पलाड़ीखुर्द सरपंच के खिलाफ ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन

23 H-h.jpg

सक्ती विकास खण्ड क्षेत्र के ग्राम पलाड़ीखुर्द के ग्रामवासी महिला और पुरुषों ने सरपंच राजाराम पटेल की मनमानी के खिलाफ राजस्वा अधकारी के कार्यालय जाकर ज्ञापन सौंपा । ये ज्ञापन अनुविभागीय अधिकारी को राज्यपाल के नाम दिए गए । शिकायतकर्ताओं ने बताया कि सरपंच अपने रिश्तेदारों को शासकीय भूमि के पट्टे दे रहा है ।
इस अवसर पर ग्रामवासियों को जोगी कांग्रेस के पदाधिकारियों की ओर से समर्थन देते हुए उनकी मांगों को जायज ठहराया और शीघ्र कार्रवाई करने की मांग की। ग्रामवासियों के अनुसार गांव की गलियां और सड़कें कीचड़ व गंदगी से सराबोर है जिस ओर सरपंच की ओर से कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। सरपंच की ओर से किए गए अतिक्रमण के लिए कलेक्टर से शिकायत के बाद भी शासन की ओर से कोई उचित कार्रवाई न होने से सरपंच के हौसले बुलंद हैं । ग्रामीणों ने 23 अगस्त को दिए गए आवेदन पर भी कोई कार्यवाही नहीं होने पर भविष्य में उग्र आंदोलन करने की चेतावनी दी है।

इस अवसर पर ग्रामवासी संध्या देवी पटेल, फिरतीन बाई, गणेशी बाई, गोमती बाई, राधा बाई, परदेशी टंडन, बेनूराम पटेल, शिव कुमार, शुकलाल, संतोषी, दिलाशा बाई सहित सैकडों की संख्या में ग्रामवासी उपस्थित थे। समर्थन में जनता कांग्रेस सक्ती के नरेश अग्रवाल, धनेश्वर जायसवाल, अर्जुन राठौर, महेश यादव, स्मिता गोयल, तेरस खुर्से, जगेश्वर जायसवाल, बिट्टू यादव, बरतराम निशाद, भरत कुर्रे सहित बड़ी संख्या में पदाधिकारी और कार्यकर्ता उपस्थित थे।
तीन सदस्यीय जांच टीम की रिपोर्ट के बाद होगी कार्रवाई: एसडीएम
इस संबंध चर्चा किए जाने पर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व बर्मन ने बताया कि पूर्व में ग्रामवासियों की शिकायत पर पटवारी के माध्यम से अतिक्रमण संबंध में जांच कराई गई थी। पटवारी की ओर से सरपंच ने किसी भी प्रकार का अतिक्रमण नहीं करने की रिपोर्ट दी गई है। 23 अगस्त को फिर ग्रामवासियों की ओर से शिकायत मिलने पर 3 सदस्यीय जांच समिति का गठन कर सरपंच की ओर से किए गए अतिक्रमण की आरोप पर जांच कराने के बाद संबंधित लोगों पर कार्यवाही की जाएगी ।

Source: 
visionnewsservice.in

Related News