बुनियादी शिक्षा मुहैया कराने डिश टीवी ने हाथ मिलाया

राष्ट्र निर्माण में योगदान के साथ एशिया के सबसे बड़े डीटीएच ब्रांड प्रदाता डिश टीवी ने भारत में उत्तर प्रदेश के ग्रामीण हिस्सों में वंचित बच्चों को बुनियादी शिक्षा मुहैया कराने के लिए एकल विद्यालय और भारत लोक शिक्षा परिषद् (बीएलएसपी) से हाथ मिलाया है। उत्तर प्रदेश में सैकड़ों बच्चों की जिम्मेवारी लेने के बाद विचार हर तिमाही, हर वर्ष इस संख्या को बढ़ाने का है और भारत में निरक्षरता उन्मूलन के मिशन में योगदान का है।
एशिया के सबसे बड़े डीटीएच ब्रांड होने और एक जिम्मेदार कॉर्पोरेट होने के नाते डिशटीवी ने अपने लाखों उपभोक्ताओं के नेटवर्क का उपयोग कर इस उद्देश्य के लिए योगदान बढ़ाने के लिए किया है। हर बार जब एक डिशटीवी उपभोक्ता समय पर रिचार्ज करेगा, उस रकम का कुछ हिस्सा एक बच्चे को पढ़ाने के इस उद्देश्य के लिए दिया जाएगा। हमारे सम्माननीय उपभोक्ता घर में बैठकर और अपना मनोरंजन करते हुए अपना योगदान दे सकेंगे।
इस गठजोड़ के बारे में डिशटीवी के समूह मुख्य कार्यकारी अधिकारी अनिल दुआ ने कहा, वंचित बच्चों की शिक्षा जैसे महान उद्देश्य के लिए योगदान कर हम गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। इन बच्चों के लिए अपने इस प्रयास के कारण हमें लग रहा है कि हम अपने राष्ट्र के विकास में योगदान दे रहे हैं। अगले कुछ सालों में हमारा लक्ष्य देश भर में हजारों स्कूल गोद लेना है ताकि ग्रामीण शिक्षा में ज्यादा से ज्यादा योगदान दे सकें।

Source: 
Vision News Service

Related News