तालाब फूटने से शहर में घुसा पानी, प्रशासन ने की अपील- जरूरी सामान लेकर लोग सुरक्षित स्थान पर चले जाएं…

तालाब फूटने से शहर में घुसा पानी, प्रशासन ने की अपील- जरूरी सामान लेकर लोग सुरक्षित स्थान पर चले जाएं…

जिले में बारिश का कहर लगातार जारी है. सुबह से हो रही लगातार बारिश से नए बस स्टैंड के सामने स्थित दुधावा तालाब फूटने से नए बस स्टैंड और कलेक्टोरेट भवन में पानी घुस गया है. जिससे शहर में अफरा तफरी मच गई है .

हालांकि तंडव मचाने के बाद बारिश थम भी गई है,लेकिन जाते जाते बारिश ने अपना विकराल रूप दिखा दिया है. लेकिन इस मामले के बाद एक बार फिर जिला प्रशासन की लापरवाही उजागर हो गई है. बता दें कि इसके पहले 2016 में आई बाढ़ में भी दुधावा तालाब फूटा था.तब इस तालाब में पिचिंग करने की मांग की गई थी.लेकिन प्रशासन की उदासीनता के चलते अब तक इस तालाब में पिचिंग कार्य नहीं हो सका और भारी बारिश के चलते फिर से तालाब फूंटने से शहर का एक इलाके में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है. वहीं जिला कार्यलय समेत बस स्टैंड में पानी घुसने से लोग दहशत में है.

प्रशासन ने की अपील…

इसी बीच ने जिला प्रशासन ने लोगों से अपील भी की है. अपील जारी करते हुए प्रशासन ने कहा है कि विगत 24 घंटों से कांकेर जिले में लगातार हो रही बारिश के चलते दूध नदी का जलस्तर काफी बढ़ गया है और इसी तरह जल स्तर बढ़ने से कांकेर शहर में पानी चढ़ने की आशंका बनी हुई है. प्रशासन ने कांकेर के लोगों से निवेदन किया है कि जो भी दुध नदी के किनारे बसे हुए हैं, वह वार्ड वासी अपना जरूरी सामान बांधकर सुरक्षित स्थानों में रखें तथा किसी भी प्रकार की अापात स्थिति होने पर तुरंत कांकेर शहर के पुराने कमेटी हॉल में सपरिवार पहुंचे.

आगे प्रशासन ने कहा है कि नदी तट से दूरी बनाए रखें.नदी का जलस्तर देखने अथवा मछली पकड़ने के लिए भी नदी तट पर ना जाएं, पेड़ और पहाड़ के उपर कोई भी न चढ़ें, नदी नाले मे फोटो न खिचावें, नदी मे कोई डुबकी ना लगाएं, किसी भी प्रकार की महामारी आने पर या स्वास्थ्य संबंधित कोई भी समस्या होने पर तत्काल स्वास्थ्य केंद्र में सूचना भेजें. अधिक जानकारी के लिए एसडीएम भारती चन्द्राकर 9407919878, तहसीलदार कांकेर टीपी साहू 8964856876 और स्वास्थ्य समस्या होने पर स्वास्थ्य अधिकारी 9406027066 से संपर्क कर सकते हैं.

Source: 
lalluram.com

Related News