डेंगू से वॉलीबॉल खिलाड़ी की मौत, प्रदेश में अब तक हो चुकी 13 मौतें…

डेंगू से वॉलीबॉल खिलाड़ी की मौत, प्रदेश में अब तक हो चुकी 13 मौतें…

जिले में डेंगू का प्रकोप लगातार जारी है. यहां एक बार फिर डेंगू के चलते 13 साल की वालीबॉल खिलाड़ी की मौत हो गई है. जिले में अब तक कुल 13 मौते हो चुकी है. जिले के 28 निजी अस्पतालों ने डेंगू के मरीजों से उपचार के लिए के आदेश कलेक्टर ने दिए है उसके बावजूद भी मौतों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है.

जानकारी के मुताबिक भिलाई के सेक्टर 5 रहने वाली वालीबॉल खिलाड़ी पूजा सोना डेंगू के डंक से ग्रासित थी. जिसका इलाज हॉस्पिटल में चल रहा था. तभी अचानक तबीयत बिगड़ने लगी उसने आज सुबह दम तोड़ दिया. होनहार खिलाड़ी की मौत के बाद से परिजनों में काफी आक्रोश है और रो-रोकर बुरा हाल हो रहा है.

जिले के कई इलाकों में डेंगू ने अपना पैर पसार लिया है. जिसके बाद जिले में डेंगू पीड़ितों का आकड़ा बढ़ता जा रहा है. प्रशासन द्वारा रोकथाम की पहल तो शुरु कर दी गई है. इसके बावजूद भी डेंगू से ग्रासित लोगों को बचाया नहीं जा पा रहा है. जिले में अब तक ड़ेंगू के 283 पॉजिटिव मरीज और 500 से भी अधिक संभावित मरीज है.

बता दें कि लल्लूराम डॉट कॉम ने 12 मौतों के बाद खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया था. जिसके बाद प्रशासन हरकत में आई. खबर प्रकाशित किये जाने के बाद कलेक्टर उमेश अग्रवाल ने मेडिकल एसोसिएशन के साथ एक आपात बैठक की थी. जिसमें उन्होंने निजी अस्पतालों के द्वारा डेंगू के मरीजों के इलाज पर किये गये मेडिकल खर्च को शासन के द्वारा वहन किये जाने की बात कही है. जिसके बाद जिले के 28 निजी अस्पतालों ने डेंगू के मरीजों से उपचार के लिए पैसे न ​लिये जाने का भरोसा कलेक्टर को दिलाया है.

इसके अलावा कलेक्टर ने जिले के समस्त विभागों में पदस्थ अधिकारियों और कर्मचारियों की छुट्टी पर भी रोक लगा दी है. कलेक्टर द्वारा जारी आदेश में कहा किया है कि यदि इस बीच किसी अधिकारी और कर्मचारी को छुट्टी लेना है, तो उसे एडीएम, एसडीएम और जिला पंचायत सीईओ से अनुमति लेना जरूरी है. साथ ही कलेक्टर ने जिले के सभी विभागों को डेंगू से बचाव के लिए भी उचित कदम उठाने को कहा था.

Source: 
lalluram.com

Related News