कोरिया में आखिर ये क्या होरिया.....

जिले के चिरमिरी के बड़ा बाजार थाने बुधवार की सुबह नौ बजे दो पीडि़त पहुंचे थे मारपीट की एफआईआर लिखाने। चोट के कारण दोनों रो रहे थे, ड्यूटी पर मौजूद अधिकारी वहां टेबल पर बिस्तर लगाकर सो रहे थे। दोनों ने बड़ी विनम्रता से अधिकारी को अपनी पीड़ा बताया उस पर अधिकारी जोर से गुर्राया, ये हमारे आराम का समय है, कल लिखित आवेदन लेकर आना। गलती इतनी सी थी कि दोबारा इन दोनों ने साहब को नींद से जगा दिया, तो उन्होंने दोनों को ही थाने से भगा दिया। उधर थाने के टीआई विनीत दूबे दे रहे हैं दुहाई कि यहां ऐसा कुछ भी नहीं हुआ। आप लोगों को खबर ही गलत लगी है। तो वहीं पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला भी बगलें झांकते-झांकते कहते हैं कि मुझे भी इस मामले की खबर नहीं है। सवाल तो ये है कि जब इतनी छोटी सी बात की खबर इनको नहीं है तो फिर अपराधियों की खबर कहां तक रखते होंगे? उधर थाने में पीडि़त सिर पर हाथ रखकर रो रिया....साहब कोरिया में आखिर ये क्या होरिया?
00 क्या है पूरा मामला :
दरअसल मामला कोरिया जिले के चिरिमिरी बडा बाजार थाने का है। जहां मारपीट के एक मामले में रिपोर्ट दर्ज कराने पहुंचे दो युवकों को थाने में मौजूद पुलिसकर्मी ने बिना रिपोर्ट लिखे ही चलता कर दिया। छोटा बाजार चिरमिरी में रहने वाले दो युवक मारपीट की रिपोर्ट लिखाने सुबह लगभग नौ बजे थाना पहुंचे तो उन्होंने देखा कि थाना मौजूद पुलिसकर्मी धनसाय पैकरा टेबल पर बिस्तर लगा कर सो रहे थे। दोनों ने उन्हें जगाया और मारपीट की रिपोर्ट दर्ज करने के लिए कहा तो पुलिसकर्मी ने उन्हें लिखित आवेदन लेकर आने के लिए कह दिया।
00 साहब आएंगे तभी कुछ होगा:
इसके बाद जब युवकों ने विरोध किया तब पुलिसकर्मी ने टेबल पर लेटे हुए ही कहा कि जब साहब आएंगे तभी कुछ होगा। पुलिसकर्मी की बात मानकर लड़के दोबारा लिखित आवेदन तैयार करके थाने गए तो पुलिसकर्मी साहब ने न तो उन की रिपोर्ट की रिसीविंग दी और न ही एफआईआर दर्ज की केवल मेज पर लेटे लेटे कह दिया कि चलो अभी जाओ साहब का इंतजार करो।
सवाल तो यही है कि क्या ऐसी ही ड्यूटी के लिए इनको पुलिस विभाग में नौकरी दी गई हैï? दिन-दहाड़े थाने में सोने से जगाने वाले को भगाने वाले अधिकारियों पर पुलिस अधीक्षक भी कार्रवाई की बात करके चुप्पी साध जाते हैं। ऐसे में तो हर कोई यही सवाल करेगा न कि कोरिया में आखिर ये क्या होरिया?

Source: 
Vision News Service

Related News