छगविस चुनाव : दूसरे चरण की 72 विधानसभाओं में 70 फीसदी से अधिक मतदान

मतदान

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने आज शाम यहां अपने कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में बताया कि सभी संबंधित 72 विधानसभा क्षेत्रों से शाम तक संकलित तदर्थ आंकड़ों के अनुसार 71.93 प्रतिशत मतदान हुआ है। मतदान प्रतिशत में और वृद्धि हो सकती है क्योंकि कुछ मतदान केन्द्रों में देर शाम 7 बजे तक टोकन प्राप्त कर चुके मतदाता कतार में लगे हुए थे और मतदान शांतिपूर्ण ढंग से चल रहा था।
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने बताया कि द्वितीय चरण की 72 विधानसभा क्षेत्रों के लिए 1079 अभ्यर्थी निर्वाचन विभाग लिए, जिसमें से 113 अनुसूचित जाति और 176 अनुसूचित जनजाति वर्ग के अभ्यर्थी थे। 72 विधानसभा क्षेत्रों में विधानसभा क्षेत्र बिंद्रानवागढ़ के दो मतदान केंद्रों 76 आमामोरा और 77 ओढ़ा में सुबह 7 बजे से दोपहर 3 बजे तक तथा शेष सभी 72 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान समय सुबह 8:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक निर्धारित था। द्वितीय चरण में कुल मतदान केंद्रों की संख्या 19336, संवेदनशील मतदान केंद्र कुल 444 और संगवारी मतदान केंद्र की संख्या 118 थी, जहां पर मतदान दल के सभी सदस्य महिलाएं थीं।
उन्होंने बताया कि द्वितीय चरण में कुल 1,54,00, 596 मतदाता ने हिस्सा लिया। इनमें पुरुष मतदाता 77,53,337 और महिला मतदाता 76,46,382 तथा थर्ड जेंडर 877 थे। द्वितीय चरण में निर्वाचन संपन्न कराने के लिए 84,688 मतदान कर्मी रिजर्व सहित नियुक्त थे। द्वितीय चरण निर्वाचन के लिए कुल मतदान केन्द्र 19336 में से 2112 मतदान केंद्रों पर वेबकॉस्टिंग कराई गई, जिससे इन मतदान केंद्रों पर सीधे भारत निर्वाचन आयोग की ओर से मतदान प्रक्रिया पर नजर रखी गई। दुर्ग जिले में अभ्यर्थी की किडनैपिंग की खबरें आ रही थी जो कि अफवाह थी।
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने बताया कि कोरिया जिले के बैकुंठपुर विधानसभा के मतदान केंद्र क्रमांक 90 बासन पारा में 106 वर्ष की महिला समुद्री पटेल ने मताधिकार का प्रयोग किया। वहीं बलौदाबाजार जिले के भाटापारा विधानसभा के सेमरा डी गांव की 100 वर्ष की महिला मतदाता, चिरमिरी की 113 वर्षीय महिला मतदाता तथा जशपुर जिले की मतदान केंद्र क्रमांक 237 भगोरा में उम्र का शतक पूरा कर चुके दूदगीपात्र और पत्नी सावित्रीबाई ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। विधानसभा कुनकुरी के फरसाबहार के ग्राम केरसई में 100 वर्ष की बीपबिटी शाडील्य ने भी मतदान में उत्साह दिखाया।
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने बताया कि सरगुजा जिले की 104 वर्ष की बुजुर्ग कनक रानी दत्ता ने अंबिकापुर विधानसभा के मतदान केन्द्र क्रमांक 73 में अपनी पुत्री, पोता, बहु और परपोती के साथ अपने मताधिकारी का प्रयोग किया। इस प्रकार लोकतंत्र के इस पर्व में भजन मतदाताओं में विशेष उत्साह देखने को मिला।
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने बताया कि दुर्ग और भचगांव बलौदाबाजार में कुछ समय के लिए मतदान केंद्र के 200 मीटर के अंदर अव्यवस्था उत्पन्न होने पर लोगों को बाहर किया गया। एनएसएस, एनसीसी, स्काउट-गाइड कैडेटों ने मतदान केंद्र पर वृद्धजन मतदाता मतदाताओं को मतदान केंद्र तक पहुंचाने में मदद की। तृतीय लिंग समुदाय के मतदाताओं में अपने वोट का प्रयोग करने के लिए विशेष उत्साह रहा। मिस ट्रांसजेंडर इंडिया वीणा सेंड्रे ने भी बड़े उत्साह से अपने मताधिकार का प्रयोग किया। एनआरआई शुभम गोयल अपने परिवार के साथ अमेरिका से आकर मनेंद्रगढ़ जिले में अपने मताधिकार का प्रयोग किया। भारतीय प्रशासनिक सेवा और भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारियों ने अपने परिवार के साथ अपने मताधिकार का प्रयोग किया।
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने बताया कि जांजगीर विधानसभा क्षेत्र में मतदान केंद्र क्रमांक 214 में भागीरथी, उसके पुत्र शिवराम और उसके पौत्र रामनारायण, इस प्रकार तीन पीढिय़ों ने एक साथ आकर उत्साह के साथ वोट किया। इसी तर्ज पर कुवरिया बाई और उसकी बहू फोटो बाई तथा नातिन बहू गिरजा बाई और रामेश्वरी बाई ने यानी एक साथ तीन पीढ़ी ने मताधिकार का प्रयोग किया। जशपुर जिले की पंडरापाठ मतदान केंद्र में मीना पहाडिय़ा ने अपनी दो दिन के नवजात शिशु को गोद में रखकर मताधिकार का प्रयोग की। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र के इस पर्व में मतदान कर मैं गौरव महसूस कर रही हूं। उन्होंने विधानसभा निर्वाचन के ठीक पहले पैदा हुआ इस बच्चे का नाम विधान रखा है। जिला बलौदा बाजार के लटुवा ग्राम की कुमारी बाई जो कि पढ़ी-लिखी नहीं थी और ना ही सुन सकती थी उन्होंने उत्साह पूर्वक मताधिकार का प्रयोग किया। भारतीय सेना में गुजरात में पदस्थ भारतीय सैनिक ने आकर अपने मताधिकार का प्रयोग किया। परविंदर सिंह सैनी निे न्यूजीलैंड से 11664 किलोमीटर की यात्रा तय कर रायपुर में आकर मतदान किया। परमिंदर रायपुर टाटीबंध के रहने वाले हैं। इस मतदाता के मतदान जज्बे का जज्बा काबिले तारीफ है।
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने बताया कि कबीरधाम, गरियाबंद,महासमुंद,बालोद, बलरामपुर सभी नक्सल प्रभावित विधानसभा क्षेत्र में शांतिपूर्ण मतदान हुआ। द्वितीय चरण में गरियाबंद और बलरामपुर जिले में मतदान दलों को मतदान केंद्र तक पहुंचाने के लिए हेलीकॉप्टर का उपयोग किया गया। गरियाबंद जिले के बिन्द्रनवागढ़ विधानसभा क्षेत्र के 2 मतदान केंद्र आामामोरा और ओढ़ जहां मतदान समय प्रात: 7:00 बजे तक निर्धारित थे जहां 82 प्रतिशत और 85.5 प्रतिशत मतदान हुआ। बिंद्रा नवागढ़ विधानसभा क्षेत्र के मतदान केंद्र क्रमांक 291 परेवापाली में ग्रामीणों ने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत अपने सड़क की मांग पूरी नहीं होने पर मतदान का बहिष्कार किया। जांजगीर-चांपा जिले की विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 36 चंद्रपुर की मतदान केंद्र क्रमांक 217 बागरेल और कोरबा जिले की जामुना पाली मतदान केंद्र-20 बीच में शून्य प्रतिशत मतदान की रिपोर्ट आई है।
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने बताया कि छत्तीसगढ़ विधानसभा निर्वाचन 2018 के द्वितीय चरण में प्रेम नगर विधानसभा क्षेत्र और रायपुर ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र से 2 मतदाताओं ने मत प्रयोग करते समय ईवीएम मशीन के वीवीपेट से प्रदर्शित पर्ची के साथ सोशल मीडिया में फोटो अपलोड किए उनके विरुद्ध आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन पाए जाने पर एफ आई आर दर्ज की गई है।
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने बताया कि मरवाही विधानसभा के मतदान केंद्र सेमरा में पीठासीन अधिकारी सुरेंद्र कुमार मंडावी और धनौली मतदान केंद्र के मतदान अधिकारी क्रमांक 3 कमल किशोर तिवारी को मतदान प्रक्रिया का उल्लंघन करने पर तत्काल निर्वाचन प्रक्रिया से बाहर रखा गया। दूसरे चरण के मतदान में बिलासपुर जिले में गौरेल्ला थाना प्रभारी एसएस सोरी और पेंड्रा थाना प्रभारी अमित पाटले को निर्वाचन कर्तव्यों के निर्वहन में लापरवाही बरतने पर तत्काल प्रभाव से लाइन अटैच किया गया। रायपुर के रामनगर मतदान केंद्र पर मतदान केंद्र के अंदर 200 मीटर की दूरी पर अवांछित लोगों की भीड़ हो जाने पर तत्काल उन्हें बाहर कराया गया।

Source: 
visionnewsservice.in

Related News