रेलवे स्टेशन में बम की अफवाह से मचा हड़कंप

rajnand gaon station-1.jpg

छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव रेलवे स्टेशन में शुक्रवार की सुबह बम मिलने की खबर आग की तरह फैली। आनन-फानन में राजनांदगांव जीआरपी के साथ जिला पुलिस बलकी टीम स्टेशन में पहुंची। बीडीएस की टीम भी साथ थी। यात्रियों को बम रखी जगह से दूर कर दिया गया। बम की तस्दीक की गई तो वह बम नहीं बल्कि ऑटो पार्टस निकला, जिसे किसी ने वहां छोड़ दिया था। वायर लपटे होने के कारण लोगों ने उसे बम समझ लिया । घटना शुक्रवार सुबह 9 बजे स्टेशन के दिव्यांग टिकिट बुकिंग काउंटर के पास की है।
00 क्या था पूरा मामला ;
राजनांदगांव एसपी प्रशांत अग्रवाल ने वीएनएस को बताया कि, सुबह 9 से 10 बजे के मध्य सूचना मिली की राजनांदगांव रेलवे स्टेशन में बम देखा गया है। पुलिस के आलाधिकारी बीडीएस टीम के साथ मौके पर पहुंचे। आस-पास से सभी यात्रियों और भीड़ को दूर भेजा गया। सामने एक लोहे का बॉक्स रखा मिला, जिसमें वायर लपेटा गया था। बम स्क्वाड ने बड़ी सतर्कता से वायर को हटाया तो माजरा समझते देर नहीं लगी। दरअसल वह ऑटो पार्टस निकला। चुंकि राजनांदगांव में नक्सलियों ने अपनी पैठ जमानी शुरू की है तो इस अफवाह को नजर अंदाज भी नहीं किया जा सकता था, लिहाजा सतर्कता से जांच की गई। एसपी का कहना है कि, किसी शरारती तत्वों की यह हरकत हो सकती है या फिर किसी का सामान गिर गया होगा। मामले की जांच की जा रही है। पुलिस स्टेशन परिसर में लगे सीसीटीव कैमरों के फुटेज खंगालकर आरोपी की तलाश में पुलिस जुटी है।
मुंबई-हावड़ा मुख्य रेलवे लाइन के छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव शहर रेलवे स्टेशन में शुक्रवार सुबह प्रतिदिन के अनुसार राजनांदगांव रेलवे स्टेशन में लोगों की बड़ी संख्या में आवाजाही नियमित रूप से चल रही थी। तभी स्टेशन परिसर के दिव्यांग टिकिट काउंटर के पास यात्रियों ने वायर लपटी अंडाकर चीज को देखा। यात्रियों ने पास जाकर देखा तो उस वस्तु की स्थिति बम की तरह लग रही थी। यात्रियों ने इसकी सूचना तत्काल स्टेशन पर मौजूद जीआरपी को दी। जीआरपी की टीम ने मौके पर पहुंचकर यथा स्थिति का मुआयना कर इसकी सूचना राजनांदगांव कोतीवानी पुलिस थाने को दी। पुलिस के आला अधिकारियों ने बम निरोधक दस्ते के साथ रेलवे स्टेशन परिसर पहुंचकर बम जैसी दिखने वाली वस्तु को टिकिट कांउटर से हटाकर सीढ़ी के पास रखा ताकि उससे स्टेशन परिसर और यात्रियों को किसी प्रकार को कोई नुकसान न हो पाए। सीढ़ी के पास रखने के बाद बीडीएस स्काट ने तमाम सुरक्षा संबंधी उपकरणों का उपयोग करते हुए राजनांदगांव पुलिस लाइन मैदान की ओर दौड़ लगाई।

Source: 
visionnewsservice.in

Related News