प्रदेश में सभी निजी अस्पतालों के ओपीडी बंद, मरीज भटकने को मजबूर, सरकारी अस्पताल शाम तक खुले रहेंगे

WhatsApp-Image-2019-01-30-at-10.37.21-AM-990x556.jpeg

छत्तीसगढ़ में लगातार डॉक्टरों के साथ हो रही हिंसा और मारपीट का इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) विरोध कर रहा है. इस विरोध में आज प्रदेश के सभी निजी अस्पतालों ने ओपीडी बंद रखने का निर्णय लिया गया है. जिसका असर राजधानी में देखने को मिल रहा है. निजी अस्पतालों के ओपीडी दोपहर दो बजे तक बंद रहेगा.

निजी अस्पतालों के ओपीडी बंद होने की वजह से मरीजों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. सबसे ज्यादा परेशानी रोजाना चेकअप के लिए आए मरीजों को हो रही है, मरीज अस्पताल के बाहर भटकने को मजबूर है. हालांकि सरकारी अस्पतालों के ओपीडी सुबह से चालू है. जिससे सरकारी अस्पतालों में यह सुविधा का लाभ लोग ले सकते है.

स्वास्थ्य विभाग ने निजी अस्पतालों में ओपीडी बंद को देखते हुए विशेष व्यवस्था बनाने के निर्देश जारी किया है. मरीजों की परेशानी को देखते हुए मेकाहारा अस्पताल और सभी सरकारी अस्पताल की ओपीडी सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक खुली रहेगी. साथ ही सभी सरकारी अस्पतालों में सरकारी डॉक्टरों और स्टाफ को अस्पतालों में मुस्तैद रहने के निर्देश दिए गए है. बता दें कि दुर्ग के एक निजी अस्पताल में मरीज के परिजनों ने डॉक्टर से मारपीट कर अस्पताल में तोड़फोड़ की थी.

Source: 
lalluram.com

Related News