राहुल गांधी का PM मोदी पर बड़ा हमला, कहा- नोटबंदी पर क्यों नहीं बोले मोदी? अगर बोलते, तो जनता उन्हें भगा देती

राहुल गांधी का PM मोदी पर बड़ा हमला, कहा- नोटबंदी पर क्यों नहीं बोले मोदी? अगर बोलते, तो जनता उन्हें भगा देती
राहुल गांधी का PM मोदी पर बड़ा हमला, कहा- नोटबंदी पर क्यों नहीं बोले मोदी? अगर बोलते, तो जनता उन्हें भगा देती
राहुल गांधी का PM मोदी पर बड़ा हमला, कहा- नोटबंदी पर क्यों नहीं बोले मोदी? अगर बोलते, तो जनता उन्हें भगा देती

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रदेश में चुनाव प्रचार करते हुए डोंगरगढ़ की रैली में एक तरह से पार्टी का चुनावी घोषणा पत्र प्रस्तुत कर दिया. राहुल गांधी ने किसानों के लिए धान का समर्थन मूल्य 2500 रुपए करने के अलावा युवाओं के रोजगार के लिए रिक्त सरकारी पदों पर शीघ्र नियुक्ति की बात कही.

अपने दो दिवसीय प्रवास के पहले दिन शुक्रवार को पखांजुर और छुईखदान के बाद डोंगरगढ़ में चुनावी सभा को संबोधित किया. इस अवसर पर जुटे लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने केंद्र के साथ-साथ राज्य नेतृत्व को भी घेरने का प्रयास किया. उन्होंने केंद्र सरकार के 15-20 उद्योगपतियों के लिए कर्ज माफी की बात कहते हुए कहा कि किसानों की कर्ज माफी के बाद भी किसी किसान का कर्ज माफ नहीं हुआ.

मोदी नोटबंदी पर बोलते तो भगा देती जनता
राहुल गांधी ने अपनी सभा में मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि नोटबंदी के बाद आम लोगों ने बैंक में कतार लगाई, लेकिन क्या अनिल अंबानी, नीरव मोदी, ललित मोदी या मेहुल चौकसे ने लाइन लगाई? नोटबंदी के दो साल बाद आज नरेंद्र मोदी नोटबंदी पर कुछ भी कहने से बच रहे हैं क्योंकि उन्हें मालूम है कि वे नोटबंदी पर बोलेगे तो जनता उन्हें भगा देगी. देश के 2 करोड़ युवाओं को रोजगार देने की बात कहते थे लेकिन आज किसी युवा को क्यो रोजगार मिला है. डॉ. रमन सिंह के बेटे का जिक्र करते हुए कहा कि पाकिस्तान में पनामा पेपर्स में नाम आने पर प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को जेल हो गई, यहां कोई कार्रवाई नहीं होती. हमारी सरकार आएगी तो जिसने भी भ्रष्टाचार किया है, चाहे वह दिल्ली में या छत्तीसगड़ में जेल जाएगा.

कर्ज माफी के साथ 2500 रु क्विंटल पर होगी धान खरीदी
राहुल गांधी ने कांग्रेस की सरकार आने पर सभी किसानों का कर्ज माफ करने, 2500 रुपए के न्यूनतम समर्थन मूल्य पर किसानों से धान खरीदी के साथ-साथ बोनस भी देने की बात कही. इसके अलावा रमन सरकार द्वारा जिन दो सालों का बोनस नहीं दिया गया है, उसे भी देने की बात कही. इसके अलावा प्रति किसान 15 क्विंटल धान खरीदी के लिमिट को खत्म करने की घोषणा की. इसके अलावा प्रत्येक जिले में एक-एक फूड प्रोसेसिंग यूनिट लगाने की बात कही, जहां किसानों के बच्चों को रोजगार मिलेगा.

रिक्त सरकारी पदों पर होगी प्रदेश के युवाओं की भर्ती
राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 2 करोड़ युवाओं को रोजगार देने की बात का जिक्र करते हुए लोगों से पूछा क्या किसी युवा को रोजगार मिला है. उन्होंने शिक्षा और स्वास्थ्य पर ध्यान देने की बात कहते हुए कहा कि स्कूलों में रिक्त शिक्षकों के पद के अलावा सरकारी अस्पताल में रिक्त पदों पर भी जल्द से जल्द भर्ती की जाएगी. इसके लिए कोई आउटसोर्सिंग नहीं बल्कि प्रदेश से ही भर्ती की जाएगी. इससे आम लोगों को गुणवत्ता वाली शिक्षा के साथ-साथ स्वास्थ्य सेवा मिलेगी, जिससे उन्हें निजी संस्थानों में नहीं जाना पड़ेगा.

मंच पर मौजूद रहे सतनामी समाज के धर्मगुरु
राहुल गांधी को डोंगरगढ़ में हुई सभा में सतनामी समाज के धर्मगुरु बालदास भी मौजूद रहे. सभा के दौरान राहुल गांधी ने धर्मगुरु को गले लगाते हुए जनता का अभिवादन किया. सभा के दौरान कांग्रेस के छग प्रभारी पीएल पुनिया, प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल, सांसद ताम्रध्वज साहू और नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव भी मौजूद रहे.

Source: 
lalluram.com

Related News