Health

Health News

सेंट्रल जेल में 17 कैदी हुए फूड पॉइज़निंग का शिकार, 1 की मौत

सेंट्रल जेल में 17 कैदी हुए फूड पॉइज़निंग का शिकार, 1 की मौत

सेंट्रल जेल के 17 कैदियों की तबीयत अचानक बिगड़ गई है. जिन्हें जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है. बताया जा रहा है कि इलाज के दौरान ही 1 कैदी की मौत भी हो गई है. जानकारी के मुताबिक यह घटना तकरीबन 12 बजे की बताई जा रही है. डॉक्टरों के मुताबिक ज्यादातर मरीज फूड पॉइज़निंग का शिकार हुए हैं. जबकि कुछ मरीजों को अलग-अलग समस्याएं हैं. चिकित्सकों ने बताया कि इन मरीजों में कुछ मरीजों में खून की भी भारी कमी है.

सरकारी कर्मचारियों और उनके परिवार के बेहतर इलाज के लिए 41 हॉस्पिटल को मिली मान्यता,

सरकारी कर्मचारियों और उनके परिवार के बेहतर इलाज के लिए 41 हॉस्पिटल को मिली मान्यता,

सरकारी कर्मचारियों के लिए एक अच्छी खबर है. राज्य शासन द्वारा सरकारी कर्मचारियों और उनके परिवार के आश्रित सदस्यों को राज्य में और राज्य के बाहर इलाज कराने के लिए 41 अस्पतालों को आगामी एक साल के लिए मान्यता दी गई है. इनमें रायपुर, बिलासपुर, धमतरी के प्राइवेट अस्पतालों सहित नई दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) भी शामिल हैं. साथ ही नागपुर, इंदौर व अन्य प्रतिष्ठित अस्पतालों को मान्यता दी गई है.

पिता के साथ साइकिल पर सवार बेटी की हुई सड़क हादसे में मौत, गुस्साये ग्रामीणों ने वाहन में लगाई आग, उसके बाद …

पिता के साथ साइकिल पर सवार बेटी की हुई सड़क हादसे में मौत, गुस्साये ग्रामीणों ने वाहन में लगाई आग, उसके बाद …

जिला मुख्यालय से महज 5 किमी दूर ग्राम कोलियारी के पास मंगलवार को एक हाईवा ने साइकिल सवार पिता और बेटी को अपनी चपेट में ले लिया. इस हादसे में 12 साल की बच्ची की मौके पर मौत हो गई. वही घटना के बाद गुस्साएं ग्रामीणों ने हाईवा को आग लगाकर चक्काजाम कर दिया.

हालांकि घटना के बाद मौके पर पहुंचकर फायर अमला ने आग पर काबू पा लिया. लेकिन इस बीच घटना स्थल पर काफी तनावपूर्ण माहौल बना रहा. इधर घटना की सूचना मिलने पर आला पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और मामले को शांत करने की कोशिश में जुटे रहे.

चित्रकोट में 200 से ज्यादा डॉक्टर जुटे, इलाज के साथ बस्तर पर चर्चा

आर्थोपेडिक एसोसिएशन की 17वीं राष्ट्रीय कांफ्रेंस की मेजबानी इस बार बस्तर कर रहा है। बस्तर ऑर्थोपेडिक्स एसोसिएशन के इस दो दिवसीय आयोजन की शुरुआत शनिवार को चित्रकोट में हुई। इसमें शामिल होने के लिए देश भर के अलग-अलग हास्पिटल में काम कर रहे 200 से ज्यादा डॉक्टर यहां पहुंचे हैं। डॉक्टरों की इस कांफ्रेंस का असर बस्तर के पर्यटन पर भी पड़ेगा। ऐसा माना जा रहा है कि, देश के अलग-अलग कोनों से आए डॉक्टर जब वापस लौटेंगे तो चित्रकोट और अन्य प्राकृतिक स्थानों की यादें दूसरो से भी साझा करेंगे और बस्तर की छवि नक्सलवाद के अलावा दूसरे रूप में भी प्रचारित होगी। उल्लेखनीय है कि दो दिन पहले ही 40 चुने हुए जवानों को

एड्स दिवस पर निकली जनजागरूकता रैली

प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी आज एक दिसंबर को विश्व एड्स दिवस के अवसर पर एड्स बिमारी से बचाव के बारे में लोगों को जागरूक करने रैली निकाली गई। यह जनजागरूकता रैली सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बीरगांव की ओर से रावांभाठा बस्ती, बाजार चौक, ट्रॉसपोर्ट नगर और उरला में की गई। रैली के माध्यम से लोगों को एड्स बीमारी और इससे बचाव के संबंध में जानकारी दी गई।
इस रैली में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. के.एस. शाडिल्य, डॉ. अविनाश चतुर्वेदी, डॉ. अंजना लाल सहित सभी आरएनटीसीपी और आईसीटीसी कर्मचारी, एएनएम और एनजीओ के कार्यकर्ता शामिल हुए।

सरकार ने कुपोषण दूर करने की दिशा में किया ऐतिहासिक कार्य:अभिषेक

छत्तीसगढ़ सरकार ने सार्वजनिक वितरण प्रणाली के माध्यम से कुपोषण दूर करने और सामाजिक बदलाव का बड़ा कार्य किया है ।यह बात सांसद अभिषेक सिंह ने मुंबई वर्कशॉप में कही। आईआईटी मुंबई में सपोर्ट टू इम्प्रूविंग न्यूट्रीशन लेवल इन छत्तीसगढ़ के विषय पर आयोजित वर्कशॉप को सम्बोधिन कर रहे थे । इसमें आईआईटी मुंबई के निदेशक, आइडिया सीएसआर प्रमुख, प्राध्यापकों और आईआईटी मुंबई के छात्रों के अलावा भी तमाम लोग मौजूद थे ।
00 पीडियस के चावल के बारे में भी बताया :

स्वच्छता बनाए रखने जन स्वास्थ्य विभाग की अपील

भिलाई इस्पात संयंत्र के नगर सेवाएं विभाग के अन्तर्गत जनस्वास्थ्य विभाग ने टाउनशिप के निवासियों से गीला कचरा और सूखा कचरा के पृथक एकत्रीकरण और उचित निष्पादन की अपील की है। प्रत्येक घरों से दो प्रकार का कूड़ा निकलता है। पहला, गीला जिसमें फलों के छिलके, कटी सब्जियां, बचा हुआ खाना आदि होते हैं और दूसरा, सूखे कचरे में पॉलीथिन, कागज, पेकिंग मटेरियल आदि होते हैं। यदि गीला और सूखा कूड़ा संसाधन पर ही अलग-अलग कर दिया जाए तो गीले कचरे से खाद बनाई जा सकती हैं वहीं सूखे कचरे को रिसाइकल करके उपयोगी वस्तुएं बनाई जा सकती है। ऐसा करके हम कचरों के कारण पर्यावरण पर पडऩे वाले दुष्प्रभाव को कम कर सकते हैं और कचरो

घायल कर्मी ने की क्षतिपूर्ति की मांग, आवेदन सौंपा

घायल कर्मी ने की क्षतिपूर्ति की मांग, आवेदन सौंपा

एनएमडीसी नगरनार स्टील प्लांट निर्माण कार्य में लगे कंपनी नेस्टी कंपनी में कार्य करते हुए घायल अमित कुमार माणिकपुरी ने कलेक्टर से मुलाकात कर क्षतिपूर्ति राशि दिलाने की मांग करते हुए आवेदन सौंपा।

स्वास्थ्य अमले ने यूजर चार्ज की वसूली की

 स्वास्थ्य अमले ने यूजर चार्ज की वसूली की

जोन 7 के स्वास्थ्य विभाग अमले ने सफाई मित्रों की सहायता से स्वच्छ भारत मिशन के तहत जोन के होटलों से यूजर चार्ज की वसूली की। पंडित जवाहर लाल नेहरू वार्ड क्रमांक 37 में आने वाले होटल होटल मंजू ममता से 5 हजार रुपए, मोती स्वीट्स दुकान के संचालक से 3 हजार और जोन के मौलाना अब्दुल रउफ वार्ड क्रमांक 41 के होटल सिटी स्टार प्रबंधन से 10 हजार, किरण स्वीट्स के संचालक से 8 हजार रुपए वसूल किये। प्रतिदिन नियमित माह भर डोर टू डोर कचरा कलेक्शन की व्यवस्था देने के बाद 4 संस्थानों के संचालकों से 26 हजार रुपए के मासिक यूजर चार्ज की वसूली की।

लहरौद में हुआ बांझपन निदान शिविर

प्राथमिक पशु चिकित्सा विभाग पिथौरा की ओर से ग्राम लहरौद में पशु बांझपन निदान और बधियाकरण शिविर हुआ। शिविर डॉ. डीडी झरिया, उप संचालक पशु चिकित्सा सेवा महासमुंद के मार्गदर्शन और डॉ. डीके अग्रवाल के निर्देशन में हुआ। शिविर में 5 बांझपन, 1 गाय का कृत्रिम गर्भाधान और 29 पशुओं का उपचार और 6 नाटो का बधियाकरण और 17 औषधि बांटा गया, जिसमें 18 पशुपालक लाभान्वित हुए। शिविर में डॉ.

Related News