पारदर्शिता और निष्पक्षता के साथ मतगणना करने के निर्देश

पारदर्शिता और निष्पक्षता के साथ मतगणना करने के निर्देश

विधानसभा निर्वाचन 2018 के तहत आगामी 11 दिसंबर को होने वाली मतगणना के लिए मतगणना दलों को प्रथम चरण का प्रशिक्षण कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में दी गयी। इस मौके पर प्रभारी कलेक्टर एवं सीईओ जिला पंचायत जगदीश सोनकर ने मतगणना दलों में शामिल गणना पर्यवेक्षक, गणना सहायक सहित माइक्रो आब्जर्वर, टेबुलेशन दल के अधिकारी-कर्मचारियों को पूरी पारदर्शिता और निष्पक्षता के साथ मतगणना संपन्न करने के निर्देश दिये। उन्होने मतगणना की महत्ता को ध्यान में रखते हुए गोपनीयता रखने के लिए सतर्कता बरतने अधिकारी-कर्मचारियों को निर्देशित किया।
इस दौरान उप जिला निर्वाचन अधिकारी जीआर राठौर ने बताया कि मतगणना कार्य को सावधानीपूर्वक करना है, किसी भी प्रकार की त्रुटि न करें। किसी भी प्रकार की दिक्कत के लिए वे रिटर्निंग अफिसर या सहायक रिटर्निंग आफिसर को तत्काल अवगत करा सकते हैं। उन्होने बताया कि गणना कक्ष में मोबाइल तथा अन्य डिवाइस का उपयोग पूर्णत: प्रतिबंधित है। उन्होने सभी अधिकारी-कर्मचारियों को मतगणना स्थल पर निर्धारित समय से पूर्व उपस्थित होने निर्देशित किया। प्रशिक्षण में जिला स्तरीय मास्टर्स ने अवगत कराया कि सबसे पहले डाक मत पत्रों की गणना होगी। मास्टर्स टे्रनर्स की ओर से मतगणना के दौरान ईव्हीएम की कंट्रोल यूनिट की सीलिंग खोलने, कंट्रोल यूनिट को चालू करना तथा परिणाम की गणना, हरेक राउण्ड के बाद फार्म 17 सी भाग दो प्रतिपूरित करना ईत्यादि के बारे में विस्तारपूर्वक अवगत कराया गया। इसके साथ ही मतगणना दलों के शंकाओं का समाधान किया गया। प्रशिक्षण में अपर कलेक्टर दिलीप अग्रवाल सहित प्रशिक्षण में सहायक रिटर्निंग अफिसर तथा मतगणना दायित्व से जुड़े अधिकारी-कर्मचारी मौजूद थे।

Source: 
visionnewsservice.in

Related News