सुकमा जिले के 25 कृषक अंतर्राज्यीय प्रशिक्षण के लिए रवाना

सुकमा जिले के 25 कृषक अंतर्राज्यीय प्रशिक्षण के लिए रवाना

आंध्र प्रदेश के किसान उन्नत तकनीक से खेती कर रहे हैं। जिसका लाभ उन्हें अधिक उत्पादन के रूप में मिल रहा है। वहां के किसान मांग के अनुरूप कम लागत से अधिक पैदावार कर अच्छा मुनाफा कमा रहे हैं। उनकी खेती करने के तरीकों से अपना कर यहां के किसानों को भी प्रगतिशील किसान बनाने की दृष्टि से कृषि विभाग सुकमा की ओर से कृषि, उद्यानिकी, मत्स्यपालन और पशुपालन के क्षेत्र में अपनाई गई उन्नत तकनीकों की जानकारी के लिए जिले के 25 कृषकों को एक्सटेंशन रिफॉर्म्स (आत्मा) योजना अंतर्गत 10 दिवसीय अंतर्राज्यीय कृषक प्रशिक्षण सह शैक्षणिक भ्रमण के लिए आन्ध्रप्रदेश रवाना किया गया। प्रशिक्षण दल में कृषि विभाग के 9 कृषक, उद्यानिकी विभाग के 6 कृषक और मत्स्यपालन, पशुपालन विभाग के 5-5 महिला-पुरुष कृषकों को रवाना किया गया। उक्त प्रशिक्षण सह शैक्षणिक भ्रमण कार्यक्रम 6 से 15 जनवरी तक चलेगा। इस दौरान कृषकों को आन्ध्रप्रदेश के विभिन्न संस्थानों का भ्रमण कराया जाएगा। प्रशिक्षण भ्रमण के लिए जाने वाले किसानों को कृषि विभाग जिला सुकमा के उप संचालक राकेश जोशी की ओर से हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया गया। इस दौरान आत्मा योजना के डिप्टी प्रोजेक्ट डायरेक्टर सेवन दास खुंटे, ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी राजेन्द्र प्रसाद दरेन्द्र, ब्लाक टेक्नोलॉजी मैनेजर सुकमा, रोहित कुमार सलाम, ब्लाक टेक्नोलॉजी मैनेजर, छिन्दगढ़ रोशनी नेताम, असिस्टेंट टेक्नोलॉजी मैनेजर छिन्दगढ़ सुनीता भगत और सखाराम शोरी उपस्थित रहे।

Source: 
visionnewsservice.in

Related News