कलेक्टोरेट में बना प्रदर्शन केन्द्र वीवीपैट में देख सकते हैं अपना वोट

आगामी विधानसभा चुनाव में पहली बार मतदान करने वाले युवाओं को ईव्हीएम के माध्यम से मतदान का प्रशिक्षण देने के लिए जिला निर्वाचन अधिकारी रायपुर की ओर से रायपुर के कलेक्टोरेट परिसर स्थित जिला पंचायत भवन के भूतल में एक स्थाई मतदान केन्द्र की स्थापना की गई है। इसमें मतदान कराने वाली इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन के साथ वीवीपैट भी लगाई गई है। इससे पहली बार ईव्हीएम से मतदान करने वालों को सही ढंग से मतदान करने में मदद मिलेगी।
इस स्थाई प्रदर्शन केन्द्र के प्रभारी ने बताया कि मतदान करने की जानकारी चाहने वाला कोई भी व्यक्ति यहां आकर यह मतदान करने के बारे में जानकारी ले सकता है। उन्होंने बताया कि पहली बार मतदान करने वाले युवाओं में इस बात की काफी जिज्ञासा होती है वे अपना वोट कैसे डालें.ऐसे नए मतदाताओं को जानकारी देने के लिए स्थाई प्रदर्शन केन्द्र में मतदान करने की प्रक्रिया से अवगत कराया जा रहा है। मतदान केन्द्र में अपना वोट देने के बाद वोटर वीवीपैट मशीन के माध्यम से यह देख सकता है कि उसने जिस प्रत्याशी को वोट डाला उसे ही उसका वोट गया या नहीं। वीवीपैट मशीन अर्थात वोटर वेरीफाईड पेपर आडिट ट्रेल। वीवीपैट मशीन इलेक्ट्रनिक वोटिंग मशीन के साथ जुड़ी हुई होती है। वोट डाले के बाद सात सेकेन्ड़ तक वीवीपीएटी मशीन में लाईट के साथ एक पर्ची दिखाई देती है, जिसमें प्रत्याशी का नाम और उसका चुनाव चिन्ह दिखाई देता है। इसके बाद यह पर्ची वीवीपीएटी में ही जमा हो जाती है। इसे वोटर सिर्फ देख सकता है ले जा नहीं सकता। भारत इलेक्ट्रानिक्स लिमिटेड और इलेक्ट्रॉनिक कार्पोरेशन इंडिया लिमिटेड ने वीवीपीएट का निर्माण किया है। यह मशीन अपने आप में काफी बेहतरीन मशीन है।

Source: 
visionnewsservice.in

Related News