अपहरण कर नक्सलियों ने की दो आदिवासी नेता की हत्या

पीपुल्सवार नक्सली संगठन के सदस्यों ने अगवा कर दो आदिवासी नेताओं की हत्या कर दी। जिनका शव आज सुबह पुलिस ने जंगल से बरामद किया है। नक्सलियों ने एक बार फिर कायराना हरकत की है।
दंतेवाड़ा पुलिस अधीक्षक अभिषेक पल्लव ने बताया कि 6 सितम्बर को बचेली के वार्ड क्रमांक 6 से अगवा किए ग्रामीण हूंगा कर्मा और भीमा मुचाकी की गला रेतकर नक्सलियों ने सोमवार रात हत्या कर दी । घर से पांच सौ मीटर दूर उनके शवों के फेंक कर फरार हो गए। अपहरण के बाद से ही हूंगा कर्मा की बेटी ने अपने पिता की रिहाई के लिए नक्सलियों से अपील भी की थी,लेकिन नक्सलियों पर इसका कोई असर नहीं हुआ। सोमवार देर रात रेलवे स्टाफ को छोड़ने गए ड्राइवर ने दो अज्ञात लोगों के शव की पुलिस को सूचना दी। उसके बाद बचेली पुलिस रात डेढ़ बजे मौके पर पहुंच शवों को अपने कब्जे में लेकर जांच शुरू की। नक्सलियों ने शवों के पास पर्चे भी फेंके थे जिसमे हत्या का कारण पुलिस मुखबिरी बताया है। हत्या की जिम्मेदारी पश्चिम बस्तर डिविजनल कमेटी ने ली है।
एसपी डॉ अभिषेक पल्लव ने बताया कि हूंगा दुगेली गांव का रहने वाला है. पिछले कई सालों से बचेली में आकर बसा है। पुलिस के लिए गोपनीय सैनिक का काम करता था। मगर दूसरा ग्रामीण मुचाकी का पुलिस से दूर- दूर तक कोई सम्बन्ध नहीं था।

Source: 
visionnewsservice.in

Related News