामीण क्षेत्रों में पीएचई के कार्यों में कसावट लाने के निर्देश दिए। उन्ह

गंदगी करने वाले धार्मिक स्थलों के संचालकों को नोटिस जारी

साफ-सफाई के मामले में अपनी अलग पहचान रखने वाले भिलाई टाउनशिप को गंदा करने वालों विभिन्न संस्थानों पर नकेल कसी जा रही है। प्रबंधन ने अब धार्मिक स्थलों को भी नोटिस दिया है। आस्था के नाम पर आयोजित कार्यक्रमों के बाद लोगों की गंदगी की सफाई न करने वाले धार्मिक व सामाजिक संगठनों के भवन संचालकों को नोटिस थमाया गया। भिलाई स्टील प्लांट के पब्लिक हेल्थ डिपार्टमेंट ने बुधवार को संचालकों को नोटिस जारी किया है।

मजदूरों को नहीं मिल रही वेतन पर्ची : सीटू

बीएसपी की सोशल परफारमेंस टीम के साथ प्रबंधन की बैठक बुधवार को इस्पात भवन के सभागार में हुई। इसमें विभिन्न मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक के संबंध मे सीटू के कार्यकारी अध्यक्ष पूरन वर्मा ने बताया कि, बीएसपी के भीतर महत्वपूर्ण स्थलों जैसे कैंटीन आदि की जानकारी के लिए मार्किंग की जाएगी तथा साइन बोर्ड लगाए जाएंगे।

प्रमोशन का इंतजार कर रहे अफसरों में बढ़ रहा असंतोष

बीएसपी में सहायक महाप्रबंधक एजीएम से उपमहाप्रबंधक डीजीए की प्रमोशन सूची तैयार है, लेकिन स्थानीय मैंनेजमेंट और कार्पोरेट ऑफिस के बीच गतिरोध के चलते सूची अटकी हुई है। मैंनेजमेंट 4 साल एजीएम का कार्यकाल गुजार चुके अपने कुछ करीबी अफसरों को पदोन्नति दिलाना चाहता है, और कार्पोरेट आफिस इस पर सहमत नहीं हो रहा है। वही इस खबर से 5 से 9 साल से प्रमोशन का इंतजार कर रहे अफसरो में असंतोष बढ़ रहा है। अफसर समझ नहीं पा रहे हैं कि, आखिर इस टकराव के चलते सूची कब जारी होगी।

श्रम मंत्रालय के दखल के बाद बढ़ सकता है बीएसपी कर्मियों का इनसेंटिव

बीएसपी के कर्मचारियों की जेब भारी होने के संकेत मिल रहे हैं। एकमुश्त पांच हजार रुपए तक का फायदा इनसेंटिव मद में होने जा रहा है। बीएसपी कर्मियों की गुहार पर श्रम मंत्रालय ने इसको संज्ञान में लेकर आगे की कार्रवाई शुरु कर दी है। मामला ट्रिब्यूनल में रेफर करके जल्द हल कराकर आर्थिक लाभ देने का संकेत मंत्रालय से कर्मियों को मिले हैं।
00 क्या है पूरा मामला :

एमआईसी के फर्जी लेटर हेड से मंत्री- पार्षदों को गाली, एसपी से हुई शिकायत

निगम के एक एमआईसी मेंबर के फर्जी लेटर हेड में मंत्री सहित भिलाई निगम के महापौर, अधिकारियों और पार्षदों के लिए बेहद ही अभद्र व आपत्तिजनक भाषा का प्रयोग करते हुए पत्र लिखा गया है। चिट्ठी में न केवल भ्रष्टाचार के आरोप लगाए गए हैं, बल्कि चरित्र पर भी कीचड़ उछाला गया है। जिस पार्षद के कथित लेटर हेड से चिट्ठी जारी हुई है उसने एसपी को ·शिकायती पत्र देकर चिट्ठी भेजने वाले पर कार्रवाई की मांग की है।
00 क्या है पूरा मामला :

बैंकों में लॉकरों की सुरक्षा के लिए गार्ड की मांग

बैंकों में रहे डकैती को लेकर जनहित संघर्ष समिति के संयोजक शारदा गुप्ता ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शशि मोहन को ज्ञापन सौंपकर, बैंकों में लॉकर हैं उन्हें सुरक्षा प्रदान करने की मांग की। अधिकतर बैंकों में लाकर की सुरक्षा के लिए गार्ड उपलब्ध नहीं है। इससे आम जनमानस में चिंता व्याप्त है जिसे शीघ्र दूर किए जाने की आवश्यकता है। यूको बैंक वैशाली नगर में जनहित संघर्ष समिति के पदाधिकारी पहुंचकर बैंक प्रबंधन को ज्ञापन दिया और सुरक्षा गार्ड उपलब्ध कराए जाने की मांग की, यहां भी बैंक में सुरक्षा गार्ड उपलब्ध नहीं है।
00 क्यों पड़ी इसकी जरूरत :

स्वच्छता बनाए रखने जन स्वास्थ्य विभाग की अपील

भिलाई इस्पात संयंत्र के नगर सेवाएं विभाग के अन्तर्गत जनस्वास्थ्य विभाग ने टाउनशिप के निवासियों से गीला कचरा और सूखा कचरा के पृथक एकत्रीकरण और उचित निष्पादन की अपील की है। प्रत्येक घरों से दो प्रकार का कूड़ा निकलता है। पहला, गीला जिसमें फलों के छिलके, कटी सब्जियां, बचा हुआ खाना आदि होते हैं और दूसरा, सूखे कचरे में पॉलीथिन, कागज, पेकिंग मटेरियल आदि होते हैं। यदि गीला और सूखा कूड़ा संसाधन पर ही अलग-अलग कर दिया जाए तो गीले कचरे से खाद बनाई जा सकती हैं वहीं सूखे कचरे को रिसाइकल करके उपयोगी वस्तुएं बनाई जा सकती है। ऐसा करके हम कचरों के कारण पर्यावरण पर पडऩे वाले दुष्प्रभाव को कम कर सकते हैं और कचरो

बीएसपी के रवैये के विरोध में एकजुट हुए व्यापारी

भिलाई स्टील सिटी चेम्बर्स ऑफ कामर्स के बैनर तले टाउनशिप के व्यापारियों ने एक रैली निकली । चार सूत्रीय मांगों को लेकर अपनी दुकानें बंद कर सभी व्यापारी एकजुट होकर भिलाई इस्पात संयंत्र के रवैये के विरोध में आमसभा की । रैली में सभी व्यापारी शमिल होकर कन्ट्रोल रूम पहुंचे और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शशिमोहन सिंह को कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपा।
00 व्यवसाइयों ने जिम्मेदारों को चेताया :

दिव्यांगों के लिए निगम ने लगाया शिविर

नि:शक्तजन सशक्तिकरण अभियान के द्वितीय चरण में नगर पालिक निगम के सभी छ: जोनों मेें आयुक्त केएल चौहान के निर्देशानुसार दिव्यांगों के लिए शिविर लगाया गया। इस शिविर में माध्यम से दिव्यांगों के मांग अनुसार आवेदन जमा कराए। विभिन्न प्रकार के मांग अनुरुप कुल 394 दिव्यांगों ने आवेदन फार्म जमा किया है।
00 शिविरों में क्या-क्या हुआ :