जोगी को मुख्यमंत्री बनाने के लिए एकजुट रहना होगा : लालजी

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) बहुजन समाज पार्टी और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी गठबंधन का आज दोपहर सम्मेलन हुआ। उत्तरप्रदेश में बसपा विधायक दल के नेता लालजी वर्मा ने कहा कि बहन मायावती ने जोगी को गठबंधन का मुख्यमंत्री पद के प्रत्याशी घोषित किया है। अतः बहन की इच्छा के अनुरूप हम सब को मिलकर इस चुनाव को जीतते हुए जोगी को मुख्यमंत्री बनाने के लिए एकजुट रहना होगा ताकि प्रदेश में पिछडे़ अनुसूचित जाति, जनजाति, गरीब के साथ हो रहे लगातार 15 वर्षों का शोषण समाप्त हो सकें।
महागठबंधन के मुख्यमंत्री पद के प्रत्याशी अजीत जोगी विधायक अमित जोगी, आर.के. राय, सियाराम कौशिक, रेणु जोगी, पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष धरमजीत सिंह, पूर्व सांसद देवव्रत सिंह, उत्तरप्रदेश बसपा विधायक दल के नेता लालजी वर्मा, सांसद अशोक सिद्धार्थ, छत्तीसगढ़ प्रभारी एम.एल. भारती, प्रदेश अध्यक्ष ओपी वाजपेयी, मनीष कुंजाम और नन्दालाल सोढ़ी की उपस्थिति में बैठक हुई।
जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के प्रदेश प्रवक्ता सुब्रत डे ने बताया कि बैठक में सभी प्रत्याशियों ने अजीत जोगी को अपनी विधानसभा क्षेत्र में पार्टी के प्रति जनता के रूझान का बुथवार ब्यौरा, पार्टी एवं सभी विभाग (प्रकोष्ठ) की ओर से प्रत्याशी के पक्ष में किये गये कार्यो की जानकारी और अपनी-अपनी जीत का भरोसा दिलाया।
प्रत्याशियों ने खुलकर अपनी बातें रखी। इस दौरान विधायक अमित जोगी और सेवानिवृत्त एडीएम कमल अग्निभोज ने एक-एक प्रत्याशी और जिलाध्यक्षो को मतगणना के दिन की सावधानियां बरतने के निर्देश दिए। साथ ही पूरी मतगणना को सम्पन्न करने सहित एआरओ व मतदान अभिकर्ता के कार्य, त्रुटियों पर आपत्तियों का ढंग सहित ईवीएम मशीन के खुलने से लेकर जिला निर्वाचन अधिकारी की ओर से विजयी प्रमाण पत्र सौंपने तक के क्रियाकलापों की विस्तृत चर्चा की गई और सभी प्रत्याशियों को उनके किये जाने वाले कार्यो की जानकारी दी गई।
सम्मेलन को संबोधित करते हुए अजीत जोगी ने कहा कि यह चुनाव अन्य विधानसभा चुनाव से अलग है। यह मात्र तीन पार्टियों का ही नहीं वरन् परस्पर आपसी विचारधाराओ का गठबंधन है। आज की यह बैठक अजीत जोगी को किंग या किंगमेकर कहे जाने के लिए नहीं बल्कि यह तय करने के लिए है कि मतगणना के तत्काल बाद इस प्रदेश की जनता प्रदेश की किंग बन सकें। यह चुनाव हम प्रदेश के ढाई करोड़ जनता के प्रतिनिधि के रूप में लड़ रहे हैं। इसलिए यह जीत हमारी ही नहीं उन जनता की होगी जिन्होंने विगत 15 वर्षों में सरकार के कुशासन के कारण बहुत दुख दर्द उठाया और परिवर्तन कर हमें चुना। हमने इस गठबंधन को कागज से हटाकर दिलों के बीच भी बनाया है।

Source: 
visionnewsservice.in

Related News