नक्सलियों की फिर कायराना करतूत, 5 लाख रुपए के तेंदूपत्ता को किया आग के हवाले, पहले भी कर चुके हैं करोड़ों कि लकड़ियां खाक

नक्सलियों की फिर कायराना करतूत, 5 लाख रुपए के तेंदूपत्ता को किया आग के हवाले, पहले भी कर चुके हैं करोड़ों कि लकड़ियां खाक

जिले के माओवाद प्रभावित क्षेत्र मानपुर और इसके आसपास के इलाकों में माओवादियों ने रविवार को तेंदूपत्ता के आधा दर्जन फड़ में आग लगा दी है. इस आगजनी में करीब 5 लाख रूपए के तेंदूपत्ता के जलने का अनुमान है. मानपुर इलाके में माओवादी लगातार घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं.

तेंदूपत्ता ठेकेदारों पर शिकंजा कसने और उनसे उगाही करने वाले माओवादी तेंदूपत्ता तोड़ाई के मौसम में सक्रिय हो जाते हैं. रविवार देर रात माओवादियों ने मदनवाड़ा से लगे आधा दर्जन तेंदूपत्ता फड़ को आग के हवाले कर दिया है. इस आगजनी में डेढ़ से दो सौ मानक बोरा तेंदूपत्ता जलकर राख हो गया है. नक्सलियों ने रेतेगांव, जलवाही, मूरचर व कुंजकनहार समेत एक और गांव के फड़ को आग के हवाले कर दिया हैं.

करीब छह फड़ को आग के हवाले किया गया है. वन विभाग के द्वारा जिले में तेंदूपत्ता की तोड़े की जा रही हैं और जंगल के गांवों में तेंदूपत्ता तोड़ाई के बाद उसे संग्रहण कर रखा गया था. इस तेंदूपत्ता का परिवहन होता इससे पहले माओवादियों ने इसे आग के हवाले कर दिया. तेंदूपत्ता की प्रति मानक बोरा कीमत 25 सौ रूपए है. डेढ़ से दो सौ मानक बोरा तेंदूपत्ता जल जाने से वन विभाग को करीब चार से पांच लाख रूपए के नुकसान का अनुमान है. तेंदूपत्ता के जिन फड़ों में माओवादियों ने आग लगाया है उसके संबंध में पता चला है कि आधे से ज्यादा वन विभाग के पास ही थे. कुछ फड़ जरूर ठेके पर चल रहे थे शेष वन विभाग के थे.

ठेकेदारों से करते हैं सांठगांठ

माओवादी जंगल में तेंदूपत्ता की कटाई का ठेका लेेने वाले ठेकेदारों से जमकर उगाही करते हैं. जंगल में काम करने के एवज में ठेकेदार माओवादियों से सांठगांठ कर भी काम करते हैं. उगाही के लिए माओवादी हर साल इस तरह की घटनाओं को अंजाम भी देते हैं. तेंंदूपत्ता ठेकेदारों की नक्सलियों से सांठगांठ होने की शिकायत पूर्व में आईजी जीपी सिंह से शिकायत भी हो चुकी है. राजनांदगांव जिले के दो तेंदूपत्ता ठेकेदारों की नामजद शिकायत आईजी से की जा चुकी है. जिसकी जांच चल रही है. इससे पूर्व 24 मई को मावोवादियों ने मानपुर के बसेली स्थित पानबरस वन डिपो में आगजनी की घटना को अंजाम दिया था जिसमे करोड़ो की इमरती सागौन की लकड़ी जलकर खाक हो गई थी.

ज्ञात हो सीएम रमन सिंह की विकास यत्रा 5 जून को महोला मानपुर पहुंचेगी. ऐसे में लगातार हो रही नक्सलाी घटना पुलिस के लिए सर दर्द बन गई है. और पुलिस ने इलाके में सर्च अभियान तेज कर दिया है.

Source: 
lalluram.com

Related News