नक्सलियों ने ठेकेदार की हत्या की, छबिन्द्र ने उठवाई लाश

नक्सलियों ने ठेकेदार की हत्या की, छबिन्द्र ने उठवाई लाश

बस्तर टाइगर के नाम मशहूर कांग्रेस के दिग्गज नेता रहे स्व. महेन्द्र कर्मा के बेटे छबिन्द्र ने बुधवार को नक्सलियों की जनअदालत में मारे गए ठेकेदार की लाश घटना स्थल से बाहर निकाली। छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में बुधवार सुबह जनअदालत लगाकार नक्सलियों ने ठेकेदार गणेश नायडू कीबेरहमी से गला रेतकर हत्या की थी। ठेकेदार की लाश को रेलवे स्टेशन के समीप फेंककर नक्सली भाग गए थे। आखिरकार हौसला दिखाते हुए कांग्रेस नेता छविन्द्र अपने सुरक्षा गार्डों और साथियों के साथ पहुंचे और लाश को एम्बुलेंस में रखवाकर रवाना किया।
छबिन्द्र कर्मा व तुलिका कर्मा ने कहा कि ठेकेदार गणेश नायडू उनके पिता महेन्द्र कर्मा के करीबी थे। दोपहर तक किसी तरह की कार्यवाही होता ना देख हमने अस्पताल में बात कर एम्बुलेंस की व्यवस्था की। एम्बुलेंस के आते ही हमने साथियों के साथ मिलकर लाश को घटना स्थल से बाहर निकालकर अस्पताल भिजवाया। आमतौर पर नक्सली किसी की हत्या कर जवानों को एंबुश में भी फंसा लेते हैं शायद इस वजह से पुलिस की तरफ से लाश उठाने के लिए जल्द कोई एक्शन नहीं लिया गया।
ज्ञात हो कि भांसी थाना क्षेत्र के कमालूर में जिंदल कम्पनी के सर्वे का काम देखने वाले ठेकेदार गणेश नायडू को नक्सलियों ने फोन करके बात करने बुलवाया, इसके बाद जनअदालत लगाकर उसकी गला रेतकर हत्या कर दी है। जिंदल कंपनी की जिस बोलेरो में वो नक्सलियों से मिलने गया था उसे भी नक्सलियों ने जला दिया, लौह अयस्क खदान की लीज स्वीकृति से पहले ड्रिलिंग के जरिये पूर्वेक्षण का काम जिंदल कम्पनी कर रही है। पहले भी मशीनें जलाए जाने और मजदूरों की बेदम पिटाई की घटना इस इलाके में हो चुकी है।

Source: 
visionnewsservice.in

Related News