चुनाव आयोग ने जिस तस्वीर पर लगाई है रोक, उसी तस्वीर के साथ बिलासपुर कलेक्टर ने जारी किया पत्र, ‘आप’ ने की शिकायत

चुनाव आयोग ने जिस तस्वीर पर लगाई है रोक, उसी तस्वीर के साथ बिलासपुर कलेक्टर ने जारी किया पत्र, ‘आप’ ने की शिकायत
चुनाव आयोग ने जिस तस्वीर पर लगाई है रोक, उसी तस्वीर के साथ बिलासपुर कलेक्टर ने जारी किया पत्र, ‘आप’ ने की शिकायत

मतदान के लिए जनता को प्रेरित करने के इरादे से ही सही बिलासपुर कलेक्टर के एक पत्र ने उन्हें मुसीबत में डाल दिया है. दरअसल ‘ वोट के नेवता’ पत्र लिखते हुए कलेक्टर पी दयानंद ने मतदान में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेने की अपील आम लोगों से की थी, लेकिन चूक यह हो गई कि जिस लेटरहेड पर यह पत्र लिखा गया, उसमें पंडित दीनदयाल उपाध्याय की तस्वीर छपी हुई है.

बता दें कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जन्मशताब्दी मना रही बीजेपी ने बीते साल सभी सरकारी लेटरहेड पर उनकी तस्वीर लगाए जाने का आदेश जारी किया था. आदेश के बाद प्रदेश में सभी पत्र व्यवहारों में उनकी तस्वीर लगाई जाती रही, लेकिन चुनावी आचार संहिता के बाद उस पर रोक लगा दी गई थी. शासन स्तर पर बकायदा इसे लेकर आदेश जारी किया गया था.

पंडित दीनदयाल उपाध्याय की तस्वीर लगे लेटरहेड में वोट के लिए की गई बिलासपुर कलेक्टर पी दयानंद की अपील को राजनीतिक मुद्दा बनते देर नहीं लगी. आम आदमी पार्टी ने इसकी शिकायत चुनाव आयोग से करते हुए कार्यवाही की मांग की है. आम आदमी पार्टी के मीडिया कोर्डिनेटर उचित शर्मा ने अपनी शिकायत में कहा है कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय की तस्वीर लगे लेटरहेड से जारी किया गया पत्र मतदाताओं को प्रभावित कर सकता है.

Source: 
lalluram.com

Related News