मीसाबंदियों को सम्मान निधि देने की मांग

इमरजेंसी के दौरान मीसा बंदियों को गिरफ्तार किए गए थे। उनके लिए मध्यप्रदेश सरकार की ओर से सम्मान निधि देने की मांग की गई है। भाजपा के पूर्व संभागीय संगठन सहायक गोवर्धन जायसवाल ने मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह को इस संबंध में ज्ञापन सौंपा।
उन्होंने ज्ञापन में कहा है कि छत्तीसगढ़ के सभी मीसा बंदी अविभाजित मध्यप्रदेश के कार्यकर्ता रहे हैं। उन्हें दोयम दर्जे का न समझा जाए। मध्यप्रदेश की तरह सम्मान निधि देने की व्यवस्था होनी चाहिए। गोवर्धन जायसवाल ने आगामी विधानसभा सत्र के दौरान यह प्रस्ताव अनिवार्य रूप से पारित करने की मांग की। पार्टी की स्थापना के बाद संगठन के लिए विपरीत परिस्थितियों में काम करने वाले लोग उपेक्षित हैं। यही स्थिति रहने पर वे संगठन हित में शंखनाद यात्रा शुरू करेंगे।

Source: 
Vision News Service

Related News