कलेक्टर ने समय-सीमा बैठक में दिए अधिकारियों को निर्देश

koria 22 2 edit.jpg

जिला कार्यालय के सभाकक्ष में कलेक्टर की अध्यक्षता में समय-सीमा की बैठक हुई । इसमें भू-अभिलेखों में आधार सिडिंग कार्य की प्रगति, किसान पंजीयन, श्रमिक पंजीयन, विद्युतीकरण की स्थिति, प्रधानमंत्री आवास योजना, स्वच्छ भारत मिशन, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, स्मार्ट कार्ड, सौर सुजला योजना के क्रियान्वयन को संज्ञानमें लिया गया। इसके अलावा मुख्यमंत्री जनदर्शन, कलेक्टर जनदर्शन, उच्च विभागों से प्राप्त निर्देश का पालन, समय-सीमा के प्रकरण, लोक सुराज और जिला स्तरीय जन समस्या के आवेदनों के निराकरण करने के निर्देश कलेक्टर जय प्रकाश मौर्य ने दिया। साथ ही विकास के लिए संकल्प से सिद्धि कार्ययोजना के विषय पर भी चर्चा किया गया, जिसमें विभागों को आगामी 5 वर्ष के लिए (2022 तक) कार्ययोजना तैयार करने कहा गया।
क्षेत्र के हाट-बाजार स्थल में योजनाओं के प्रचार-प्रसार के लिए पटवारी, सचिवों के माध्यम से कैम्प लगाकर स्थानीय बोली में करने के निर्देश दिए गए। मुख्यालय में अनुपस्थित रहने वाले कर्मचारियों के विरूद्ध नियमानुसार कार्रवाई करने निर्देशित किया।
बैठक में मुख्यमंत्री उच्च शिक्षा ऋण योजना का प्रचार-प्रसार स्कूलों, कॉलेजों में करने के निर्देश दिए। स्कूलों, आश्रम-पोटाकेबिनों की शौचालय की स्थतियों को संज्ञान में लिया गया । मौसमी बीमारियों की रोकथाम के लिए फागिंग मशीन का उपयोग, मितानिनों भुगतान करने, हाट-बाजार स्थल पर स्वास्थ्य सेवा की प्रगति, संस्थागत प्रसव, स्मार्ट कार्ड का उपयोग को लेकर अधिकारियों को निर्देश दिया गया । लोक सेवा केन्द्रों की सेवाओं के लिए सुव्यवस्थित संचालन में लापरवाही के लिए कोंटा तहसीलदार कों नोटिस दिया गया। इसके अलावा भी अनेक विषयों पर चर्चा की गई। इस अवसर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिपं एस. मनीवासगन वनमंडलाधिकारी के आर बढाई, डिप्टी कलेक्टर रवि साहू सहित सभी विभाग प्रमुख उपस्थित थे।

Source: 
visionnewsservice.in

Related News