कलेक्टर जनदर्शन में 147 आवेदन प्राप्त :टोल टैक्स बचाने के लिए नगपुरा से चिखली मार्ग पर हो रहा है भारी वाहनों का आवागमन

कलेक्टर जनदर्शन में आई खुर्सीपार की महिला ने बताया कि पात्रता रखने के बाद भी बिना किसी कारण से उनका नाम राशन कार्ड से काट दिया गया है। इससे उन्हें राशन प्राप्त नहीं हो रहा है। उन्होंने बताया कि परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने से उन्हें अपना परिवार चलाने में परेशानी हो रही है। उन्होंने कलेक्टर जनदर्शन में आवेदन देते हुए पुनः राशन कार्ड जारी करने की मांग की है। महिला द्वारा दिए गए आवेदन पर आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए हैं। कलेक्टर श्री उमेश कुमार अग्रवाल आज जनदर्शन कार्यक्रम के माध्यम से लोगों की समस्याएं और मांगे सुन रहे थे। उन्होंने जनदर्शन में आए आवेदनों के तत्काल निराकरण हेतु जनदर्शन कार्यक्रम के दौरान ही संबंधित अधिकारियों से जवाब-तलब कर कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। आज कलेक्टर जनदर्शन में 147 आवेदकों ने अपनी विभिन्न समस्याओं, मांगों और शिकायतों से संबंधित आवेदन दिए हैं।
ग्राम डुमरडीह के सरपंच ने शिकायत किया है कि ग्राम की शासकीय व सार्वजनिक निस्तारी की भूमि पर अतिक्रमण कर व्यक्ति विशेष के द्वारा विक्रय किया गया है। उन्होंने उक्त शासकीय व सार्वजनिक निस्तारी की भूमि को गांव के सुपुर्द कराने कहा है। इसी तरह नगर निगम क्षेत्र दुर्ग के वार्ड क्रमांक 44 गुरूघासीदास वार्ड के रहवासियों ने अपने वार्ड में विद्युततार का नीचे झुलने से हो रही समस्या से निजात दिलाने संबंधी आवेदन दिया है। वार्डवासियों ने बताया है कि विद्युततार का नीचे झुक जाने से दुर्घटना की आशंका बनी हुई है। ग्राम नगपुरा से चिखली मार्ग पर भारी वाहनों के आवागमन पर प्रतिबंध लगाने संबंधी आवेदन ग्रामवासियों ने दिया है। ग्रामवासियों ने आवेदन देते हुए बताया कि ग्राम नगपुरा घना आबादी वाला गांव है। टोल टैक्स बचाने के लिए भारी वाहनों को नगपुरा से चिखली मार्ग से गुजारा जाता है। इससे सड़क क्षतिग्रस्त होने के साथ ही दुर्घटना की संभावना भी बनी रहती है। उन्होंने भारी वाहनों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है।
ग्राम पंचायत नगपुरा में किसानों के आने-जाने वाले आम रास्ते पर अवैध कब्जा कर भवन निर्माण किए जाने संबंधी शिकायत प्राप्त हुआ है। शिकायतकर्ता ने कहा है कि इससे आम नागरिकों के साथ ही किसानों को आने-जाने में काफी दिक्कत हो रही है। जामुल के श्री बाबूराव सोनी ने अग्निकाण्ड में बाएं हाथ का जल जाने से हाथ खराब हो जाने पर आजीविका के लिए आर्थिक सहायता राशि स्वीकृत करने की मांग की है।
कलेक्टर ने विभागीय अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा है कि विभागीय जनदर्शन में प्राप्त आवेदनों को जनयाचिका में शामिल करते हुए 15 दिवस के भीतर वास्तविक कार्यवाही करना सुनिश्चित करें। उन्होंने विभागों में प्राप्त आवेदनों को गंभीरता से लेने कहा है। उन्होंने कहा है कि निर्धारित समय पर निराकरण नहीं होने पर संबंधित अधिकारियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी।

Source: 
dprcg.gov.in

Related News