बच्चों के गायब होने का मामला, बाल आयोग ने लिया संज्ञान, जांच करने पहुंची चाइल्ड शेल्टर होम…

बच्चों के गायब होने का मामला, बाल आयोग ने लिया संज्ञान, जांच करने पहुंची चाइल्ड शेल्टर होम…

राजधानी के चाइल्ड शेल्टर होम से 3 बच्चों के गायब होने के मामला में बाल संरक्षण आयोग ने संज्ञान लिया है. आयोग की अध्यक्ष प्रभा दुबे आज शेल्टर होम में जांच के लिए पहुंची और उन्होंने शेल्टर होम की प्रभारी से पूरे घटनाक्रम की विस्तार से जानकारी ली. प्रभा दुबे ने शेल्टर होम में रह रहे दूसरे बच्चों से भी गायब हुए बच्चों के बारे में जानकारी ली.साथ ही शेल्टर होम में दी जा रही सुविधाओं की भी जानकारी ली.
बता दें कि शंकर नगर कैलाश रेसीडेंसी स्थित संकल्प शेल्टर होम से कल रहस्यमय तरीके से 3 बच्चे गायब हो गये थे,जिसके बाद पुलिस में मामला दर्ज कराया गया था.बताया जाता है कि अज्ञात आरोपी बच्चों को बहला फुसलाकर अपने साथ ले जाया गया है. बच्चे बाथरूम के रोशनदान तोड़कर भागे हैं. पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. वहीं प्रबंधन अपह‍रण की आशंका भी जता रही है.

मिली जानकारी के अनुसार यह सिविल लाइन थाने का मामला है. गायब हुए सभी बच्चो की उम्र 14 से 17 साल बताई जा रही है. तीनों बच्चे कोरिया, सतना और समस्तीपुर बिहार के रहने वाले बताए जा रहे हैं. शेल्टर हाउस के बाथरूम की रोशनदान तोड़कर ये बच्चे बाहर निकले है. इस पूरे मामले को अपहरण की दृष्टि से भी देखा जा रहा है. वहीं शिकायत के बाद पुलिस 363 धारा नाबालिग का अपहरण का मामला दर्जकर आरोपी और बच्चों की तलाश में जुट गई है.
बता दें कि ये घटना 8 जुलाई की रात 2 बजे की है. फिर भी संकल्प शेल्टर होम ने इसकी जानकारी पुलिस को नहीं दी थी. मामले को तूल पकड़ता देख शेल्टर होम ने बाद में थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है. इससे संकल्प शेल्टर होम की लापरवाही भी साफ दिखाई दे रही है.

वहीं संकल्प शेल्टर होम में कोई व्यवस्था नहीं की गई है. यहा तक की गार्ड की भी कोई व्यवस्था नहीं है. ये भी बताया जा रहा है कि बच्चे अज्ञात लोगों के संपर्क में थे.

Source: 
lalluram.com

Related News