विधायक ने शिक्षक की व्यवस्था करने एसडीएम को दिया निर्देश

विधायक ने शिक्षक की व्यवस्था करने एसडीएम को दिया निर्देश

गत दिवस ग्राम बागुर में आयोजित मंडई मेला में विभिन्न लोकार्पण एवं भूमिपूजन कार्यक्रम में पहुँचे क्षेत्र के नवनिर्वाचित विधायक देवव्रत सिंह का ग्रामीणों ने स्वागत किया। ग्राम के सरहद पर पहुँचते ही गांववालों ने अपने विधायक के स्वागत के लिए फूलों की वर्षा की। राऊत नाचा और बाजा गांजा के साथ महावीर चौक पहुँचे, जहां पर नवनिर्वाचित विधायक श्री सिंह ने महावीर मंच का लोकर्पण कर पूजा-अर्चना किया। ग्रामीणों ने विधायक को नागरिक सम्मान से नवाजा गया। उसके बाद ग्राम भ्रमण करते हुये कार्यक्रम स्थल पहुँचे, जहाँ पर प्राचार्य ने रसायन की शिक्षक नहीं होने के कारण पढ़ाई कार्य ठप होने की बात रखा गया है। जिस पर अमल करते हुए विधायक श्री सिंह ने तत्काल इस विषय की शिक्षक की व्यवस्था करने के लिये फोन के माध्यम से ही एसडीएम गंडई को निर्देश दिया गया। वहीं ग्यारवी व बारहवीं के छात्रों के लिए प्रेक्टिकल सामान के लिये 20 हजार रुपए की राशि देने की घोषणा विधायक की ओर से की गई। ग्रामीणों की मांग पर वार्ड नंबर 14 में सुरही नदी में सिंचाई के लिए स्टाफ डेम का निर्माण और बागुर से बिरनपुर को जोडऩे वाली नदी पर पुलिया निर्माण की मांग किये गए। साथ ही भुरभुसी में उप संग्रहण केंद्र खोलने की मांग किया गया। जिस पर विधायक ने मांग को अतिशीघ्र पूरा करने का आश्वासन क्षेत्रवासियों को दिया है। वहीं आगे श्री सिंह ने किसी सरकारी कर्मचारी की ओर से रिश्वत मांगने की शिकायत और गांव की विकास को लेकर आवेदन न करके सीधे फोन से बात करने व मेसेज के माध्यम से सूचना देने की बात की है। बीजेपी सरकार की 15 साल की कार्यकाल को कटाक्ष करते हुए अपने उद्बोधन में कहा कि बड़े-बड़े बिल्डिंग और सड़क निर्माण से ही विकास नहीं हो सकता। विकास के लिये किसानों को दो फसल के लिये पर्याप्त पानी मिलना चाहिये। तभी किसानों व प्रदेश वासियों का विकास होगा।
अपने ऐतिहासिक विजय के बाद पहली बार ग्राम बागुर पहुँचे देवव्रत सिंह को अध्यक्ष सेवा सहकारी समिति हनइबंद के नेतृत्व में ग्राम वासियों की ओर से 78 किलो मोती चूर के लड्डू से तौला गया। इस कार्यक्रम में विशेष रूप से विधायक सिंह के साथ जिला पंचायत सदस्य रेणुका हिरवानी, जनपद सदस्य संजू चंदेल, सरपंच संघ के अध्यक्ष रंजीत चंदेल, सरपंच पति भाईलाल कुर्रे, सरपंच अमरौतिन कुर्रे, विनोद ताम्रकार, बल्ला जंघेल, हेमंत वैष्णव, भूषणमणी झा, भिगेश यादव, रवि रजक, निशार खान, निप्पू रजक, सतीश जांगडे, सहित ग्रामवासी व शिक्षकगण उपस्थित थे।
एसडीएम गंडई हेमंत मत्स्यपाल का कहना है कि हाई सेकेंडरी स्कूल बागुर में रसायन के शिक्षक नहीं होने को लेकर विधायक का फोन आया था। जिसके लिए टीचर की व्यस्था दुरुस्त करने की व्यवस्था बनाई जा रही है।

Source: 
visionnewsservice.in

Related News