अनुपस्थित पाए जाने पर मंडी निरीक्षक राकेश तिवारी निलंबित

अनुपस्थित पाए जाने पर मंडी निरीक्षक राकेश तिवारी निलंबित

पड़ोसी राज्यों से आ रहे धान की अवैध आवक को रोकने अमला कितना सक्रिय है इस बात की जांच के लिए कलेक्टर भीम सिंह ने आज महाराष्ट्र बार्डर के आसपास के गांवों का निरीक्षण किया और महाराष्ट्र से लगी अंतरराज्यीय सीमा का निरीक्षण भी किया। यहां पाटेकोहरा में जिनकी ड्यूटी लगाई गई थी। उनमें मंडी निरीक्षक राकेश तिवारी अनुपस्थित पाए गए। कलेक्टर ने गंभीर नाराजगी जताते हुए उन्हें निलंबित करने के निर्देश दिए।
सिंह ने कहा कि इतने गंभीर प्रकृति के कार्य में इस तरह की लापरवाही की गई है और साढ़े सात बजे ड्यूटी पर अनुपस्थित पाए गए हैं। यह गंभीर लापरवाही है। उन्होंने वहां ड्यूटी कर रहे अन्य कर्मचारियों से भी जांच के संबंध में पूछा और कहा कि अंतरराज्यीय सीमा में किसी तरह से भी अवैध धान की आवक हो तो इस पर नजर रखें और तुरंत रोके।
उन्होंने वन विभाग के अमले को भी कहा कि आप भी अवैध धान की आवक पर नजर रखें। इस दौरान फूड आफिसर सीमा अग्रवाल, जिला विपणन अधिकारी पाठक, फूड इंस्पेक्टर चितरंजन सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
00 बाघ नदी बार्डर में भी लगाए ड्यूटी :
धान खरीदी की पहली जांच टीम पाटेकोहरा में नियुक्त की गई है। कलेक्टर ने कहा कि बाघ नदी बार्डर सबसे पहली सीमा है अत: यहां भी सुबह से ड्यूटी लगाई जाए। उन्होंने कहा कि इस बात की आशंका है कि यहां से सीतागोटा समिति अवैध धान ले जाया जा सके।
00 कनेरी में देखी धान की क्वालिटी :
कलेक्टर ने कनेरी धान खरीदी केंद्र में धान की क्वालिटी का निरीक्षण किया। एक किसान का धान उपयुक्त गुणवत्ता का नहीं पाया गया। कलेक्टर ने समिति प्रबंधक से कहा कि पूरी तरह निरीक्षण और संतुष्ट पाये जाने पर ही धान खरीदी करें। उन्होंने रैंडम आधार पर धान का सैंपल भी लिया और माइस्चर मीटर से इसका चेक भी कराया।
समिति प्रबंधक को कहा कि सीमावर्ती क्षेत्रों से आए अवैध धान पर नजर रखें और ऐसी गतिविधि पाये जाने पर तुरंत इसकी खबर करें। कलेक्टर ने यहां बारदाने भी देखे। समिति प्रबंधक ने बताया कि बारदानों की गुणवत्ता सत्यापित कर ली गई है। यह गुणवत्ता के मानकों के अनुकूल हैं।
00 धान खरीदी केंद्रों में किसानों के लिए करें समुचित व्यवस्था
कलेक्टर ने इस खरीदी केंद्र में किसानों के लिए पानी, शौचालय जैसी बुनियादी सुविधाओं की व्यवस्था भी देखी। शौचालय नहीं होने पर उन्होंने समिति प्रबंधक पर नाराजगी जाहिर की। उन्होंने कहा किसानों के बैठने के लिए पर्याप्त संख्या में बेंच लगा दें ताकि वे पूरी सुविधा के साथ धान खरीदी केंद्र में खरीदी कर पाएं।

Source: 
visionnewsservice.in

Related News