ऐसे अखबार में दिया इश्तेहार जिसकी जिले में ही नहीं बटती प्रतियां, प्रभावितों ने बिना सूचना के भूमि अधिग्रहण कार्रवाई पर जताई आपत्ति

charcha3.jpg

जिले के शिवपुर चरचा नगरपालिका के निवासियों ने राष्ट्रीय राजमार्ग के बाईपास हेतु अधिग्रहित भूमि को बिना उनकी जानकारी के अधिग्रहण किए जाने के संबंध में अपनी आपत्ति दर्ज कराई है. ग्रामीणों ने इस संबंध में भू अर्जन अधिकारी को पत्र लिखकर भू अर्जन की प्रक्रिया को तत्काल प्रभाव से बंद करने की मांग की है.

ग्रामीणों ने बताया कि राष्ट्रीय राजमार्ग क्र 78 के बाईपास निर्माण के लिए भूमि स्वामियों की भूमि का बिना सूचना के सर्वे कराकर भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया की जा रही है. इस बारे में न तो कोई ईस्तेहार निकाला गया और न ही ग्राम पंचायत के सूचना पटल पर इसकी जानकारी दी गई. ग्रामीणों का यह भी कहना है कि जब अधिकारियों द्वारा इस निर्माण के लिए भूमि पूजन करवाया जा रहा था, तब भी हमने आपत्ति दर्ज कराई गई थी, कि पहले हमारा मुआवजा तय करें लेकिन हमारी कोई भी बात नहीं सुनी गई.

ग्रामीणों का कहना है कि वे विकास कार्यो का विरोध नहीं कर रहे, लेकिन बार बार अधिकारियों से संपर्क करने के बाद भी उनके द्वारा अब तक हमें कोई भी स्पष्ट जानकारी नहीं दी गई है. हमारी जितनी भूमि अधिग्रहित की जा रही है और उसका मुआवजा हमें किस दर पर दिया जाएगा, यह भी नहीं बताया जा रहा है. जबकि पूरी प्रक्रिया पारदर्शी होनी चाहिए.

इस मामले में आपत्ति के लिए जब हमने सूचना के अधिकार के तहत पूरी प्रक्रिया की जानकारी निकलवाई तो पता चला कि जिस प्रकार इस मामले में इश्तेहार का प्रकाशन कराया गया, वह भी अधिकारियों की मनमानी की ओर इशारा कर रहा है. भूमि अधिग्रहित संबंधित इश्तेहार का प्रकाशन बिलासपुर के एक ऐसे अखबार में कराया गया. जिसकी प्रतियां कोरिया जिले में बटती ही नहीं.

इस मामले मे प्रकाश में आने के बाद प्रभावितों में खासा आक्रोश है. उन्होंने शासन प्रशासन से जल्द से जल्द उचित कार्रवाई की मांग की है.

Source: 
lalluram.com

Related News