जिला शिक्षा अधिकारी रविवार को बच्चों को कराएंगे अध्यापन

जिला शिक्षा अधिकारी प्रवास सिंह बघेल ने 9 जनवरी को जिले के खैरागढ़ एवं छुईखदान विकासखंडों के दूरस्थ अंचल के शालाओं का आकस्मिक निरीक्षण किया। उन्होंने जालबांधा में अध्ययनरत 10वीं एवं 12वीं के बच्चों को बोर्ड परीक्षा संबंधी टिप्स भी दिए। निरीक्षण के दौरान श्री बघेल ने प्राचार्य एवं सभी स्टॉफ को अपने-अपने कोर्स समय-सीमा में पूर्ण करने के निर्देश दिए। श्री बघेल विकासखंड छुईखदान के हायर सेकंडरी अतरिया रोड पहुंचकर प्राचार्यों की बैठक ली। बैठक में प्राचार्यों को पढ़ाई में कमजोर बच्चों को विशेष कोचिंग (अतिरिक्त कक्षा) संचालित कर पढ़ाई के स्तर को सुधारने के निर्देश दिए। जिससे बोर्ड परीक्षा का परिणाम बेहतर हो सके। उन्होंने उच्चतर माध्यमिक शाला साल्हेवारा का भी आकस्मिक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान बच्चों से चर्चा की गई। बच्चों ने रसायन शास्त्र की पढाई पूर्ण नहीं होने की जानकारी दी। इस संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी ने स्वयं रविवार को 6 घंटे उपस्थित होकर बच्चों को रसायन शास्त्र का अध्यापन कार्य पूर्ण कराने का आश्वासन दिया।
श्री बघेल ने उच्चतर माध्यमिक शाला कुम्हरवाडा में बच्चों को शाला समय से पूर्व छुट्टी देने के संबंध में प्राचार्य को कारण बताओ नोटिस जारी किया। उच्चतर माध्यमिक शाला बकरकट्टा की दर्ज संख्या 203 होने के साथ-साथ बच्चों की पढ़ाई एवं शिक्षक का अध्यापन कार्य संतोषजनक होने पर शिक्षकों को शाबाशी दी गई। उन्होंने प्राथमिक शाला बकरकट्टा का भी निरीक्षण किया गया। उच्चतर माध्यमिक शाला रामपुर में शिक्षकों की कमी को देखते जिला शिक्षा अधिकारी ने ग्राम में योग्य व्यक्ति को अध्यापन कार्य करवाने के लिए नियुक्त करने के संबंध में आदेशित किया। जिससे बच्चों की पढ़ाई के स्तर को सुधारा जा सके एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र साल्हेवारा के डॉ. जेके महोबिया को अपने कार्यानुभव के अनुरूप बच्चों को बायोलॉजी विषय पढ़ाए जाने के संबंध में स्पेशल कोचिंग देने कहा। इस संबंध में डॉ. महोबिया ने भी बच्चों को विशेष कोचिंग देने जिला शिक्षा अधिकारी को आश्वासन दिया गया है।

Source: 
visionnewsservice.in

Related News