प्रदूषण जांच कराने की यातायात पुलिस की अपील

यातायात पुलिस ने वाहन चालकों/मालिकों से अपील है कि अपने वाहनों के वायु प्रदूषण की जांच प्रदूषण जांच केन्द्रों में जाकर अनिवार्य रूप से कराकर रायपुर शहर के बढ़ते प्रदूषण को नियंत्रित करने में अपना सहयोग देकर जिम्मेदार नागरिक बनें।
शहर में वाहनों के अत्यधिक संख्या में आवागमन से वायु प्रदूषण का घनत्व काफी बढ़ा है। वायु प्रदूषण बढऩे से मानव स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव पड़ता है साथ ही वाहन चालक को वाहन र्में इंधन पर खर्च अधिक आता है । वायु प्रदूषण को खतरनाक श्रेणी में पहुंचने और जन सामान्य के स्वास्थ्य पर नकारात्मक असर को रोके जाने के लिए वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशानुसार यातायात पुलिस रायपुर की ओर से शहर के प्रमुख स्थानों में प्रदूषण प्रमाण पत्र नहीं रखने वाले वाहन चालकों और अत्यधिक कार्बन उत्सर्जन कर प्रदूषण फैलाने वाहन चालकों के विरुद्ध कार्रवाई की गई। कार्रवाई के दौरान 215 वाहन चालकों के विरूद्ध प्रदूषण प्रमाण पत्र नहीं रखने से मोटरयान अधिनियम की धारा 190 (2) के तहत कार्रवाई कर समन शुल्क परिशमन किया गया। वायु प्रदूषण नियंत्रण के लिए वाहनों में प्रदूषण प्रमाण पत्र की जांच कार्रवाई लगातार जारी रहेगी।
यातायात पुलिस ने शहर के व्यस्ततम मार्गो के यातायात व्यवस्था के साथ-साथ यातायात नियमों का उल्लघंन करने वाले वाहन चालकों पर-215 प्रदूषण प्रमाण पत्र नहीं रखने वाले, 10 बिना हेलमेट के दोपहिया वाहन चालक और 121 मोटरयान अधिनियम के अन्य नियमों का उल्लंघन करने पर और 7 आटो वाहन परमिट शर्तो के उल्लंघन करने पर कुल 353 वाहन चालकों के विरूद्ध चालानी कार्रवाई की।

Source: 
Vision News Service

Related News