खरीदी केन्द्र सप्ताह भर से बंद, विधायक बैठे धरने पर

 खरीदी केन्द्र सप्ताह भर से बंद, विधायक बैठे धरने पर

जैजैपुर क्षेत्र के खरीदी केन्द्र तुषार व नंदेली में पिछले सप्ताह भर से धान खरीदी शुरू नहीं होने से नाराज किसानों के साथ विधायक केशव चंद्रा ने बुधवार को जिला सहकारी बैंक शाखा जैजैपुर का घेराव कर दिया। किसानों ने बताया कि उक्त केन्द्रों में नियुक्त खरीदी प्रभारी को उपपंजीयक की ओर से विधि संगत न मानते हुए अमान्य कर दिया था, जिसके चलते प्रभारी की अनुपस्थिति में मामला सप्ताह भर तक लटका रहा। घेराव करने पहुंचे किसानों के साथ विधायक की उपस्थिति में आखिरकार नए खरीदी प्रभारी की नियुक्ति की गई।
जैजैपुर विधायक केशव चंद्रा के अगुवाई में क्षेत्र के किसान ग्राम पंचायत तुषार और नंदेली में धान खरीदी नहीं खोलने के आक्रोश में जिला सहकारी केंद्रीय बैंक शाखा जैजैपुर का घेराव किया। चन्द्रा ने कहा कि 15 नवम्बर से शासन की ओर से समर्थन मूल्य पर धान खरीदी शुरू कर दिया गया है, परन्तु तुषार और नंदेली खरीदी केंद्र आज तक खरीदी शुरू नहीं की गई है, न ही खरीदी की कोई व्यवस्था किया गया है, जिससे किसान हैरान और परेशान। इसी तरह सेवा सहकारी समिति कचंदा में 70 हजार क्विंटल धान खरीदी की जाती है और ज्यादा खरीदी होने के कारण किसानों को भारी परेशानी होती है, जिसे ध्यान में रखते हुुए रिवाडीह, हरदीडीह में उपकेंद्र खोलने की मांग लंबे समय से की जा रही है, लेकिन किसानों की समस्याओं को सुलझाने और इस ओर पहल करने शासन की कोई प्रयास नहीं किया गया। नाराज जैजैपुर विधायक ने क्षेत्र के किसानों के साथ जिला सेवा सहकारी केंद्रीय बैंक शाखा जैजैपुर का घेराव किया, छह घंटे बाद आखिरकार शाम होते उपपंजीयक व नोडल अधिकारी जैैजैपुर पहुंचे, जहां तुषार व नंदेली में नए प्रभारियों की नियुक्ति के साथ ही धान खरीदी शुरू किए जाने की बात कही, तब जाकर मामला शांत हुआ। इस बीच विधायक ने सप्ताह भर तक खरीदी बंद रहने के लिए जिम्मेदारी तय करने तथा दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। जिस पर जैजैपुर तहसीलदार को जांच अधिकारी बनाए जाने की बात कही गई है।
किसानों के हित में लड़ाई जारी रहेगी: चंद्रा
धरनास्थल पर मौजूद विधायक केशव चंद्रा ने कहा कि शासन-प्रशासन की ओर से किसानों की उपेक्षा बर्दाश्त नहीं की जाएगी, उनके हितों के लिए निरंतर संघर्ष जारी रहेगा। आज छह घंटे बाद अधिकारियों को सुध आई जो प्रशासनिक अक्षमता को साबित करता है।

Source: 
Vision News Service

Related News