जेब है खाली, कैसे मनेगी शिक्षकों की दिवाली

जिला मुख्यालय के नगरीय निकाय में कार्यरत शिक्षक संवर्ग को विगत जुलाई माह से लंबित वेतन नहीं मिलने से आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं । शिक्षकों ने मुख्य नगर पालिका अधिकारी को दशहरा पूर्व लिखित ज्ञापन सौंपा था। यहां से उनको आश्वासन मिलाने के बाद भी वेतन भुगतान नहीं हो पाया है। अब दीपावली त्यौहार के लिए सप्ताहभर का भी समय नहीं रह गया। ऐसे में सवाल तो यही उठता है कि जब जेब हो खाली तो कैसे मनेगी इन शिक्षकों की दिवाली ?
00 अधिकारी कटवा रहे चक्कर पे चक्कर :
नगर पालिका जांजगीर-नैला ने सैकड़ों की संख्या में पदस्थ शिक्षक संवर्ग के कर्मचारी चार माह से वेतन भुगतान लंबित होने को लेकर परेशान है। कर्मचारी लगातार अधिकारियों के चक्कर काट रहे है। हालांकि सीएमओ की ओर से अतिशीघ्र वेतन भुगतान करने की बात कही गई थी, लेकिन आज तक शिक्षक संवर्ग का वेतन भुगतान नहीं हुआ है। गौरतलब है कि नगर की नगरीय निकाय में कार्यरत शिक्षक संवर्ग का वेतन विगत जुलाई माह से लंबित है, जिसके लिए शिक्षक पंचायत कई बार वेतन के संबंध में सीएमओ सहित संबंधित बाबू से भी समस्या अवगत कराते रहे हैं, लेकिन वे इस दिशा में किसी प्रकार का उचित पहल नहीं करते हुए केवल आश्वासन दे रहे हैं। लंबित वेतन के भुगतान नहीं होने से शिक्षकों में रोष है साथ ही इनके सामने आर्थिक समस्या उत्पन्न हो गई है और परिवार का भरण-पोषण करने में भारी दिक्कत हो रही है।

Source: 
Vision News Service

Related News