अभी से होने लगी वार्डों में पेयजल की किल्लत

बस्तर नगर पंचायत के वार्डों और मोहल्लों में पेयजल की समस्या को सुलझाने पूर्व की भाजपा सरकार को लोक सुराज अभियान के दौरान कई आवेदन दिए गए, लेकिन अब तक इनका निराकरण नहीं किया गया है।
वार्ड क्रमांक 10 के पार्षद सतेश शुक्ला ने महिला बाल विकास और समाज कल्याण विभाग से संबंधित शिकायतें की थीं। इसमें पुजारीपारा में आंगनबाड़ी केंद्र खोलने की जरूरत बताई, लेकिन अब तक इसे लेकर कोई पहल नहीं हो सकी है। वार्ड में करीब 40 बच्चे और पोषक महिलाओं समेत किशोरियां हैं, जिन्हें आंगनबाड़ी केंद्र के दूर होने के कारण विभाग की योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है। जहां केंद्र है, वहां भी इसकी हालत जर्जर है।
बारिश के दिनों में स्थिति और ज्यादा खराब हो जाती है। बस्तर ब्लॉक के प्रभारी परियोजना अधिकारी मथरानी ने बताया कि इस मांग की उन्हें जानकारी नहीं है। इधर नगर पंचायत में वृद्धावस्था पेंशन के करीब डेढ़ सौ से ज्यादा आवेदन लंबित पड़े हुए हैं। पार्षद सतेश शुक्ला ने बताया कि नपं की सामान्य सभा की बैठक नहीं हो रही है। इसके चलते लोगों की मांग और समस्याओं का समाधान नहीं हो पा रहा है। नगर में पीने के पानी की पाइपलाइन का विस्तार भी अधर में है।

Source: 
visionnewsservice.in

Related News