यौन उत्पीड़न के आरोप में फंसे बर्खास्त एआईजी संजय शर्मा की हुई बहाली, तीन वेतनवृद्धि रोके जाने की सजा के साथ सरकार ने वापसी का रास्ता किया साफ

यौन उत्पीड़न के आरोप में फंसे बर्खास्त एआईजी संजय शर्मा की हुई बहाली,

छत्तीसगढ़ सरकार ने बर्खास्त एआईजी संजय शर्मा को बहाल कर दिया है. मंत्रीमंडलीय उप समिति की रिपोर्ट के बाद रमन मंत्रीमंडल ने तीन वेतनवृद्धि रोके जाने की सजा के साथ यह बहाली की गई है. गौरतलब है कि पुलिस मुख्यालय की लिफ्ट में एएसआई से छेड़छाड़ के मामले में फंसे शर्मा को उस वक्त सरकार ने बर्खास्त कर दिया था, जब उन पर लगे आरोप की जांच कर रही कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में आरोपों को प्रमाणित कर कार्रवाई किए जाने की सिफारिश की थी.
सरकार की ओर से की गई कार्रवाई के विरोध में संजय शर्मा ने राज्यपाल को पत्र लिखकर पूरे मामले में सहानुभूतिपूर्वक विचार करने की अपील की थी. इस अपील के बाद यह पूरा मामला रमन मंत्रीमंडल में पेश किया गया था, जिसके बाद मंत्री प्रेमप्रकाश पांडेय की अध्यक्षता में मंत्रीमंडलीय उप समिति बनाई गई थी. इस समिति में अजय चंद्राकर और रमशीला साहू को सदस्य बनाया गया था. पिछले साल उप समिति की तीन बैठकें हुई थी.
मंत्रीमंडल की उप समिति की पहली बैठक में सदस्य रमशीला साहू ने बहाली किए जाने की सिफारिश पर यह कहते हुए विरोध किया था कि वर्दी पहनने वालों को वर्दी की गरिमा का ख्याल रखना चाहिए. ऐसे संवेदनशील मामलों पर यदि राहत दी गई तो इससे सरकार की छवि पर बुरा असर पड़ सकता है. सोमवार को हुई रमन मंत्रीमंडल की बैठक में संजय शर्मा की बहाली को लेकर मंत्रीमंडलीय उप समिति की रिपोर्ट रखे जाने का कोई एजेंडा नहीं था. लेकिन इसे पृथक एजेंडे के रूप में पेश किया गया.

Source: 
lalluram.com

Related News