सब स्टेशन ऑपरेटरों ने काम में वापस रखने की लगाई गुहार

सब स्टेशन ऑपरेटरों ने काम में वापस रखने की लगाई गुहार

सीएसपीडीएसएल के अंतर्गत 33/11 सब स्टेशन में पिछले 5 से 10 वर्षों से कार्यरत कर्मचारियों को नई कंपनी प्राइम वन आउट सोसिंग भर्ती से बाहर कर दिया गया। जबकि वे कंपनी की ओर से निर्धारित आईटीआई की पढ़ाई कर रहे हैं। महज 6 माह का समय मंागा गया लेकिन इसके बावजूद निकाल दिया गया। इतने बरसों से काम करने के बाद नई कंपनी की ओर से निकाले जाने से परिवार का भरण पोषण की समस्या खड़ी हो गई।
कलेक्ट्रेट परिसर मेंं एक दर्जन से युवा हाथों में ज्ञापन थामे हुये पहुंचे। इन लोगों ने बताया कि 33/11 केवीके ऑपरेटर पद पर काम कर रहे थे। नई कंपनी प्राइम वन ने उन्हें नौकरी से निकाल दिया है। ऑपरेटर शारदा यादव ने बताया कि हम पिछले 5 से 10 वर्षों से इस क्षेत्र में ईमानदारी से साथ कार्य रहे थे। इस बीच आउट सोर्सिंग के तहत प्राइम वन कंपनी की ओर से आईटीआई की डिग्री नहीं होने का हवाला देते हुये एक झटके में बाहर का रास्ता दिखा दिया। जबकि हम ऑपरेटरों के पास वर्तमान में आईटीआई के दो सेमेस्टर का रिजल्ट है। मात्र 6 माह का समय कंपनी से मांगा गया, लेकिन इसकी परवाह किए बगैर निकाल दिया गया। इतने वर्षों से यहां पर काम करने से मिली राशि से परिवार का भरण पोषण हो रहा है। नौकरी के जाने से बाद परिवार के सामने बड़ी समस्या खड़ी हो गई। इस समस्या को लेकर कई अधिकारियों तक संपर्क कर चुके हैं। परंतु कोई सकारात्मक परिणाम नहीं आया। आज इस मामले में सभी ऑपरेटर पूर्व की भाति नौकरी में रखने और पढ़ाई के लिये 6 माह का समय की मंाग को लेकर कलेक्ट्रेट पहुंचे हैं।

Source: 
visionnewsservice.in

Related News