निःशक्तजनों को 29 लाख रुपए की दी गई आर्थिक सहायता

निःशक्तजनों को 29 लाख रुपए की दी गई आर्थिक सहायता

सुशासन दिवस के मौके पर आज यहां जिला कार्यालय में निःशक्तजनों को राज्य सरकार के समाज कल्याण विभाग की दो योजनाओं के अंतर्गत 29 लाख 76 हजार की राशि वितरित की गई। इनमें 24 जोड़े विवाहित दिव्यांगजनों को निःशक्तजन विवाह प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत 11 लाख 76 हजार राशि और निःशक्तजन वित्त और विकास निगम की योजना के अंतर्गत 6 हितग्राहियों को 18 लाख रुपए की ऋण सहायता की राशि शामिल है। कलेक्टर जे.पी.पाठक के निर्देशानुसार अपर कलेक्टर जोगेन्द्र नायक ने उन्हें निर्धारित राशि के चेक सौंपे और सुखद दाम्पत्य जीवन के लिए आशीर्वाद दिया। इस अवसर पर उप संचालक समाज कल्याण आशा शुक्ला भी उपस्थित थीं। उन्होंने योजना के बारे में विस्तार से बताया। शुक्ला ने जानकारी देते हुए कहा कि एक अप्रैल 2016 से योजना में कुछ बदलाव हुआ हुआ है। योजना के अंतर्गत विवाहित दम्पति में से यदि कोई एक निःशक्त है तो उन्हें 50 हजार रुपए और यदि दोनों निःशक्त हैं तो उन्हें एक लाख रुपए की राशि दी जाती है।
समाज कल्याण विभाग की ओर से समाजसेवी संस्था गृहिणी के सहयोग से आज विवाह योग्य दिव्यांगजनों का परिचय सम्मेलन भी आयोजित किया गया। यह सम्मेलन नगर भवन बलौदाबाजार में संपन्न हुआ। बलौदाबाजार सहित आस-पास के जिलों से आए लगभग 250 निःशक्तजनों ने इसमें हिस्सा लिए। गृहिणी संस्था की अध्यक्ष रूपा श्रीवास्तव और उनकी टीम की ओर से उनकी काउंसिलिंग की गईं। दिव्यांगजनों के परिजनों ने भी परस्पर संवाद किए और अंत में सात जोड़े विवाह के लिए प्रारंभिक रूप से सहमत हुए। जिला पंचायत अध्यक्ष पूनम मार्कण्डेय ने इन जोड़ों का पुष्पाहार से स्वागत करते हुए आशीर्वाद प्रदान किया। समाज कल्याण विभाग के उप संचालक आशा शुक्ला ने कार्यक्रम की सफलता के लिए सभी संबधित जनों के प्रति आभार प्रकट किया।

Source: 
visionnewsservice.in

Related News