जनपद अध्यक्ष के खिलाफ प्रभारी मंत्री से की गई शिकायत

जनपद अध्यक्ष के खिलाफ प्रभारी मंत्री से की गई शिकायत

जनपद सशक्तीकरण मद की राशि का जनपद पंचायत मालखरौदा के अध्यक्ष सावित्री अजगल्ले व विधायक प्रतिनिधि रंजीत अजगल्ले की ओर से जनपद सशक्तीकरण राशि का लाखों रुपए दुरूपयोग किया जा रहा है। जिसकी शिकायत 22 नवंबर को अग्रसेन भवन में समीक्षा बैठक में लिखित शिकायत जनपद सदस्यों ने जिले के प्रभारी मंत्री अजय चन्द्राकर से की है। जनपद सदस्य और सभापति फुलेश्वर चन्द्रा, लालमणी पटेल, रामीन सोनवानी, हीरादेवी साण्ड,े पवन राज, चदकुमारी, कमलाबाई, धनेश्वरी सहित 10 जनपद सदस्यों ने अधिकारों का हनन करने का आरोप लगाया है। सदस्यों का आरोप है कि जब से चंद्रपुर विधायक की ओर से जनपद पंचायत मालखरौदा के लिए विधायक प्रतिनिधि रंजीत अजगल्ले को नियुक्त किया है तब से जनपद में मनमानी व तानाशाही रवैय्या अपनाया जा रहा है। विपक्ष और भाजपा समर्थित जनपद सदस्यों को शासन की ओर से अपने बीडीसी क्षेत्र में विकास के लिए जनपद सशक्तीकरण मद से जो राशि मिलती हैं, उसमें भी जनपद सदस्यों से भेदभाव किया जा रहा है। जबकि सरकार सभी जनपद सदस्यों के क्षेत्रों के लिए राशि दिया जाता है। जनपद पंचायत मालखरौदा के सीईओ विनय कुमार सोनी भी ध्यान नहीं दे रहे है। लगातार उपेक्षित जनपद सदस्यों ने डभरा पहुंचकर जिले के प्रभारी मंत्री अजय चन्द्राकर को अवगत कराया गया है, वहीं जनपद पंचायत में 9 नवंबर के सामान्य सभा के बैठक में जनपद सशक्तीकरण मद की राशि को सभी जपनद सदस्यों के क्षेत्र में पेयजल और स्वच्छता के संबंध में मौखिक रूप से चर्चा की जा चुकी है। इसके बाद भी जनपद सदस्यों को राशि आवंटन नहीं किया जा रहा है। जनपद सशक्तीकरण मद की लाखों रुपए का खुले आम अधिकारियों के मिलीभगत से गड़बड़झाला किया जा रहा हैं। जनपद अध्यक्ष व विधायक प्रतिनिधि के कार्यशैली से जनपद सदस्य परेशान है। जिसकी शिकायत जनपद सदस्यों की ओर से 10 नवंबर को जिला कलेक्टर व जिला पंचायत सीईओ को कर चुके है।

Source: 
Vision News Service

Related News